मुंबई : महिला बाइकर जागृति होगले गड्डे से तो बच गईं लेकिन ट्रक ने रौंद डाला... ऐसे हुआ यह हादसा

पुलिस ने बताया, उनके दोस्त उस दौरान उनसे ज़रा ही पीछे मोटरसाइकिल पर ही थे. जब तक वह उस तक पहुंचते, उनकी मृत्यु हो चुकी थी.

मुंबई : महिला बाइकर जागृति होगले गड्डे से तो बच गईं लेकिन ट्रक ने रौंद डाला... ऐसे हुआ यह हादसा

मुंबई : महिला बाइकर गड्डे से तो बच गईं लेकिन ट्रक ने रौंद डाला... (File Photo)

खास बातें

  • मुंबई हाई-वे पर गड्डे से बचने की कोशिश में महिला बाइकर की मौत
  • जागृति नामक महिला बाइकर की ट्रक से कुचलकर मौत
  • तेज बारिश में गड्डा नहीं दिखा था, जैसे ही मुड़ीं, गिर गईं
मुंबई:

मुंबई में हाई-वे पर बाइक दौड़ाती एक महिला बाइकर की मौत उस समय हो गई जब सड़के पर बने गड्डे से बचने के लिए उन्होंने टर्न लिया और वह यकायक एक ट्रक के सामने आ गईं. इस दर्दनाक हादसे में वह ट्रक से कुलची गईं. पुलिस के मुताबिक, 34 साल की जागृति विराज होगले महिला बाइकर्स क्लब की सदस्य थीं और वीकेंड पर बाहर जा रही थीं. 

यह भी पढ़ें- मुंबई में हाईटाइड, 4.2 मीटर तक उठी लहरें

रविवार को सुबह 9 बजे जागृति होगले और उनके दोस्त बांद्रा से जवहार जा रहे थे और इसी बीच उन्होंने एक ट्रक को ओवरटेक करने की कोशिश की. तेज बारिश के बीच जागृति सड़क के बीचोंबीच बने उस गड्डे को आखिरी मिनट तक देख नहीं पाईं और जैसे ही उन्होंने इस गड्डे से गाड़ी गुजरने से बचाने की कोशिश की, वह बाइक से सड़क पर आ गिरीं. पुलिस का कहना है कि वह उस ओर से आ रहे ट्रक को ओवरटेक करने की कोशिश करते हुए कुचली गईं. 

यह भी पढ़ें- मुंबई और गुजरात सहित देश के कई हिस्सों में भारी बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त

पुलिस ने बताया, उनके दोस्त उस दौरान उनसे ज़रा ही पीछे मोटरसाइकिल पर ही थे. जब तक वह उस तक पहुंचते, उनकी मृत्यु हो चुकी थी. यह हादसा मुंबई से करीब पालघर जिले के वेटी गांव के पास हुआ.

यह भी पढ़ें- चेम्‍बूर में नारियल का पेड़ गिरने से बुरी तरह जख्‍मी हुई महिला की अस्‍पताल में मौत

 
mumbai biker jagruti viraj hogale

 

यह हादसा ऐसे समय पर हुआ है जब पहले से ही मुंबई में सड़कों के गड्डों को लेकर हंगामा मचा हुआ है और बीएमसी व शिवसेना कॉरपोरेटर्स रेडियो जॉकी मलिश्का के इन गड्डों को लेकर बनाए गए पैरोडी वीडियो के वायरल हो जाने से गुस्साए हुए हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इनपुट : अनुराग द्वारी से भी