NIA अदालत ने विवादास्पद इस्लामी प्रचारक जाकिर नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया

NIA अदालत ने विवादास्पद इस्लामी प्रचारक जाकिर नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया

एनआईए ने जाकिर नाइक के खिलाफ गत वर्ष गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) कानून के तहत एक मामला दर्ज किया था. (फाइल फोटो)

मुंबई:

मुंबई की एक विशेष एनआईए अदालत ने विवादास्पद इस्लामी प्रचारक जाकिर नाइक के खिलाफ गुरुवार को एक गैर जमानती वारंट जारी किया जोकि एक आतंकवादी मामले में कथित भूमिका के लिए एनआईए द्वारा वांछित है.

एनआईए ने नाइक के खिलाफ गत वर्ष गैर कानूनी गतिविधि (रोकथाम) कानून के तहत एक मामला दर्ज किया था.

एनआईए ने अदालत को बताया कि तीन समन जारी होने के बावजूद नाइक उसके समक्ष पेश नहीं हुआ और उसे वापस भारत लाने के लिए उसे इंटरपोल की मदद की जरूरत होगी.

विशेष न्यायाधीश वीवी पाटिल ने कहा, 'नाइक के खिलाफ गैर जमानती वारंटी जारी किया जाए'. गत सप्ताह शहर की एक अन्य अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय की ओर से नाइक के खिलाफ दर्ज धनशोधन के एक मामले में उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. प्रवर्तन निदेशालय के वकील ने कहा था कि माना जाता है कि नाइक संयुक्त अरब अमीरात में है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

51 वर्षीय नाइक गत वर्ष तब गिरफ्तारी से बचने के लिए भारत छोड़कर चला गया था जब ढाका आतंकवादी हमले के कुछ हमलावरों ने दावा किया था कि वे नाइक से प्रेरित थे.

ढाका हमले के बाद एनआईए ने नाइक और उसके संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के कुछ पदाधिकारियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153 ए और यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया था. (इनपुट भाषा से)