NDTV Khabar

सोशल नेटवर्किंग साइट पर दोस्‍ती कर मिलने के बहाने लूटने वाले 3 शातिर चढ़े पुलिस के हत्‍थे

मुंबई पुलिस के प्रॉपर्टी सेल ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर फर्जी प्रोफाइल बना कर अनजान लोगों से दोस्ती गांठते फिर उनके बारे में जानकारी इकट्ठा करते और फिर जब पता चलता कि शिकार पैसे वाला है, तब उसे मिलने के बहाने बुलाकर लूट लेते.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सोशल नेटवर्किंग साइट पर दोस्‍ती कर मिलने के बहाने लूटने वाले 3 शातिर चढ़े पुलिस के हत्‍थे

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

मुंबई: सोशल साइट लोगों से जुड़ने का एक प्रभावी माध्यम है. यही वजह है कि लोग अक्सर अनजान लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट भी बिना कुछ सोचे समझे स्वीकार कर लेते हैं. लेकिन बाद में उसकी कितनी कीमत चुकानी पड़ सकती है इसका नमूना मुंबई में देखने को मिला. मुंबई पुलिस के प्रॉपर्टी सेल ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर फर्जी प्रोफाइल बना कर अनजान लोगों से दोस्ती गांठते फिर उनके बारे में जानकारी इकट्ठा करते और फिर जब पता चलता कि शिकार पैसे वाला है, तब उसे मिलने के बहाने बुलाकर लूट लेते. गिरफ्तार आरोपियों के नाम जब्बार खान, सलमान शेख और शेख शाह शमशुद्दीन है.

टिप्पणियां
प्रॉपर्टी सेल के इंस्‍पेक्‍टर रहिमुतुल्लाह सैयद ने बताया कि ये तीनों सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर लड़की के नाम का फर्जी अकाउंट बनाते थे, फिर पर दूसरों की प्रोफाइल पढ़कर ऐसे शख्स को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते थे जो बड़ा आसामी हो. एकबार फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट हो जाने के बाद बातचीत का सिलसिला आगे बढ़ाते और फिर मिलने के लिए अकेले सुनसान जगह पर बुलाकर लूट लिया करते थे.

आरोप है कि तीनों आरोपियों ने  ऐसे ही एक शख्स से करीब 6 लाख रुपये लूट लिए. इस गैंग में इनके अलावा भी कुछ लोग शामिल हैं जिनकी तलाश जारी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement