NDTV Khabar

मुंबई में फुट ओवरब्रिज की मरम्मत के लिए आगे आए सचिन तेंदुलकर, दिए दो करोड़ रुपये

29 सितंबर को बारिश के दौरान एलफिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय स्टेशनों को जोड़ने वाले एक फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ में 23 लोगों की मौत हो गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई में फुट ओवरब्रिज की मरम्मत के लिए आगे आए सचिन तेंदुलकर, दिए दो करोड़ रुपये

सचिन तेंदुलकर ने रेल मंत्री को लिखे पत्र में फुट ओवरब्रिज की मरम्मत के बारे में जानकारी दी है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. 29 सितंबर को बारिश के दौरान हुआ था मुंबई में हादसा
  2. हादसे में 23 लोगों की मौत और कई दर्जन घायल हुए थे
  3. सांसदों को हर साल पांच करोड़ की राशि आवंटित की जाती है
मुंबई: एलफिंस्टन रोड स्टेशन फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ की दर्दनाक घटना के बाद क्रिकेटर और राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर ने अपने सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना से दो करोड़ रुपये मुंबई में रेल फुट ओवरब्रिजों की मरम्मत के लिए दिए है. तेंदुलकर ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को एक खत में कहा है कि वह मुंबई उपनगरीय जिला कलेक्टर से निर्माण के लिए दो करोड़ रुपये की राशि रखने के लिए कहा है. 

बता दें कि 29 सितंबर को भारी बारिश के दौरान एलफिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय स्टेशनों को जोड़ने वाले एक संकीर्ण फुट ओवरब्रिज पर मची भगदड़ में 23 लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना के बाद सरकार ने फुट ओवरब्रिजों की मरम्मत के लिए नए आदेश जारी किए थे. इसी क्रम में क्रिकेटर सचिन भी आगे आए हैं.

पढ़ें:  मुंबई : यहां जान जोखिम में डालकर पटरी पर चलने को मजबूर हैं लोग

तेंदुलकर ने रेल मंत्री को लिखे खत में लिखा है कि पश्चिमी रेलवे और मध्य रेलवे को एक-एक करोड़ रुपये की राशि उनकी एमपीएलएडीएस निधि से रेलवे फुट ओवर ब्रिज के तत्काल मरम्मत के लिए आवंटित की जाएगी. 

तेंदुलकर ने लिखा है, ' हाल ही में पश्चिमी रेलवे के एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर हुई भगदड़ की घटना में निर्दोष लोगों की मौत हुई जो कि काफी दिल दुखाने वाला था और मैं मुंबई के लोगों के लिए इस सेवा में सुधार के लिए तत्काल मदद देता हूं.' 

VIDEO: मुंबई का पुल हादसा: फूल गिरा न कि पुल गिरा
उन्होंने पत्र में लिखा कि हादसे में प्रभावित लोगों के परिवार के लिए यह दिवाली खुशियों वाली नहीं थी. भारत के किसी क्षेत्र में ऐसा न हो इसे सुनिश्चित करने के लिए भारत के जिम्मेदार नागरिक के तौर पर हम वह सभी कुछ करेंगे जो कर सकते हैं. खिलाड़ी ने कहा है कि उन्होंने रेल मंत्री, रेल बोर्ड और जोन के प्रमुखों को उपनगरीय सेवाओं के लिए अलग स्वतंत्र रूप से दो जो जोन बनाने की संभावना का अध्ययन करने को कहा है. 

टिप्पणियां
प्रत्येक साल सांसदों को एमपीएलएडी योजना के तहत पांच करोड़ की राशि आवंटित की जाती है. यह राशि मुख्य तौर पर सांसदों को अपने क्षेत्र में निर्माण कार्य कराने के लिए दिया जाता है.

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement