Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भगदड़, 22 की मौत, अधिकतर घायल खतरे से बाहर

रेलवे के डीजी पीआर ए सक्सेना ने बताया कि अचानक बारिश की वजह से लोग स्टेशन पर ही इंतजार कर रहे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भगदड़, 22 की मौत, अधिकतर घायल खतरे से बाहर

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर ज्यादा भीड़ की वजह से भगदड़...

खास बातें

  1. मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन के फुट ओवर ब्रिज पर भगदड़
  2. इसके चलते कई लोगों की मौत, कई गंभीर रूप से घायल
  3. यह हादसा सुबह 10 बजकर 45 मिनट पर हुआ
मुंबई:

मुंबई में परेल-एलफिंस्टन स्टेशन के पास बने पुल पर ज्यादा भीड़ की वजह से भगदड़ मच गई जिससे एक बड़ा हादसा हो गया. शुक्रवार सुबह 10 बजकर 45 मिनट के करीब यह हादसा हुआ. हादसे में कम से कम 22 लोगों की मौत हो गयी जबकि 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए. बताया जा रहा है कि इस पुल पर बढ़ते बोझ की शिकायत पुरानी थी और ये अंदेशा भी कि कोई हादसा हो सकता है. शुक्रवार को भारी बारिश के बीच भीड़ एक साथ आई और भगदड़ मच गई. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि यह हादसा सुबह दस बजकर करीब चालीस मिनट पर हुआ. उस वक्त भारी बारिश हो रही थी और फुटओवर ब्रिज पर खासी भीड़ थी. यह पुल एल्फिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय रेलवे स्टेशनों को जोड़ता है. बारिश से बचने के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए थे. लाखों लोग क्षेत्र में स्थित कार्पोरेट और मीडिया कार्यालयों के साथ ही व्यावसायिक केंद्रों तक पहुंचने के लिए इस पुल का उपयोग करते हैं.

बड़ी संख्या में लोग सीढ़ियों और दशकों पुराने इस संकरे पुल पर फंस गए. इससे कई लोगों की मौत दम घुटने के कारण हो गयी. नीचे प्लेटफार्म पर खड़े लोग बेबस होकर हादसा देख रहे थे. कई लोगों ने रेलिंग पर चढ़कर अपनी जान बचाने का प्रयास किया.


इस रास्ते पर वर्षों से यात्रा कर रहे किशोर ठक्कर ने कहा कि उस समय भारी बारिश हो रही थी और लोग जल्दी से पुल से उतरने का प्रयास कर रहे थे. वहीं ट्रेनों से उतरने वाले यात्री पुल पर चढ़ने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने कहा, ‘‘हमने छह महीने पहले ही रेलवे प्रशासन को एक पत्र सौंपकर यहां की खराब स्थिति को सुधारने के लिए कुछ कदम उठाने का अनुरोध किया था.’’

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हादसे पर शोक जताते हुए मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं. मृतकों के परिजनों के लिए 10-10 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की गयी है. रेल मंत्री पीयूष गोयल और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने पांच-पांच लाख रुपये की मुआवजा राशि की घोषणा की है.

देखें वीडियो-  एलफिंस्टन स्टेशन के पर हुए हादसे पर एनडीटीवी की ग्राउंड रिपोर्ट

रेल मंत्री ने किया मुआवजे का ऐलान, जांच के आदेश दिए
हादसे को लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने ट्वीट किया है, अभी मुंबई पहुंचा हूं. एल्फिंस्टन रोड फुटओवर ब्रिज पर मची दुर्भाग्यपूर्ण भगदड़ में मासूम जिंदगियों के नुकसान से शोक संतप्त हूं. उन्होंने लिखा है, शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं. मैं घायलों के जल्दी स्वस्थ्य होने की प्रार्थना करता हूं. रेल मंत्री ने मृतकों के परिजन को पांच लाख रुपये, गंभीर रूप से घालयों को एक लाख रुपये और अन्य घायलों को 50,000 रुपये सहायता राशि देने की घोषणा की.

सालों से ब्रिज बनाने की उठ रही थी मांग, पर रेलवे ने सिर्फ बदला 'एलफिंस्‍टन' का नाम

एएनआई के ट्वीट के मुताबिक,  रेलवे के डीजी पीआर ए सक्सेना ने बताया कि अचानक बारिश की वजह से लोग स्टेशन पर ही इंतजार कर रहे थे. जब बारिश रुकी तब लोगों में अफरातफरी मच गई और भगदड़ हो गई. वहीं मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मृतकों को 5 लाख रुपये देने का ऐलान किया है.

PHOTOS: एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर एक के ऊपर एक गिरी थी लाशें, पर्स-मोबाइल सब गिरा पड़ा था

हेल्पलाइन नंबर : 
केईएम हॉस्पिटल: 022-24107000
मुंबई रेलवे कंट्रोल रूम: 022-23081725
 

mumbai
(भीड़ की वजह से मची भगदड़)

पीएम मोदी दहले, संवेदनाएं जताईं और बताया- पीयूष गोयल मुंबई पहुंच चुके हैं...

गुस्साए यात्रियों और आस पास के लोगों ने कहा, यह तो होना ही था
हादसे गुस्साए यात्रियों और आस पास के लोगों ने कहा कि यह पुल काफी पुराना है और यह काफी संकरा है. यह इतना मजबूत नहीं था कि काफी सारे लोगों को एक साथ संभाल सके. एक स्थानीय आदमी ने कहा कि हादसा कभी भी हो सकता था, इसकी आशंका पहले से थी. लोगों का कहना है कि और पुल बनाए जाने के लिए कई बार मांग की जा चुकी थी.

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन की भगदड़ देख याद आया इलाहबाद हादसा, ऐसा था मंजर

एक महिला ने कहा कि कोई और चारा नहीं था और हमें यही ब्रिज इस्तेमाल करना पड़ता था. हमारी कोई नहीं सुनता और यह हमेशा से ही ऐसा रहा है. 

 
636422842426313728.
(भगदड़ के बाद का एक दृश्य...)

विजुअल्स में देखा जा सकता है कि लोग जमीन पर गिर गए हैं. कुछ तो हिल भी नहीं पा रहे हैं. लोग उन्हें पानी और फर्स्ट एड देकर सामान्य करने की कोशिश कर रहे हैं. विजुलअल्स में देखा जा सकता है कि लोग घायलों को पुल से नीचे लेकर जा रहे हैं.

एक लड़की ब्रिज पर फिसली और सब गिरते चले गए, दर्दनाक तस्वीरें

VIDEO: मुंबई एलफिंस्टन स्टेशन पर भगदड़ 

टिप्पणियां

बारिश की वजह से लोगों ने रेलवे ब्रिज पर शरण ले रखी थी जिस वक्त यह हादसा हुआ. यह हादसा सुबह 10 बजकर 45 मिनट पर हुआ. यह वह वक्त होता है जब लोअर परेल और एलफिंस्टन स्टेशनों पर काफी भीड़ होती है. न्यूज एजेंसी जीआरपी कमिश्नर निकेत कौशिक के मुताबिक, 20 लोगों को गंभीर रूप से चोटें आई हैं. कई अन्य को मामूली चोटें आई हैं.

कमाल मिल्स कंपाउड जैसे दफ्तरों में काम करने वाले लोग इसी ब्रिज से करते हैं. नीचे दिए गए वीडियो में देखा ज सकता कि कैसे लोग एक दूसरे की मदद कर रहे हैं. एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि यहां बारिश की वजह से भीड़ इकट्ठी हो गई थी. ट्रेन आई तो आगे खड़ी लड़की फिसल गई, इसके बाद पीछे के लोग गिरते चले गए. घटनास्थल पर लोगों की चप्पलें, बैग, सामान गिरा पड़ा है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पक्षियों ने अपने बच्चे को ऐसे खिलाया खाना, IFS ऑफिसर ने शेयर किया वीडियो, बोले- 'प्रकृति की सबसे...' देखें Video

Advertisement