NDTV Khabar

पायल की खुदकुशी का मामला: तीनों आरोपी डॉक्टरों को 31 तक पुलिस हिरासत में भेजा गया

जातिगत टिप्पणियों से तंग आकर पायल तड़वी (26) ने पिछले बुधवार को बीएलवाई नायर अस्पताल में अपने कमरे में कथित रूप से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पायल की खुदकुशी का मामला: तीनों आरोपी डॉक्टरों को 31 तक पुलिस हिरासत में भेजा गया

डॉ. पायल तड़वी की फाइल फोटो

मुंबई:

मुंबई की एक विशेष अदालत ने सरकारी अस्पताल में जातिगत टिप्पणियां कर एक कनिष्ठ डॉक्टर को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार तीन वरिष्ठ महिला डॉक्टरों को 31 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया. पायल तड़वी (26) ने पिछले बुधवार को बीएलवाई नायर अस्पताल में अपने कमरे में कथित रूप से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी. खुदकुशी का यह मामला काफी चौंकाने वाला था. बाद में पुलिस ने जांच में पाया कि पायल तड़वी को खुदकुशी के लिए उकसाया गया था, जिसमें उसकी तीन वरिष्ठ महिला डॉक्टर शामिल थी.

लड़की को छेड़ते थे दो लड़के, परेशान होकर आग लगाकर कर ली आत्महत्या, लेकिन अब...

पुलिस ने इस मामले की जांच जातिगत भेदभाव और आत्महत्या के लिए उकसाने के एंगल से की, जिसमें पायल तड़वी की तीन वरिष्ठ सहयोगी भक्ति मेहेरे, हेमा आहूजा और अंकिता खंडेलवाल आरोपी पाई गई. पुलिस ने इन तीनों डॉक्टर्स के खिलाफ मामला दर्ज किया था. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश आर एम सडरानी के समक्ष अभियोजन ने दलील दी कि यह पता लगाने के लिए आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने की जरूरत है कि उन्होंने तड़वी का कथित सुसाइड नोट गुमा दिया है या नष्ट कर दिया. अदालत ने उन्हें 31 मई तक पुलिस हिरासत में भेजने का निर्देश दिया.


टिप्पणियां

(इनपुटः भाषा) 

Video: जातीय टिप्पणियों से तंग आकर छात्रा ने की आत्महत्या​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement