NDTV Khabar

मुंबई : बीएमसी के दो कर्मचारियों की भारी बारिश के दौरान पानी में गिरने से मौत

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के दो कर्मियों की बुधवार को पश्चिमी उपनगर गोरेगांव में भारी बारिश के दौरान पानी में गिरने से मौत हो गई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई : बीएमसी के दो कर्मचारियों की भारी बारिश के दौरान पानी में गिरने से मौत

खास बातें

  1. UAPA कानून के तहत घोषित
  2. अमेरिका ने की तारीफ
  3. बुधवार को हुई घोषणा
नई दिल्ली:

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के दो कर्मियों की बुधवार को पश्चिमी उपनगर गोरेगांव में भारी बारिश के दौरान पानी में गिरने से मौत हो गई.  एक अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार की शाम को सिद्धार्थ नगर में हुई इस घटना में मारे गए कर्मियों की पहचान विजयेन्द्र सरदार बागड़ी (36) और जगदीश परमार (54) के तौर पर हुई है.  उनके अनुसार, विजयेन्द्र और जगदीश दोनों ही बीएमसी के पी/एस वार्ड के कर्मचारी थे. लगता है कि भारी बारिश में ड्यूटी पर तैनात दोनों कर्मी पानी में डूब गए थे. अधिकारी ने बताया कि दोनों कर्मियों को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. उन्होंने बताया कि घटना की जांच की जा रही है.

गौरतलब है कि मुंबई सहित महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में हुई मूसलाधार बारिश से बुधवार को जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया. लगातार हो रही बारिश के कारण कई निचले इलाकों में पानी भर गया, जिस कारण कुछ लोकल ट्रेनों को रद्द करना पड़ा. करीब 20 उड़ाने भी रद्द कर दी गईं और कई विमानों के परिचालन में विलंब हुआ.  मंगलवार से शहर में लगातार हो रही बारिश के कारण मुंबई हवाई अड्डे पर उड़ान परिचालन बुधवार को आंशिक रूप से प्रभावित रहा. हवाई अड्डे से लगभग 20 उड़ानें रद्द हो गईं और 280 अन्य उड़ानों के परिचालन में देरी हुई. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने मुंबई में अगले 24 घंटों में मुंबई और इसके आस-पास के इलाकों में तेज बारिश का अनुमान जताया है और ‘रेड अलर्ट' जारी किया है, जिसमें अधिकारियों को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है. 


राज्य सरकार ने संबंधित अधिकारियों से पश्चिमी महाराष्ट्र के बांधों में पानी के प्रवाह पर नजर रखने के लिए कहा है, जहां पिछले महीने कुछ जिलों में बाढ़ ने भारी तबाही मचायी थी. मुंबई नगर निकाय ने सभी स्कूलों को बंद रखने और यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि छात्रों को सुरक्षित घर वापस भेज दिया जाए. अधिकारियों ने बताया कि पानी भरने के कारण विदर्भ क्षेत्र में गढ़चिरौली और गोंदिया जिले के 100 से ज्यादा गांवों और कोंकण इलाके के रत्नागिरि तथा सिंधुदुर्ग जिलों के विभिन्न हिस्सों से सड़क संपर्क टूट गया है. रायगढ़ और सिंधुदुर्ग जिलों के पश्चिमी घाट इलाकों में भूस्खलन होने की भी सूचना है. मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र को पिछले सप्ताह बारिश से कुछ राहत मिली थी, लेकिन फिर से अनवरत बारिश का सिलसिला शुरू हो गया है जो थमने का नाम नहीं ले रहा. दक्षिण-पश्चिम मानसून के सक्रिय होने से राज्य में हालात और खराब हो गए हैं. भारी बारिश के कारण पूरे राज्य में गणेशोत्सव पर भी प्रभाव पड़ने की आशंका है. 

मुंबई और उसके उपनगरों में भारी बारिश के कारण निचले इलाकों में बाढ़ आ गई, जिससे मध्य और हार्बर रेलवे लाइनों और पश्चिमी लाइन के कुछ हिस्सों में कई स्थानीय ट्रेनों को रद्द करना पड़ा.  पश्चिम रेलवे ने कहा कि माटुंगा रोड पर जलभराव के कारण इसकी लाइनों पर ट्रेनों को चर्चगेट और वसई रोड के बीच निलंबित कर दिया गया. बयान में यह भी कहा गया कि नालसोपारा में जल स्तर 300 मिमी से ऊपर चला गया, जिसके मद्देनजर ट्रेनों को अस्थायी रूप से वसई और विरार के बीच रोक दिया गया. पटरी पर पानी भर जाने के कारण जयपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस वैतरणा स्टेशन के पास एक घंटे से ज्यादा समय तक फंसी रही.   मुंबई हवाई अड्डे के एक अधिकारी ने कहा कि कई उड़ानों के परिचालन में औसतम 25 मिनट की देरी हुई है. मुंबई और उसके उपनगरों में सड़कों पर वाहनों की आवाजाही भी बाढ़ के कारण धीमी हो गई. 

टिप्पणियां

मौसम विभाग ने कहा कि मुंबई महानगर क्षेत्र (एमएमआर) में 150 मौसम केंद्रों में से 100 में 200 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई है. विभाग के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘इससे पता चलता है कि मुंबई में बारिश कितनी भयंकर हो गई है. हमने अगले 24 घंटों के लिए मुंबई शहर और उपनगरों, ठाणे और पालघर जिलों सहित राज्य के विभिन्न स्थानों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है.' उन्होंने कहा कि बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) और पुलिस लोगों को सुरक्षित रखने के लिए सभी प्रयास करने में जुटी है. 


 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement