NDTV Khabar

टिक टॉक पर पाबंदी के लिए मुंबई हाईकोर्ट पहुंची महिला, वीडियो ऐप पर लगाया यह आरोप

याचिकाकर्ता ने दावा किया कि है टिकटॉक की वजह से अपराध की कई घटनाएं हुई हैं. कुछ मामलों में हत्याएं भी हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
टिक टॉक पर पाबंदी के लिए मुंबई हाईकोर्ट पहुंची महिला, वीडियो ऐप पर लगाया यह आरोप

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. जनहित याचिका दायर कर वीडियो ऐप टिक टॉक पर प्रतिबंध लगाने की मांग की
  2. इस ऐप पर बेरोक-टोक अश्लील विषयवस्तु अपलोड किए जाते हैं
  3. यह देश के युवाओं को नुकसान पहुंचा रहा है.
मुंबई:

मुंबई हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर वीडियो ऐप टिक टॉक पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि इस ऐप पर बेरोक-टोक अश्लील विषयवस्तु अपलोड किए जाते हैं और यह देश के युवाओं को नुकसान पहुंचा रहा है. बता दें, तीन बच्चों की मां हीना दरवेश ने 11 नवंबर को याचिका दायर की थी. हीना मुंबई की रहने वाली हैं. जनहित याचिका की प्रतियां सोमवार को उपलब्ध करायी गयीं. याचिकाकर्ता ने दावा किया कि है टिकटॉक की वजह से अपराध की कई घटनाएं हुई हैं. कुछ मामलों में हत्याएं भी हुई. कॉमेडी या संगीत के छोटे-छोटे वीडियो बनाकर टिकटॉक पर अपलोड किया जाता है या इसे साझा किया जाता है.

हरियाणा: Tik Tok वीडियो बनाने के लिए युवक को फंदे से लटकाया, मामला दर्ज

टिप्पणियां

बता दें, दरवेश ने इससे पहले पिछले साल मद्रास हाईकोर्ट में भी इसी तरह की याचिका दायर कर अश्लील विषयवस्तु के लिए ऐप पर पाबंदी लगाने की मांग की थी. याचिका में कहा गया, ‘टिकटॉक पर निर्बाध अश्लील विषयवस्तु से देश के युवाओं को नुकसान हो रहा है. इस साल जुलाई में मुंबई पुलिस ने हिंसा भड़काने और धार्मिक समूहों के बीच रंजिश बढ़ाने के लिए टिकटॉक पर वीडियो पोस्ट करने के लिए कुछ लोगों के खिलाफ दो मामले दर्ज किए थे.' अगले सप्ताह एक खंडपीठ के समक्ष याचिका पर सुनवाई होने की उम्मीद है.


Video: आदमपुर से BJP प्रत्याशी और टिक टॉक स्टार सोनाली फोगाट से खास बातचीत



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement