Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

कोलकाता में पुलिस और BJP कार्यकर्ताओं में टकराव, डेंगू के बढ़ते मामलों के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन

पुलिस सूत्रों ने बताया कि झड़प के दौरान भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कोलकाता में पुलिस और BJP कार्यकर्ताओं में टकराव, डेंगू के बढ़ते मामलों के खिलाफ कर रहे थे प्रदर्शन

कोलकाता में बीजेपी का प्रदर्शन.

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल में डेंगू के तेजी से बढ़ते मामलों के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित रैली में कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प हो गई. भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा की ओर से शहर के सेंट्रल एवेन्यू से निकाले गए विरोध मार्च का समापन कोलकाता नगर निगम मुख्यालय में घेराव के साथ होना था. पुलिस ने कोलकाता के चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन के पास बैरिकेड लगाया था ताकि प्रदर्शनकारी आगे नहीं बढ़े. अधिकारियों ने कार्यकर्ताओं को समझाकर वापस भेजने का प्रयास किया. सूत्रों ने दावा किया है कि इसके जवाब में भाजपा समर्थकों ने उन पर पानी की बोतलें फेंकी और पथराव किया. इसके बाद पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछार की.

पश्चिम बंगाल में मंत्री सोभनदेव चट्टोपाध्याय ने अपनी ही पार्टी की महिला सासंद के समर्थकों पर लगाया उन्हें पीटने का आरोप


पुलिस सूत्रों ने बताया कि झड़प के दौरान भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया. राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कोलकाता और इसके आस-पास के इलाकों में कुल 44 हजार 852 डेंगू के मामले दर्ज हुए हैं. सरकारी अधिकारियों के अनुसार डेंगू के कारण जनवरी से अबतक 25 लोगों की मौत हो चुकी है.

टिप्पणियां

आपको बता दें कि कोलकाता में जून के महीने से ही डेंगू के मामले सामने आ रहे हैं.अगस्त महीने में ही 300 से अधिक डेंगू के मरीज पाए गए थे. डेंगू से हो रही लगातार मौत के खिलाफ ही बीजेपी ने आज प्रदर्शन किया था.
 

VIDEO: कोलकाता में डेंगू के बढ़ते मामले पर BJP का प्रदर्शन



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... मोंटेक सिंह अहलूवालिया बोले- जब राहुल गांधी ने फाड़ा था अध्यादेश तो मनमोहन सिंह ने मुझसे पूछा था कि क्या उन्हें इस्तीफा देना चाहिए

Advertisement