NDTV Khabar

नोएडा: लोन देने के नाम पर ठगी करने वाली कंपनी का पर्दाफाश, 33 लोग गिरफ्तार

नोएडा पुलिस ने लोन देने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाली एक फर्जी कंपनी का पर्दाफाश किया है. साइबर सेल टीम और सेक्टर-20 कोतवाली पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 33 आरोपियों को गिरफ्तार किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नोएडा: लोन देने के नाम पर ठगी करने वाली कंपनी का पर्दाफाश, 33 लोग गिरफ्तार

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. लोन देने के नाम पर ठगी करने वाली कंपनी का पर्दाफाश
  2. 33 लोग गिरफ्तार
  3. नोएडा पुलिस ने किया गिरफ्तार
नोएडा:

नोएडा पुलिस ने लोन देने के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाली एक फर्जी कंपनी का पर्दाफाश किया है. साइबर सेल टीम और सेक्टर-20 कोतवाली पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 33 आरोपियों को गिरफ्तार किया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) वैभव कृष्ण ने बताया कि विगत कुछ समय से लोन के नाम पर ठगी की शिकायतें लगातार मिल रही थीं. साइबर सेल द्वारा की गई जांच में पता चला कि लोन दिलवाने के नाम पर देश के विभिन्न राज्यों के लोगों से ठगी करने वाली कंपनी का कार्यालय नोएडा के सेक्टर-तीन में स्थित है. एसएसपी ने बताया कि साइबर सेल टीम के प्रभारी बलजीत सिंह के नेतृत्व में सेक्टर-20 कोतवाली पुलिस के साथ फर्जी कंपनी के कार्यालय पर छापेमारी की गई. वहां से 33 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया. 

बैंकों का एक लाख करोड़ से ज्यादा 'घोटाले' की भेंट चढ़ा, 4 साल में 19 हजार मामले दर्ज


एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त देश के विभिन्न राज्यों के लोगों को लोन देने के नाम पर फोन करते थे. लोन देने के नाम पर फाइल चार्ज और अन्य खर्चा बताकर लोगों से कंपनी के खाते में पैसा डलवाकर ठग लिया करते थे. उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ भादंसं की धारा 420, 406, 467, 468 और आईटी कानून सहित विभिन्न प्रावधानों में मामला दर्ज किया गया है. 

'माल्या जी को चोर कहना गलत' इस बयान पर फंसने पर क्या बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी?

गिरफ्तार अभियुक्तों में अभिषेक, अनस, ईर कुमार, विवेक सिंह, मनोरंजन त्रिपाठी, अदनान अहमद, रंजन कुमार, दीपक, कुनाल, योगेश, दुर्गादत्त सिंह, सुधांशु सिह, दीपक शर्मा, अरुण कुमार, गगन त्यागी, डेविड, सीमा, नेहा, उजाला, कल्पना कुमारी, कंचन, सुमोई, मुस्कान आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि जांच में पता चला है कि गिरफ्तार अभियुक्त छह माह में देश के विभिन्न राज्यों के हजारों लोगों से एक करोड़ रूपये से अधिक की ठगी कर चुके हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: प्राइम टाइम : कैसे बड़े क़र्ज़दार हो जाते हैं देश से फ़रार?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement