NDTV Khabar

बच्चा चोर समझकर 3 साधुओं को घेर लिया भीड़ ने, सेना के जवानों ने बचाई जान

गौरतलब है कि त्रिपुरा में हाल ही में एक फेक न्यूज की वजह से हुई हिंसा 4 लोगों की जान चली गई है. मृतकों में सुकांत चक्रवती नाम का एक वो शख्स भी शामिल है जिसे पुलिस ने फेक न्यूज के खिलाफ जागरुकता अभियान में शामिल कर रखा था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बच्चा चोर समझकर 3 साधुओं को घेर लिया भीड़ ने, सेना के जवानों ने बचाई जान

इन साधुओं को भीड़ ने बच्चा चोर समझकर घेर लिया था.

खास बातें

  1. असम में भीड़ ने 3 साधुओं को घेरा
  2. सेना के जवानों ने बचाई जान
  3. बच्चा चोर की फिर अफवाह
गुवाहाटी: असम में सेना के जवानों ने तीन लोगों को भीड़ से बचा लिया है. ये लोग साधु के वेश में थे भीड़ उन्हें बच्चा चोर समझ रही थी. स्थानीय लोगों ने इन तीनों लोगों को घेर लिया था अगर सेना के जवान दखल न देते तो बाकी और राज्यों में अफ़वाह के चलते जिस तरह हिंसक भीड़ हत्याएं कर रही हैं ऐसा ही कुछ यहां भी हो सकता था. ये घटना असम के डीमा हसाओ इलाके की है. इन तीन लोगों में से दो उत्तर प्रदेश से हैं जबकि एक गुजरात से है. इन लोगों को बाद में सेना के महुर कैंप ले जाया गया जहां इनसे पूछताछ भी की गई. सेना के अधिकारियों की माने तो ये लोग असम में होने वाले मेले में भाग लेने के लिए यहां आए थे.

गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर बोले - धुले हत्याकांड के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा

गौरतलब है कि त्रिपुरा में हाल ही में एक फेक न्यूज की वजह से हुई हिंसा 4 लोगों की जान चली गई है. मृतकों में सुकांत चक्रवती नाम का एक वो शख्स भी शामिल है जिसे पुलिस ने फेक न्यूज के खिलाफ जागरुकता अभियान में शामिल कर रखा था. 

बच्चा चोर होने की अफवाह पर लोगों ने तीन साधुओं को घेरा​


टिप्पणियां
दरअसल सीरिया के एक वीडियो को भारत में किसी ने फैला दिया है जिससे महाराष्ट्र के धुले में भी 5 लोगों को बच्चा चोर समझकर मौत के घाट उतार दिया गया. जब इस वीडियो की पड़ताल की गई तो पता चला कि यह वीडियो सीरिया के उन बच्चों का जो एक रासायनिक हमले में मारे गये हैं. आपको बता दें कि फेक न्यूज की वजह से अलग-अलग घटनाओं में 20 लोगों की जान चुकी है.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement