असम के डिब्रूगढ़ और चराइदेव जिले में चार ग्रेनेड विस्फोट

डिब्रूगढ़ जिले में एक विस्फोट ग्राहम बाजार में हुआ और दूसरा ए टी रोड पर एक गुरुद्वारे के पीछे हुआ. दोनों क्षेत्र डिब्रूगढ़ पुलिस थाने के तहत आते हैं. पुलिस ने बताया कि अन्य धमाका दुलियाजन तेल शहर में हुआ और वहां से जानकारी मिलना बाकी है.

असम के डिब्रूगढ़ और चराइदेव जिले में चार ग्रेनेड विस्फोट

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • डिब्रूगढ़ और चराइदेव जिलों में सुबह चार शक्तिशाली ग्रेनेड विस्फोट हुए
  • पुलिस ने बताया कि तीन विस्फोट डिब्रूगढ़ में और एक विस्फोट चराइदेव में हुआ
  • यह धमाके ऐसे समय में हुए हैं जब देश गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहा है
गुवाहाटी:

असम के डिब्रूगढ़ और चराइदेव जिलों में रविवार को सुबह चार शक्तिशाली ग्रेनेड विस्फोट हुए. पुलिस ने बताया कि तीन विस्फोट डिब्रूगढ़ में और एक विस्फोट चराइदेव में हुआ. यह धमाके ऐसे समय में हुए हैं जब देश गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहा है. डिब्रूगढ़ जिले में एक विस्फोट ग्राहम बाजार में हुआ और दूसरा ए टी रोड पर एक गुरुद्वारे के पीछे हुआ. दोनों क्षेत्र डिब्रूगढ़ पुलिस थाने के तहत आते हैं. पुलिस ने बताया कि अन्य धमाका दुलियाजन तेल शहर में हुआ और वहां से जानकारी मिलना बाकी है.

उन्होंने बताया कि एक अन्य विस्फोट चराइदेव जिले के सोनारी पुलिस थाने के तहत आने वाले इलाके तिओक घाट में हुआ. पुलिस ने बताया कि वरिष्ठ अधिकारी विस्फोट स्थलों पर पहुंचे हैं तथा हताहतों की जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है. वहीं असम के मंत्री हेमंत विश्व सरमा ने शनिवार को स्पष्ट किया कि केंद्र और विभिन्न हितधारकों के बीच जिस नए शांति समझौते पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है, उसके तहत केंद्र राज्य के ‘बोडोलैंड टेरीटोरियल एरिया डिस्ट्रिक्ट्स' (बीटीएडी) को केंद्र शासित प्रदेश के तौर पर अद्यतन नहीं करेगा.

पूर्वोत्तर जनतांत्रिक गठबंधन के संयोजक सरमा ने कहा कि नए समझौते के तहत किसी नए गांव या क्षेत्र को बीटीएडी में नहीं जोड़ा जाएगा. उन्होंने कहा, ‘केंद्र ने राज्य सरकार को सूचित किया है कि कोई केंद्र शासित प्रदेश नहीं बनाया जाएगा या बीटीएडी में कोई नया क्षेत्र नहीं जोड़ा जाएगा लेकिन समझौता यह सुनिश्चित करेगा कि असम की क्षेत्रीय अखंडता बरकरार रहे.' उन्होंने कहा कि असम के लोगों को इसको लेकर निश्चित रहना चाहिए कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह असम के बंटवारे पर सहमत नहीं होंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: असम में आतंक का खात्मा! 1200 से ज्यादा उग्रवादियों ने किया सरेंडर



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)