NDTV Khabar
होम | उत्तर पूर्व भारत

उत्तर पूर्व भारत

  • मेघालय के उमरोई एयरपोर्ट के मामले में इंडिगो और स्पाइसजेट को सुप्रीम कोर्ट से राहत
    मेघालय के उमरोई एयरपोर्ट के मामले में इंडिगो और स्पाइसजेट को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने मेघालय हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी है. हाईकोर्ट ने डीडीसीए व एयरलाइंस को 14 दिसंबर तक तारीख बताने को कहा था कि कब से यह सेवा शुरू होगी.
  • मिजोरम विधानसभा चुनाव परिणाम : एमएनएफ ने एक दशक बाद की सत्ता में वापसी
    मिजोरम की 40 सदस्यीय विधानसभा में 26 सीटें जीतकर मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) ने मंगलवार को एक दशक बाद यहां सत्ता में वापसी की है. इसके साथ ही कांग्रेस पूर्वोत्तर में अपना अंतिम गढ़ भी हार गई. साल 2013 विधानसभा चुनाव में एमएनएफ को केवल पांच सीटें प्राप्त हुई थीं, जबकि कांग्रेस ने यहां 34 सीटों पर जीत दर्ज कराई थी.
  • Election Results 2018: पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में इन पार्टियों को मिला नोटा से भी कम वोट
    Final Election Results: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिये मंगलवार को हुयी मतगणना (Assembly Election Results 2018) में सभी उम्मीदवारों को खारिज करने (नोटा) के विकल्प को भी मतदाताओं ने तमाम क्षेत्रीय दलों से ज्यादा तरजीह दी है. चुनाव आयोग द्वारा जारी चुनाव परिणाम के मुताबिक देर शाम तक की मतगणना के आधार पर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Election Results) में सर्वाधिक 2.1 प्रतिशत वोट नोटा के खाते में गये.
  • विधानसभा चुनाव परिणाम 2018 : इस प्रत्याशी ने सिर्फ तीन वोटों से हासिल कर ली जीत
    पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में शाम तक घोषित नतीजों में सबसे छोटी जीत हासिल करने वाले उम्मीदवार मिजो नेशनल फ्रंट के ललछनदामा राल्ते हैं. मिजोरम (Mizoram Elections) में राल्ते ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के आरएल पियनमाविया को तीन वोटों से पराजित किया.
  • Mizoram Election Results 2018: इस पुराने कांग्रेसी नेता ने रखी बीजेपी की 'लाज', मिजोरम में पहली बार खोला खाता
    एमएनएफ (MNF) ने बहुमत हासिल करते हुए 26 सीटों पर कब्जा किया और सरकार बनाने का दावा ठोका. जबकि कांग्रेस बुरी तरह से हारी और सिर्फ 5 सीटों पर ही जीत हासिल कर सकी. 10 साल बाद आई एमएनएफ पार्टी को 21 सीटों का फायदा हुआ, जबकि कांग्रेस ने 29 सीट गवाएं. इन सबमें सबसे चौंकाने वाली बात यह रही कि पूर्व कांग्रेस नेता बुद्ध धन चकमा...
  • Mizoram Elections Results 2018 Live: कांग्रेस से MNF ने छीनी सत्ता, बहुमत के साथ बनाएगी सरकार
    मिजोरम विधानसभा की 40 सीटों पर हुए चुनाव के लिए मतगणना खत्‍म हो चुकी है और सभी 40 नतीजे आ चुके हैं. इन चुनावों में मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) ने बहुमत हासिल कर लिया है.
  • Mizoram Exit Poll Results 2018: एमएनएफ और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर
    मिजोरम के एग्जिट पोल (Mizoram Exit Poll) के मुताबिक मिजो नेशनल फ्रंट (Mizo National Front) यानी एमएनएफ सत्ता हासिल कर सकती है. हालांकि एमएनएफ और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर होने की संभावना है.
  • असम के उदालगुरी में कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस में धमाका, 11 लोग घायल
    असम के उदालगुरी में कामाख्या-डेकारगांव इंटरसिटी एक्सप्रेस के एक कोच में धमाका हुआ है. इसमें 11 लोगों के घायल होने की खबर है. बताया जा रहा है कि घायलों में एक की हालत बेहद नाजुक है, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस और रेलवे के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं. जिस जगह यह हादसा हुआ है वह गुवाहाटी से 95 किलोमीटर दूर है. अभी तक धमाके के कारणों की जांच की जा रही है.  
  • मिजोरम विधानसभा चुनाव : कांग्रेस के पूर्वोत्तर के गढ़ पर बीजेपी की नजरें
    मिजोरम में 40 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव के लिए बुधवार को मतदान होगा. यहां 7,70,395 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे. राज्य में पहली बार सभी मतदान केंद्रों को वायरलेस संचार तंत्र से जोड़ दिया गया है ताकि मतदान के दौरान त्वरित रूप से सूचनाएं भेजी जा सकें.
  • विधानसभा चुनाव : मध्यप्रदेश और मिजोरम में आज मतदान, कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए
    मध्यप्रदेश और मिजोरम में बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा. इसके लिए प्रशासन ने कड़े सुरक्षा इंतजाम किए हैं. मध्यप्रदेश में विधानसभा की सभी 230 सीटों के लिए और मिजोरम की सभी 40 सीटों के लिए मतदान होगा.
  • मिजोरम में कांग्रेस पर बरसे पीएम मोदी: उनकी 'फूट डालो और शासन करो' की नीति जनता समझ चुकी है
    पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारियां जोरों पर हैं. शुक्रवार को मिजोरम (Mizoram Assembly Elections 2018) में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने एक रैली को संबोधित किया और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि लोग कांग्रेस की प्राथमिकता नहीं. देश अब कांग्रेस की फूट डालो और शासन करो की नीति को समझ चुका है. यही वजह है कि अब वे कुछ ही राज्यों तक समीत रह चुके हैं. भाइयो औऱ बहनों भाजपा सिर्फ और सिर्फ देश के विकास के लिए काम कर रही है. हमारा मकसद सबका साथ सबका विकास करना है. हम मिजो समाज को संविधान में मिले अधिकारों की भी रक्षा करेगी. 
  • EC, CBI के कामकाज में मोदी सरकार दे रही दखल, मिजोरम में राहुल गांधी के हमले की 7 खास बातें
    मिजोरम विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला और मिजोरम की संस्कृति को बर्बाद करने का आरोप लगाया. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को दावा किया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भाजपा को भलीभांति पता है कि पार्टी अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव नहीं जीत पाएगी. मिजोरम के चंफई में पहली चुनावी सभा को संबोधित करते हुए गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर राज्य की संस्कृति को तबाह करने की कोशिश का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘‘संघ और भाजपा समझते हैं कि मिजोरम में घुसने और यहां की संस्कृति बर्बाद करने के लिए उनके पास यही एक अवसर बचा है. उन्हें पता है कि वे अगला लोकसभा चुनाव नहीं जीत पाएंगे.''
  • असम के जोरहाट में मासूमों की मौत का तांडव शुरू, महज 6 दिन में 15 नवजातों ने तोड़ा दम
    असम के एक अस्पताल में बच्चों की मौत का तांडव शुरू हो गया है. असम के जोरहाट मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जेएमसीएच) में एक-छह नवंबर के बीच कम से कम 15नवजात की मौत हो चुकी है. हालांकि, राज्य स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जांच के लिए एक टीम अस्पताल भेजी है. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.स्पताल प्रशासन ने भी इस मामले की जांच के लिए एक समिति गठित की है.
  • कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, हाथ का साथ छोड़ मिजोरम विधानसभा अध्यक्ष हिफेई ने थामा बीजेपी का दामन
    मिजोरम विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है. विधानसभा अध्यक्ष हिफेई ने सोमवार को अपने पद और पार्टी से इस्तीफा दे दिया और वह भाजपा में शामिल हो गए. हिफेई मिजोरम में सत्ताधारी कांग्रेस के पांचवें विधायक हैं, जिनने सितंबर से लेकर अबतक सदन और पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. 
  • असम में संदिग्ध उग्रवादियों ने पांच लोगों को गोलियों से भूना, दो घायल
    असम के तिनसुकिया जिले के खेरोनी में गुरुवार की रात में संदिग्ध उल्फा (इंडिपेंडेंट) के उग्रवादियों ने पांच लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी. इस हमले में दो अन्य घायल हो गए.
  • NRC में अब तक 20 लाख आपत्तियां दर्ज की गईं : केंद्र सरकार
    एनआरसी मामले में सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि एनआरसी में आपत्तियों के निवारण में आने वाली समस्याओं का व्यवहारिक रूप से समाधान कैसे हो, इसके लिए पॉवर पाइंट प्रेजेंटेशन तैयार किया जाए. केंद्र सरकार ने कहा कि अब तक 20 लाख आपत्तियां दर्ज की गई हैं.
  • असम में बस हादसे में 7 की मौत, 20 से अधिक गंभीर रूप से घायल
    असम राज्य परिवहन निगम का बस आज दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से 7 यात्री की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 20 से अधिक यात्री घायल हो गए. मिली जानकारी के अनुसार के अनुसार के गुवाहाटी से मुकालमुवा जा रही असम राज्य परिवहन निगम की बस अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे तालाब में गिर जाने से 7 यात्री की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं, 21 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. सभी घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं गंभीर रूप से घायल कुछ लोगों को गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर किया गया है. मृतकों की संख्या बढ़ सकती है.
  • तिब्बत की कृत्रिम झील के कारण अरुणाचल प्रदेश में बाढ़ का संकट, चेतावनी जारी
    तिब्बत में भूस्खलन होने से एक नदी का मार्ग अवरुद्ध हो जाने और कृत्रिम झील बनने के बाद अरुणाचल प्रदेश में ब्रह्मपुत्र नदी से लगे जिलों में बाढ़ की आशंका को देखते हुए हाई अलर्ट जारी किया गया है.
  • अब त्रिपुरा में NRC की मांग, सुप्रीम कोर्ट करेगा परीक्षण, केंद्र सरकार को नोटिस जारी
    असम में NRC को लेकर चल रही कवायद के बीच अब सुप्रीम कोर्ट त्रिपुरा में NRC को लेकर परीक्षण करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने एक जनहित याचिका पर केंद्र सरकार और त्रिपुरा को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. आपको बता दें कि त्रिपुरा पीपल्स फ्रंट ने सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर असम की तरह NRC की मांग की है. जिस पर यह नोटिस जारी किया गया है. 
  • VIDEO: जहां स्कूल तक पहुंचने के लिए पतीले में बैठकर नदी पार करने को मजबूर हैं छोटे-छोटे बच्चे...
    भारत में रोटी, कपड़ा, मकान, स्वास्थ्य और शिक्षा को इंसान की बुनियादी जरूरतों में शामिल किया गया है. देश में मूलभूत जरूरतों को पाने के लिए किसी भी इंसान को कितने जद्दोजहद करने पड़ते हैं, यह बयां करने के लिए असम के बिश्वनाथ जिले के बच्चों की रोजमर्रा की जिंदगी को देखा जा सकता है. दरअसल, असम के विश्वनाथ जिले में जान जोखिम पर डाल कर शिक्षा पाने को मजबूर हो रहे बच्चों की जो तस्वीर सामने आई है, वह न सिर्फ हैरान करने वाला है, बल्कि देश की शिक्षा व्यवस्था को भी कटघरे में खड़ा करती है. जिले के बच्चे हर दिन जान जोखिम में डाल कर स्कूल जाते हैं. दरअसल, यहां बच्चे नदी को तैर कर स्कूल जाने के लिए मजबूर हैं. बच्चे अपने-अपने घरों से एलुमिनयिम का बड़ा पतीला साथ लाते हैं और उसमें बैठकर नदी पार कर स्कूल पहुंचते हैं. एल्यूमीनियम के बर्तन में बैठकर नदी पार करने वाले बच्चों की संख्या करीब 40 है, जो प्राइमरी स्कूल में पढ़ते हैं उसमें सिर्फ़ एक ही शिक्षक है. इन बच्चों को नदी पार करवाने में स्कूल के इकलौते शिक्षक पूरी मदद करते हैं.
«12345678»

Advertisement