Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने बेरोजगारी के आरोपों को किया खारिज, कहा- 2000 से ज्यादा लोगों को सरकारी नौकरियां दीं

भारतीय जनता पार्टी ने अपने घोषणापत्र में सभी के लिए रोजगार सुनिश्चित करने की बात कहते हुए वादा किया था कि अगर वह सत्ता में आई तो राज्य सरकार में खाली पड़े 50,000 पदों को भरेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने बेरोजगारी के आरोपों को किया खारिज, कहा- 2000 से ज्यादा लोगों को सरकारी नौकरियां दीं

बिप्लब देब ने कहा कि हमने 2,000 से ज्यादा लोगों को सरकारी नौकरियां दी हैं.

खास बातें

  1. त्रिपुरा मुख्यमंत्री का दावा सरकार ने 2 हजार से ज्यादा सरकारी नौकरियां दी
  2. मार्च 2018 में त्रिपुरा विधानसभा के चुनाव हुए थे
  3. माकपा के नेतृत्व वाले वाम मोर्चे के 25 साल के शासन का अंत हुआ था
अगरतला:

त्रिपुरा (Tripura) के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब (Biplab Kumar Deb) ने विपक्षी दलों द्वारा बेरोजगारी को लेकर लगाए जा रहे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उनके 20 महीने के कार्यकाल में 2,300 से अधिक लोगों को सरकारी नौकरियां मिली हैं. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) और उसकी सहयोगी इंडिजिनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने मार्च 2018 में त्रिपुरा विधानसभा में दो तिहाई बहुमत से जीत हासिल कर इतिहास रचा और माकपा के नेतृत्व वाले वाम मोर्चे के 25 साल के शासन का खात्मा किया.

उन्होंने कहा, ‘कुछ राजनीतिक दल राज्य सरकार को बदनाम करने के इरादे से हमारे कार्यकाल में बेरोजगारी को लेकर अफवाह फैला रहे हैं, लेकिन तथ्य यह है कि नई सरकार के कार्यकाल के दौरान 2,300 से अधिक सरकारी नौकरियां दी गईं जिनमें से 1,903 नियमित नौकरियां हैं.' देब ने कहा, ‘अब लोगों को राजनीतिक रैलियों में नहीं जाना पड़ता है, पार्टी दफ्तरों में नेताओं या विधायकों से नहीं मिलना पड़ता है और न ही नौकरी के लिए आवेदन करने के बाद 10 साल तक इंजतार करना पड़ता है. योग्य उम्मीदवारों को पारदर्शी भर्ती नीति से नौकरियां मिल रही हैं.''

CAA से राज्य के मूल निवासी नहीं होंगे प्रभावित: असम के मुख्यमंत्री 


टिप्पणियां

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘‘बेबुनियाद'' सूचनाओं के आधार पर लोगों को भ्रमित करने को लेकर किया जा रहा ‘‘लगातार प्रयास'' सफल नहीं होगा क्योंकि लोग हकीकत समझते हैं.

देब ने ‘त्रिपुरा एससी वेलफेयर एंड एससी कॉरपोरेशन लिमिटेड' द्वारा आयोजित रक्तदान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं. भारतीय जनता पार्टी ने अपने घोषणापत्र में सभी के लिए रोजगार सुनिश्चित करने की बात कहते हुए वादा किया था कि अगर वह सत्ता में आई तो राज्य सरकार में खाली पड़े 50,000 पदों को भरेगी.
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली हिंसा : विवेक से नाम पूछा और आर्मेचर सिर पर मार दिया, शादी के 11 दिन बाद ही असफाक की मौत

Advertisement