Hindi news home page

मैसूर में एक युवती ने अपने नाना-नानी को बंद कर घर में लगाई आग

ईमेल करें
टिप्पणियां
मैसूर में एक युवती ने अपने नाना-नानी को बंद कर घर में लगाई आग

इस घटना में दोनों बुजुर्गों को बचा लिया गया

बेंगलुरु: मैसूर पुलिस को 22 साल की उस लड़की के बयान का इंतज़ार है जिसने अपने नाना-नानी को घर में बंद कर बाहर से आग लगा दी और खुद भाग खड़ी हुई. बुज़ुर्गों की चीख़ सुनकर पड़ोसी वहां जमा हो गए और उन्होंने दोनों को बचा लिया. पूछताछ से पता चला कि उनकी लगभग 22 साल की नातिन ने उन्हें बांध कर घर में आग लगाई थी क्योंकि उन दोनों के मुताबिक उनकी नातिन को शराब और नशे की लत है जिससे ये दोनों काफी चिंतित थे. इसलिए ये दोनों अपनी नातिन को बराबर ऐसा करने से मना करते जिससे वो चिढ़ गयी और उसने इन दोनों को घर में बंद कर आग लगा दी.

हालांकि इस घटना के बावजूद नाना-नानी ने अपनी नातिन के ख़िलाफ़ पुलिस में मामला दर्ज नहीं करवाया. पुलिस का कहना है कि लड़की से पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. आरोपी लड़की के पिता बेंगलुरु में रहते हैं और उसकी मां अबतक की जानकारी के मुताबिक अब इस दुनिया में नहीं है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement