महाराष्ट्र : बीड़ जिले में शिक्षक पर छात्राओं का यौन शोषण करने का आरोप

महाराष्ट्र : बीड़ जिले में शिक्षक पर छात्राओं का यौन शोषण करने का आरोप

महाराष्ट्र के बीड़ में शिक्षक पर स्कूल की छात्राओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया है.

मुंबई:

महाराष्ट्र में बीड़ जिले के एक स्कूल में छात्राओं ने एक शिक्षक पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. स्कूल सरकारी अनुदान से चलता है. स्कूल में ज्यादातर गन्ने के खेतों में काम करने वाले खेतिहर मजदूरों के बच्चे पढ़ते हैं. पुलिस ने आरोपी शिक्षक के खिलाफ मामला तो दर्ज कर लिया है लेकिन उसे पकड़ने में कामयाब नहीं हुई है.
        
सामाजिक कार्यकर्ता वर्षा देशपांडे ने कहा ''रात में दो शिक्षकों की ड्यूटी लगती थी, उन्होंने हमें बताया कि आरोपी लड़कियों के कपड़े उतारकर उन्हें नहलाता था, उनके साथ गंदी हरकतें करता था. जब वो सोती थीं तो उनके चादर हटा देता था.'' स्कूल शिरूर तालुका में है. छात्राओं ने अपनी आपबीती लेक लड़की अभियान को खत के जरिए बताई. संगठन ने अपने स्तर पर जांच करने के बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी.
        
पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद आईपीसी के अलावा पोस्को एक्ट में भी मामला दर्ज कर लिया है. बीड़ के पुलिस अधीक्षक दीक्षित गेदाम ने बताया हमने विनय भंग और पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है. आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए हमने टीमें बनाई हैं.
           
स्कूल में 120 बच्चे रहकर पढ़ाई करते हैं, जिसमें 36 छात्राएं हैं. आठ शिक्षकों में से दो अलग-अलग पाली में स्कूल में रहते हैं.

एक आंकड़े के मुताबिक महाराष्ट्र में बच्चों के प्रति यौन शोषण के मामले 289 फीसद की दर से बढ़े हैं. पिछले साल बुलढाणा के आश्रमशाला में पढ़ने वाली लड़कियों के यौन शोषण के मामले में जांच के लिए सरकार ने एसआईटी का गठन किया था, लेकिन नासिक, औरंगाबाद से आ रही खबरें बताती हैं कि पोस्को एक्ट के सारे प्रावधानों के प्रति सचेत रहते हुए जरूरत है फौरन स्पेशल पुलिस जुविनाइल यूनिट बनाने की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com