NDTV Khabar
होम | अन्य

अन्य

  • मेडिकल परीक्षा:  छोटे शहर के छात्रों ने हासिल की बड़ी सफलता
    प्रतिभा शहरी सुख-सुविधाओं की मोहताज नहीं होती, वाराणसी (Varanasi) के छात्र कृष्णांशु ने यह साबित कर दिखाया है. मेडिकल की परीक्षा (Medical entrance exam) के नतीजे आ गए हैं. इसमें न सिर्फ छोटे शहरों के बच्चे टॉपर लिस्ट में हैं बल्कि छोटे शहरों में ही कोचिंग करके इन्होंने यह मुकाम हासिल किया है. वैसे तो राजस्थान कोचिंग के लिए मशहूर है, लेकिन वहां के एक बच्चे ने बनारस आकर कोचिंग की और 53वीं रैंक पाई. इस बात से ये ज़ाहिर होता है कि सही मार्गदर्शन मिले तो आला से आला मुकाम हासिल किया जा सकता है. छोटे शहर में रहकर बड़ी सफलता हासिल करने वाले छात्र सिर्फ कृष्णांशु ही नहीं हैं, श्वेता और आकांक्षा जैसी छात्राएं भी हैं जो अपने सपने पूरे करने की राह पर चल पड़ी हैं.
  • भारत के आठ समुद्र तटों को मिला ‘ब्लू फ्लैग’, जावड़ेकर ने गर्व का क्षण बताया
    भारत के आठ समुद्र तटों को सुरक्षा, साफ-सफाई और जागरूकता के लिए ब्लू फ्लैग (Blue Flag)  सर्टिफिकेट मिला है. पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसे गर्व का क्षण बताया है.
  • सुशांत राजपूत केस : AIIMS पैनल की रिपोर्ट पर बोले मुंबई पुलिस कमिश्नर, सच हमेशा सामने आता है
    बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant singh Rajput) की मौत के मामले में मुंबई पुलिस आयुक्त (Mumbai police commissioner) परमबीर सिंह ने एक वीडियो इंटरव्यू में कहा है कि सच तो सामने आता है, मामले में जो सच था वो सामने आ गया. मुंबई पुलिस का रुख सही साबित हुआ है.
  • त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मीडिया को धमकाने पर घिरे, पत्रकारों ने काली पट्टी बांधकर विरोध जताया 
    त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब का मीडिया को धमकाने के मामले में विरोध लगातार बढ़ता ही जा रहा है. राज्य के पत्रकारों के समूह ने दो अक्तूबर को गांधी जयंती के दिन भी काली पट्टी बांधकर विरोध जताया और मुख्यमंत्री से यह बयान तुरंत वापस लेने की मांग की.
  • प्रयागराज: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विवादित पोस्टर लगाया, मामला दर्ज
    उत्तर प्रदेश (UP) के प्रयागराज (Pryagraj) शहर के सिविल लाइंस स्थित सुभाष चौराहे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का विवादित पोस्टर लगाने पर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के स्थानीय नेता संदीप यादव और 4-5 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. सिविल लाइंस चौराहे पर लगाए गए पोस्टर में शीर्षक दिया गया है, “सत्ता संरक्षण प्राप्त इन दुराचारियों के पोस्टर आखिर कब लगवाएगी सरकार.” पोस्टर में योगी आदित्यनाथ के साथ जिन व्यक्तियों की फोटो है, उन पर 376 लिखा हुआ है.
  • आगरा के लिए खुशखबरी, 21 सितंबर से ताजमहल और किले का दीदार कर सकेंगे पर्यटक
    ताजनगरी आगरा के लिए बड़ी खुशखबर है. 21 सितंबर से ताजमहल (Taj Mahal) और आगरा किले (Agra Fort) को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा. एक सितंबर से बाकी सभी स्मारक खुल चुके हैं. सोमवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की समीक्षा के बाद जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने ताजमहल और किला खोलने के आदेश जारी कर दिए. कोरोना वायरस महामारी के कारण ताजमहल और आगरा किला समेत सभी संरक्षित स्मारकों में 17 मार्च से पर्यटकों का प्रवेश बंद कर दिया गया था. अनलॉक-4 की गाइडलाइन के अनुसार एक सितंबर से सिकंदरा, फतेहपुर सीकरी और एत्मौद्दाला समेत छोटे स्मारकों को खोल दिया गया था.
  • पीएम नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र स्वच्छता में फिसड्डी, वाराणसी की रैंकिंग 27 वीं
    गंगा के किनारे बसे शहरों में बनारस स्वच्छता की रैंकिंग में पहले पायदान पर आया है. यह सुनकर लगेगा कि पूरा बनारस साफ़ हो गया है लेकिन ऐसा नहीं है. ये बात शहरों  की ओवरआल  रैंकिंग भी बताती है कि तमाम कोशिशों और  प्रधानमंत्री का संसदीय क्षेत्र होने के बावजूद अभी ये 27 वें पायदान पर है. इसके पहले के सर्वेक्षण में भी बनारस पिछड़ता ही रहा है. साल 2016 के 73 शहरों की रैंकिंग में तो इसका स्थान 65 वां था. साफ़ है कि अभी भी कई जगह इसके दामन में कूड़े और सीवर के पानी के दाग नज़र आते हैं. 
  • शहनाई के उस्ताद बिस्मिल्ला खां की धरोहर पर चला हथौड़ा, संगीत जगत आहत
    उत्तरप्रदेश के वाराणसी (Varanasi) के जिस मकान में उस्ताद बिस्म्मिल्लाह खां (Bissmilaah Khan) की शहनाई परवान चढ़ी, जिसकी हर दरोदीवार पर उस्ताद की यादें सिमटी हैं और फज़्र की नमाज़ के बाद जिस कमरे में उस्ताद शहनाई का रियाज़ करते थे उस कमरे पर हथौड़ा चला है. यह हथौड़ा पारिवारिक विवाद का है, जिसमें एक पक्ष उस मकान को तोड़कर व्यावसायिक केंद्र बनाना चाहता है तो दूसरा पक्ष उसे धरोहर के रूप में बचाए रखना चाहता है. फिलहाल ये विवाद बड़ा हो गया है और इसमें अब स्थानीय प्रशासन ने हस्तक्षेप किया है. वाराणसी प्राधिकरण ने वहां चल रहे काम को रुकवा दिया है.
  • पीपीई किट वाले दुकानदार की समझदारी पर आप बोल ही पड़ेंगे, खाइके पान बनारस वाला...
    UP Coronavirus: देश में कोरोना के मरीज़ रोज ही बढ़ते जा रहे हैं. अनलॉक में दुकानें तो खुल गई हैं पर लोगों को अब पहले से भी ज्यादा सावधानी बरतनी होगी. इसकी मिसाल पेश कर रहे हैं उत्तरप्रदेश (UP) के वाराणसी (Varanasi) के एक पान विक्रेता. यह ऐसे पान दुकानदार हैं जो कोरोना वायरस महामारी को लेकर बरती जा रही लापरवाही को लेकर अपने ग्राहकों का ही नहीं सामने से आने-जाने वालों का भी 'बंद अकल का ताला' खोल देते हैं. पान बेचने वाले ये दुकानदार कोरोना को मात देने के लिए पीपीई किट (PPE Kit) पहनकर पान बेच रहे हैं. इनके इस एहतियात को लोग पसंद भी कर रहे हैं और इनकी दुकान पर आ भी रहे हैं.
  • बनारस के गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों से कल पीएम मोदी चर्चा करेंगे
    पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) बनारस के गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों से गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए चर्चा करेंगे. लॉकडाउन के दौरान इन एनजीओ द्वारा भोजन वितरण तथा अन्य सहायता कार्यों के बारे में बात होगी. लॉकडाउन के दौरान स्थानीय लोगों और इन संगठनों ने जिला प्रशासन के साथ मिलकर यह सुनिश्चित किया कि सभी जरूरतमंद लोगों को खाना तुरंत पहुंचे.
  • जब कोरोनावायरस का शिकार हुए बुज़ुर्ग का शव 48 घंटे तक फ्रीज़र में रखना पड़ा परिवार को
    स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि सांस में तकलीफ से जूझ रहे 71 वर्षीय इस व्यक्ति की मध्य कोलकाता के राजा राममोहनराय सरानी इलाके स्थित उसके घर में सोमवार को मृत्यु हो गयी थी. जिस डॉक्टर के पास वह सोमवार को दिखाने गये थे उसने उन्हें कोरोना वायरस की जांच कराने को कहा था और उन्होंने जांच भी करायी.
  • COVID-19 के चलते मथुरा में इस वर्ष नहीं होगा 'मुड़िया पूनों' मेले का आयोजन
    उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में आषाढ़ पूर्णिमा के अवसर पर प्रतिवर्ष आयोजित किए जाने वाले 'मुड़िया पूनों' मेला का आयोजन इस बार COVID-19 के चलते नहीं किया जाएगा.
  • उत्तर प्रदेश: प्रतापगढ़ में पुत्र ने पिता की डंडा मारकर हत्या की
    थाना कोहंडौर क्षेत्र के नरहरपुर गांव में स्थित भट्ठे पर कार्यरत मजदूर पिता-पुत्र में बुधवार रात शराब के नशे में हुई मारपीट के दौरान पुत्र के डंडे के वार से पिता की मौत हो गई.
  • शीशे के बंद दरवाजे से हुई जोरदार टक्कर, पेट में किरचें चुभने से हुई महिला की मौत
    कोच्चि में एक दुर्भाग्यपूर्ण हादसे में एक महिला की मौत हो गई. महिला की एक बैंक में शीशे के बंद दरवाजे से टकरा जाने से मौत हो गई. महिला इतनी जल्दी में थीं कि उन्होंने शीशे के बंद दरवाजे पर ध्यान नहीं दिया.
  • नहीं मिली मदद तो पेंशन के लिए 100 साल की मां को चारपाई पर लिटाकर बैंक ले जाने को मजबूर हुई बेटी
    कोरोनावायरस और चक्रवात अम्फान से जूझ रहे ओडिशा में एक महिला को बैंक की असंवेदनशीलता के चलते अपनी 100 साल की मां को उनकी पेंशन की रकम लेने के लिए उन्हें चारपाई पर घसीटकर बैंक ले जाना पड़ा. इस घटना की तस्वीरें सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने नाराजगी जताई है. 
  • वकील के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद कानपुर जिला न्यायालय दो दिन के लिए सील
    उन्होंने बताया कि पूरे अदालत परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा इसलिए सभी अदालतों में बृहस्पतिवार और शुक्रवार को सुनवाई सहित विधिक कार्य नहीं होंगे. सचान ने सभी रजिस्ट्रार कार्यालय भी गुरुवार और शुक्रवार को बंद रखने का अनुरोध किया है ताकि कोरोना वायरस संक्रमण को और फैलने से रोका जा सके.
  • ओडिशा में ट्रेनर एयरक्राफ्ट क्रैश में ट्रेनी महिला पायलट सहित 2 की मौत
    ओडिशा के ढेंकनाल जिले में सोमवार को एक दुर्भाग्यपूर्ण हादसा हुआ है. यहां पर एक ट्रेनर एयरक्राफ्ट क्रैश हो गया, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई. हादसे में महिला ट्रेनी पायलट और एयरक्राफ्ट के इंस्ट्रक्टर की मौत हो गई.
  • इमारत की लिफ्ट में फंसे तीन बच्चों को अग्निशमन कर्मियों ने बचाया
    उन्होंने बताया कि बच्चों में दो सगे भाई चार और 12 साल की आयु के थे जबकि एक लड़की आठ साल की थी. ये दोनों पांच मंजिला भवन की तीसरी मंजिल पर लिफ्ट में कुछ तकनीकी दिक्कत की वजह से फंस गए थे. भवन के लोगों और सुरक्षाकर्मियों ने अग्निशमन कर्मियों को फोन किया. इसके बाद एक टीम संबंधित स्थल पर पहुंची और बच्चों को 10 मिनट के भीतर बाहर निकाला.
  • टिड्डी दल पहुंचा नागपुर, ड्रोन से छिड़के जा रहे कीटनाशक
    अधिकारी ने कहा कि उसके बाद टिड्डी दल नागपुर के रामटेक तहसील में अजनी की ओर बढ़ गए. संभागीय संयुक्त निदेशक कृषि रवि भोसले ने बताया, ‘बुधवार सुबह अजनी में ड्रोन का इस्तेमाल कर राज्य कृषि विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों की मौजूदगी में पेड़-पौधों पर कीटनाशकों का छिड़काव किया गया.’ 
  • महाराष्ट्र: औरंगाबाद में COVID-19 का मरीज सरकारी अस्पताल से भागा
    महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में COVID-19 का एक 38 वर्षीय मरीज मंगलवार सुबह एक सरकारी अस्पताल से भाग गया. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.
12345»

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com