Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Asian Games 2018 : एथलेटिक्‍स में जिन्‍सन जॉनसन के बाद महिला 4x400 रिले टीम ने जीता स्‍वर्ण

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Asian Games 2018 : एथलेटिक्‍स में जिन्‍सन जॉनसन के बाद महिला 4x400 रिले टीम ने जीता स्‍वर्ण

Asian Games 2018: 1500 मीटर रेस में भारत को जिन्‍सन जॉनसन ने स्‍वर्ण दिलाया

खास बातें

  1. जॉनसन ने पुरुषों की 1500 मीटर रेस में जीता स्‍वर्ण
  2. महिलाओं की डिस्‍कस थ्रो में सीमा पूनिया ने जीता कांसा
  3. महिलाओं की 1500 मीटर रेस में चित्रा उन्‍नीकृष्‍णन को मिला कांस्‍य
जकार्ता:

एशियन गेम्स 2018 (Asian Games 2018)  के 12वें दिन गुरुवार को भारत ने दो स्‍वर्ण, एक रजत और दो कांस्‍य पदक जीते हैं.पुरुषों की 1500 मीटर दौड़ में जिन्‍सन जॉनसन ने स्‍वर्ण पदक जीता है. महिलाओं की चार गुणा 400 रिले रेस में भी भारत को स्‍वर्ण मिला जबकि इसी रिले रेस के पुरुष वर्ग में उसे रजत पदक हासिल हुआ. भारत एशियन गेम्‍स 2018 में अब तक 13 स्‍वर्ण पदक जीत चुका है. भारत के लिए आज के दो अन्‍य पदक, कांस्‍य के रूप में महिलाओं की 1500 मीटर दौड़ में चित्रा उन्‍नीकृष्‍णन और महिलाओं की ही डिस्‍कस थ्रो इवेंट में सीमा पूनिया ने जीते. भारत अब तक 13 स्‍वर्ण और 21 रजत सहित 59 पदक जीत चुका है. पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल में भारतीय टीम को पेनल्‍टी शूटआउट में मलेशिया से हार का सामना करना पड़ा है. इसके साथ ही ग्रुप मैचों में बड़े अंतर से जीत हासिल करने वाली भारतीय टीम फाइनल में नहीं पहुंच सकी. निर्धारित समय तक दोनों टीमें 2-2 की बराबरी पर थीं. टेनिस में रोहन बोपन्ना और वेसलिन ने पुरुष डबल्स के दूसरे दौर में जगह बना ली है. बता दें कि करोड़ों भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के लिए एशियाई खेल बहुत ही ज्यादा रुचिकर हो चले हैं. खेलप्रेमियो की रुचि इस बात को लेकर बढ़ गई है कि क्या वर्तमान दल एशियन खेलों में भारतीय दल अपने सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को पीछे छोड़ पाएगा. भारत ने साल 2010 में चीन के गुआंगझू में 65 पदक जीते थे. इसमें 14 गोल्ड, 17 रजत और 34 कांस्य पदक शामिल थे. (पदक तालिका)

 

सफलता भरा गुरुवार, एथलेटिक्‍स में मिले दो स्‍वर्ण, एक रजत और दो कांस्‍य
भारत ने 12वें दिन एथलेटिक्‍स की इवेंट को अपने लिए सफलता भरा बनाते हुए दो स्‍वर्ण पदक जीते. 1500 मीटर में जिन्‍सन जॉनसन की स्‍वर्णिम सफलता के बाद महिलाओं की चार गुणा 400 मीटर रिले में भी उसे स्‍वर्ण मिला. हिमा दास, पूवम्मा राजू, सरिताबेन गायकवाड़ और विसमाया वेलुवाकोरोथ की जोड़ी ने तीन मिनट 28.72 सेकेंड का समय निकाल भारत की झोली में दिन का दूसरा स्वर्ण पदक डाला. यह एथलेटिक्स में इस एशियाई खेलों का भारत का नौवां और कुल 13वां स्वर्ण है. भारतीय टीम ने इस स्पर्धा में एकतरफा जीत हासिल की. दूसरे और तीसरे स्थान पर रहने वाली टीमें भारतीय टीम की धावकों से काफी पीछे रहीं. शुरुआत असम की 18 साल की हिमा दास ने की वह बहुत तेजी से आगे निकलीं और उन्हीं के कारण भारत को बढ़त मिली, जिसे बाकी तीन धावकों ने बनाए रखते हुए भारत की झोली में एक और स्वर्ण पदक डाला. रजत बहरीन और कांस्य वियतनाम ने जीता. बहरीन की टीम ने तीन मिनट 30.62 सेकेंड का समय निकाला तो वहीं वियतनाम की टीम ने तीन मिनट 33.23 सेकेंड का समय निकाल तीसरा स्थान हासिल किया.वियतनाम की टीम ने अपना सीजन का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया. वैसे, भारतीय टीम गेम रिकॉर्ड बनाने से .05 सेकेंड से चूक गई. गेम रिकॉर्ड तीन मिनट 28.68 सेकेंड का है. पुरुषों की चार गुणा 400 मीटर रिले में भारतीय दल ने रजत पदक अपने नाम किया है. कुन्हु मोहम्मद, धरुण आयासामी, मोहम्मद अनस और राजीव अरोकिया की टीम ने तीन मिनट 01.85 सेकेंड का समय निकाल दूसरा स्थान हासिल किया. स्पर्धा का स्वर्ण कतर के नाम रहा जिन्होंने तीन मिनट 00.56 सेकेंड का समय निकाला.कतर ने एशियाई रिकार्ड अपने नाम किया है.तीसरे स्थान पर जापान की टीम रही जिन्होंने तीन मिनट 01.94 का समय निकाल कांस्य पदक जीता. इससे पहले, भारतीय एथलीट जिन्‍सन जॉनसन ने गुरुवार को पुरुषों की 1500 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. उन्‍होंने तीन मिनट 44.72 सेकेंड का समय निकाल कर सोने का पदक जीता.800 मीटर में भारत के लिए स्वर्ण जीतने वाले मनजीत सिंह तीन मिनट 46.57 सेकेंड के साथ चौथे स्थान पर रहे. जिन्‍सन को 800 मीटर में रजत पदक मिला था. एथलेटिक्‍स में भारत को आज दो कांस्‍य पदक भी मिले. भारत की अनुभवी डिस्‍कस थ्रोअर सीमा पूनिया ने गुरुवार को कांस्य पदक जीता. 35 साल की सीमा ने फाइनल में तीसरे प्रयास में 62.26 मीटर की दूरी फेंक कर तीसरा स्थान हासिल किया.

पुरुष हॉकी में बड़ी निराशा, सेमीफाइनल में मलेशिया से हारा भारत
भारतीय पुरुष हॉकी टीम एशियन गेम्‍स के सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा है. मलेशिया ने पेनल्टी शूटआउट तक गए रोमांचक मुकाबले में भारत को 7-6 (2-2) से मात दी. भारत को अब कांस्य पदक के लिए शनिवार को मैच खेलना पड़ेगा. इस हार के साथ ही भारत का टोक्यो में 2020 में होने वाले ओलिंपिक के लिए सीधे क्वालीफाई करने का सपना हो पूरा नहीं हो सका. निर्धारित समय में भारत के लिए हरमनप्रीत सिंह और वरुण कुमार जबकि मलेशिया के लिए फैजल सारी और मुहम्मद रहीम ने गोल दागे थे.

 

जूडो: ज्यादा देर खुश नहीं रह सके हर्षदीप

भारतीय जूडो एथलीट हर्षदीप सिंह पुरुषों की 81 किलोग्रांम स्पर्धा के प्री-क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गए. हर्षदीप इस स्पर्धा में तीन बार पेनल्टी मिलने के कारण एलिमिनेट हो गए और उनके प्रतिद्वंद्वी दक्षिण कोरिया के सेंग्सु ली ने 10-0 से जीत हासिल कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. सेंग्सु ने इप्पोन वर्ग में भारतीय खिलाड़ी हर्षदीप के खिलाफ 1-0 की बढ़त बना ली थी. इसी बढ़त को बनाते हुए उन्होंने हर्षदीप को हरा दिया. इससे पहले हर्षदीप ने प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी.  हर्षदीप ने स्पर्धा के अंतिम-32 दौर में श्रीलंका के रजीथा पुष्प कुमार को 10-0 से मात दी थी. वहीं, महिला वर्ग में गरीमा 70 किलोग्राम स्पर्धा के प्री-क्वार्टर फाइनल में हार गईं. गरीमा को इस स्पर्धा में उज्बेकिस्तान की गुलनोजा मातनियाजोवा ने 0-10 से मात दी. गुलनोजा ने गरीमा के खिलाफ इप्पोन वर्ग में ही 1-0 से बढ़त बना ली थी। वजारी और युको में दोनों खिलाड़ियों के बीच स्कोर 0-0 ही था.

यह भी पढ़ें:11वें दिन ट्रिपल जंप में अरपिंदर और हेप्‍टाथलान में स्‍वप्‍ना बर्मन ने जीते स्‍वर्ण

टेबल टेनिस में मौमा दास का सफर हुआ खत्‍म

मौमा दास को महिला एकल वर्ग के प्री-क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा. मौमा को अंतिम-16 दौर में चीनी ताइपे की खिलाड़ी जुयु चेन ने मात दी. चेन ने मौमा को 25 मिनटों तक चले मुकाबले में 4-0 (11-6, 11-5, 11-6,11-6) से मात देकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. 

कुराश में ज्‍योति टोकस हुई बाहर

ज्योति टोकस 78 किग्रा भार वर्ग में प्री-क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के बाद अंतिम 16 की जंग में तुर्केमेनिस्तान की मारिया लोहोवा के हाथों 10-0 से हारकर बाहर हो गईं. इससे पहले ज्योति ने अंतिम-32 दौर में जीत हासिल की. ज्योति ने अंतिम-32 दौर में थाईलैंड की परवानवित मेसरी को 1-0 से मात दी थी.

सेपकटकरा में थाईलैंड से हारी भारतीय महिला टीम
भारत को एशियन गेम्‍स के 12वें दिन गुरुवार को सेपकटकरा में महिलाओं के ग्रुप-बी में थाईलैंड से हार का सामना करना पड़ा. थाईलैंड ने भारतीय महिलाओं को 2-0 से शिकस्त दी. भारत की यह अपने ग्रुप में चौथी हार है. उसे पहले मैच में जापान ने 2-0 से हराया था. दूसरे मैच में उसे मलेशिया से भी इसी स्कोर से हार मिली थी. ग्रुप-बी के तीसरे मैच में वियतनाम ने भारत को 2-0 से ही शिकस्त दी थी.

साइकिलिंग में निराशा

भारतीय महिला साइकलिस्ट एलीना रेजी और देबोराह को 18वें एशियाई खेलों में गुरुवार को महिलाओं की स्प्रिंट स्पर्धा से बाहर होना पड़ा. रेजी और देबोराह प्री-क्वार्टर फाइनल के मुकाबले में जीत हासिल नहीं कर सकीं और स्पर्धा से बाहर हो गईं. प्री-क्वार्टर फाइनल में रेजी को उनकी प्रतिद्वंद्वी और हांगकांग की साइकलिस्ट वाई ली ने हराया, वहीं देबोराह को होई ली ने मात दी. 

मतलब अब करोड़ों भारतीयों की रुचि एशियाई खेलों के इतिहास में भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को लेकर बढ़ गई है. आज वीरवार को कई पदक दांव पर लगे हैं. इनमें पुरुषों और महिलाओं की 1500 रेस, चार गुणा चार सौ मी. रिले रेस का फाइनल और पुरुष वर्ग में पांच हजार मी. दौड़ का फाइनल शामिल है.

इसके अलावा महिलाओं का चक्का-फेंक फाइनल, पुरुषों की 50 मी. पैदल चाल, पुरुष हॉकी टीम का मलेशिया के खिलाफ सेमीफाइनल, पुरुष व महिला वर्ग में टेबल टेनिस के सिंगिल्स मुकाबलों के अलावा और भी प्रतिस्पर्धाएं हैं. 

VIDEO: सुशील कुमार अभी तक सबसे बड़ी निराशा साबित हुए.

कुल मिलाकर भारत के पास अपने पदकों की संख्या में इजाफा करने का अच्छा मौका है. अब देखने वाली बात यही होगी कि कौन इसे भुना पाता है.

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs BAN: शेफाली वर्मा ने ताबड़तोड़ छक्के जड़कर तोड़ा बांग्लादेश का 'गुरूर', देखें पारी का पूरा Video

Advertisement