Gymnastics: दीपा कर्माकर की निगाहें शानदार प्रदर्शन के साथ ओलिंपिक में जगह बनाने पर

Gymnastics: दीपा कर्माकर की निगाहें शानदार प्रदर्शन के साथ ओलिंपिक में जगह बनाने पर

Dipa Karmakar रियो ओलिंपिक में मामूली अंतर से पदक चूक गई थीं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • रियो ओलिंपिक खेलों में पदक चूक गई थीं दीपा
  • 2018 में जर्मनी में वाल्‍ट इवेंट का कांस्‍य जीता था
  • चोट से वापसी के बाद यह उनका पहला टूर्नामेंट था
नई दिल्ली:

भारत की दीपा कर्माकर (Dipa Karmakar) गुरुवार से बाकू और दोहा में शुरू हो रहे कलात्मक जिमनास्टिक्स विश्‍वकप में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर ओलंपिक स्थान हासिल करने की कोशिश करेंगी. दीपा 2016 के रियो ओलिंपिक खेलों में मामूली अंतर से पदक जीतने से चूक गई थीं. दीपा ने नवंबर 2018 में जर्मनी के कोटबस में कलात्मक जिमनास्टिक्स विश्‍वकप की वाल्ट स्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर ओलिंपिक के लिये क्वालीफाई करने का मजबूत दावा पेश किया था. घुटने की चोट से वापसी के बाद यह दीपा का पहला टूर्नामेंट था. इस चोट के कारण जकार्ता एशियाई खेलों में वह वाल्ट फाइनल में नहीं खेल पायी थीं और उन्हें टीम स्पर्धा से हटना पड़ा था.

घर लौटीं दीपा, भीड़ में बहन को देखते ही जीप से उतरकर उनसे जा लिपटीं

हालांकि दीपा (Dipa Karmakar)ने समय पर उबरते हुए कोटबस में तीसरा स्थान हासिल कर ओलिंपिक क्वालीफिकेशन की उम्मीद बनाये रखीं. दीपा ने मेलबर्न में 21 से 24 फरवरी तक हुए विश्‍वकप में नहीं खेलने का फैसला किया था और अब उनकी निगाहें बाकू में 14 से 17 मार्च और दोहा में 20 से 23 मार्च तक होने वाले विश्‍वकप में अच्छे प्रदर्शन पर लगी हैं.

दीपा (Dipa Karmakar) ने कहा, ‘इस बार ओलिंपिक क्वालिफिकेशन कई दौर से होगा जिसमें विश्‍वकप भी शामिल हैं. मैं 2020 ओलंपिक क्वालीफिकेशन के लिये अपने मौके बढ़ाने के लिये सभी संभव दौर में भाग लेना चाहती हूं और पिछले साल जर्मनी में विश्‍वकप में पदक जीतकर मेरे आत्मविश्वास में बढ़ोतरी हुई है. 'दीपा ने कहा, ‘मैं अच्छे प्रदर्शन करके ओलिंपिक की ओर प्रगति करने की उम्मीद लगाये हूं.'

वीडियो: साइना ने पीएम मोदी को भेंट किया बैडमिंटन रैकेट



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com