NDTV Khabar

गोपालगंज हादसे में जांच रिपोर्ट का इंतजार : मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोपालगंज हादसे में जांच रिपोर्ट का इंतजार : मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. गोपालगंज जिले में संदिग्ध परिस्थिति में मरने वालों की संख्या 15 हुई
  2. नीतीश ने कहा, 'संभव है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सच सामने नहीं आया हो'
  3. घटना में जो दोषी पाया जाएगा उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी
पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को कहा कि गोपालगंज में 15 लोगों की मौत का कारण जहरीली शराब हो सकती है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जो भी सच होगा सबके सामने आएगा. सरकार किसी भी चीज को छिपाने नहीं जा रही.

मुख्यमंत्री ने पटना में संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा, "संभव है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सच सामने नहीं आया हो. बिसरा रिपोर्ट से सच सामने आएगा. पूरी जांच रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है. घटना में जो दोषी पाया जाएगा उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी." नीतीश कुमार ने कहा कि पूरे मामले को मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक देख रहे हैं. ऐसे में पर्दा डालने और मामले को दबाने जैसी बात नहीं होनी चाहिए.

उन्होंने कहा, "पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहरीली शराब नहीं भी पाई जा सकती है. यदि कोई व्यक्ति एक दिन पहले शराब पीए और उल्टी कर दे तो यह पोस्टमार्टम में पता नहीं चलेगा कि मौत जहरीली शराब से हुई है. सरकार हर तकनीकी पहलू पर नजर रखे हुए है." उन्होंने कहा कि अगर जहरीली शराब से मौत की पुष्टि हो जाती है तब सरकार मृतक के परिजनों को मुआवजा देगी और नए उत्पाद अधिनियम के तहत दोषियों को सजा दी जाएगी.


मृतकों की संख्या 15 तक पहुंची
बिहार के गोपालगंज जिले में संदिग्ध परिस्थिति में मरने वालों की संख्या 15 तक पहुंच गई है जबकि अभी भी कई लोग गंभीर रूप से बीमार हैं. इस घटना की वजह जहरीली शराब पीना बताई जा रही है. गोपालगंज के जिलाधिकारी राहुल कुमार ने बताया कि बुधवार की रात इलाजरत दो और लोगों की मौत हो गई जिससे मरने वालों की संख्या 15 तक पहुंच गई है. उन्होंने बताया कि अभी भी चार लोगों का इलाज पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) में चल रहा है.

टिप्पणियां

उन्होंने बताया कि बुधवार देर रात शवों के पोस्टमार्टम की प्रारंभिक रिपोर्ट आई जिसमें किसी के भी शरीर से शराब की मात्रा नहीं पाई गई. उन्होंने बताया कि जिन लोगों की मौत हुई है, उनके परिजनों ने शराब पीने की बात कही है. इस आधार पर ही मृतकों का विसरा एकत्र किया गया है और फोरेंसिक प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा गया है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement