NDTV Khabar

नोटबंदी : पश्चिम बंगाल में तृणमूल के लिए बड़ी चुनौती बनकर उभरी भाजपा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नोटबंदी : पश्चिम बंगाल में तृणमूल के लिए बड़ी चुनौती बनकर उभरी भाजपा

प्रतीकात्मक फोटो.

कोलकाता:

नोटबंदी को लेकर छिड़ी देशव्यापी बहस के बीच पश्चिम बंगाल की राजनीति में भाजपा के लिए यह फैसला निर्णायक बदलाव की पहल करता और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लिए मुख्य चुनौती के तौर पर उभरता प्रतीत हो रहा है.

नोटबंदी के साये में सम्पन्न बंगाल उपचुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल ने इस फैसले के खिलाफ जबरदस्त प्रचार अभियान चलाया था, जबकि भाजपा इसके समर्थन में थी. कांग्रेस और माकपा ने भी इस फैसले का विरोध किया था.

बहरहाल, भाजपा को मिले मत में इजाफे से पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व खुश है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसकी सराहना की और इस ‘‘उत्साहवर्धक प्रदर्शन’’ के लिए बंगाल भाजपा इकाई की पीठ भी थपथपाई.

उपचुनाव के नतीजों के बाद मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘मैं बंगाल भाजपा की उनके उत्साहवर्धक प्रदर्शन के लिए सराहना करता हूं. पश्चिम बंगाल के शानदार लोगों की सेवा के लिए भाजपा पूरी कर्मठता से प्रतिबद्ध है.’’ तृणमूल ने कूचबिहार और तामलुक लोकसभा सीटों पर करीब पांच लाख मतों के जबरदस्त अंतर से जीत दर्ज की और मोंटेश्वर विधानसभा सीट पर उसने 1.27 लाख मतों से बहुमत हासिल किया. तृणमूल ने अपनी इस जीत को नोटबंदी के खिलाफ ‘‘जनता का विरोध’’ करार दिया था.


टिप्पणियां

अपने छह महीना पुराने गठबंधन को तोड़ने का फैसला करने वाली कांग्रेस और माकपा नीत वाम मोर्चा को इन उपचुनावों में भारी राजनीतिक क्षति हुई, जबकि भाजपा ने बंगाल में तृणमूल के लिए मुख्य विपक्ष के तौर पर उभरते हुए संतोषजनक बढ़त हासिल की.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सपना चौधरी के डांस का फिर चला जादू, वायरल हुआ धमाकेदार Video

Advertisement