NDTV Khabar

AAP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी रविवार को, पार्टी के भविष्य और गुजरात चुनाव पर चर्चा

सूत्रों की माने तो पार्टी इस कार्यकारिणी की बैठक में गुजरात विधानसभा चुनाव लड़ने के साथ-साथ अगले साल दूसरे राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ने पर चर्चा कर सकती है.

25 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
AAP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी रविवार को, पार्टी के भविष्य और गुजरात चुनाव पर चर्चा

4 जून को दिल्ली में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक (फाइल फोटो )

खास बातें

  1. 4 जून को है राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक
  2. गुजरात में विधानसभा चुनाव लड़ने का हो सकता है फैसला
  3. पार्टी के 26 पदाधिकारी होंगे शामिल
नई दिल्ली: पंजाब, गोवा और दिल्ली नगर निगम चुनाव में मिली एक के बाद एक करारी हार और भ्रष्टाचार के आरोपों के साथ पार्टी में कलह के बीच आम आदमी पार्टी ने 4 जून को दिल्ली में अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है इस साल यानी साल 2017 में यह पार्टी की पहली राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक है. सूत्रों की माने तो पार्टी इस कार्यकारिणी की बैठक में गुजरात विधानसभा चुनाव लड़ने के साथ-साथ अगले साल दूसरे राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ने पर चर्चा कर सकती है.

लगातार चुनावों में मिली हार के बाद गुजरात में आम आदमी पार्टी के चुनाव लड़ने पर संदेह बरकरार है लेकिन सूत्रों की माने तो राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी इस पर फैसला ले सकती है. राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इसमें पार्टी के तमाम नेता हाल ही में हुए विवादों और आपसी कलह पर भी चर्चा करेंगे. कपिल मिश्रा विवाद, अमानतुल्लाह खान को लेकर विवाद और कुमार विश्वास के साथ चल रही खींचतान इस राष्ट्रीय कार्यकारिणी में अहम मुद्दे हो सकते हैं. 

कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी अपने विस्तार पर भी चर्चा करेगी. लेकिन नजर सबकी इस बैठक में पार्टी के अंदर भीतरघात और कलह पर होगी क्योंकि हाल ही में नेताओं की आपसी कलह खुलकर सामने आने के बाद पार्टी के टूटने की आशंका भी जताई जा रही थी. यह बैठक मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर होगी इसमें राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सभी 26 पदाधिकारी शामिल होंगे.

ध्यान देने वाली बात ये है कि पार्टी के दो वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया और कुमार विश्वास के बीच भी संबंधों में खटास आई हुई है जबकि ये दोनों बचपन के दोस्त हैं. दोनों सीधे कुछ नहीं कह रहे हैं लेकिन इशारों में नाराज़गी सार्वजनिक रूप से दिख रही है. कुमार विश्वास ने बुधवार को ट्वीट किया "करें तो किस से करें शिकवे ,करें किस से गिले ? कहां चले थे, कहां पहुंचे हैं ,कहां पे मिले ?" जिसके जवाब में मनीष सिसोदिया ने ये रिट्वीट किया 'जब किसी से कोई गिला रखना सामने अपने आईना रखना'
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement