NDTV Khabar
होम | राजनीति

राजनीति

  • नागरिकता कानून को लेकर नीतीश कुमार की पार्टी में क्यों मचा है घमासान?
    देश में नया नागरिकता कानून (Citizenship law) लागू होने के बाद कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं तो बिहार के जनता दल यूनाइटेड (JDU) के नेताओं के बीच इस कानून के समर्थन और विरोध पर घमासान मचा हुआ है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) मौन हैं. विवाद की शुरुआत जेडीयू के लोकसभा में बिल को समर्थन देने से हुई, जब चुनावी रणनीतिकार और पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर सवाल उठाया.
  • क्या है नागरिकता कानून? बीजेपी जनता को बताने के लिए देश भर में चलाएगी प्रचार अभियान
    नागरिकता कानून (Citizenship law) का प्रचार किया जाएगा. बीजेपी (BJP) इसके बारे में पूरे देश की जनता को बताने के लिए बड़े पैमाने पर प्रचार अभियान चलाएगी. इसके लिए पार्टी अपने नेताओं और प्रवक्ताओं को तैयार करने के लिए देश भर में वर्कशॉप का आयोजन करेगी. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने संसदीय दल की बैठक में कहा था कि कानून के बारे मे लोगों को बताया जाए.
  • केजरीवाल सरकार की डोरस्टेप डिलीवरी योजना का सक्सेस रेट 91 प्रतिशत, 30 और योजनाएं जोड़ीं
    दिल्ली की अरविंद केजरीवाल की महत्वाकांक्षी डोर स्टेप डिलीवरी योजना में अब 30 नई सेवाएं शामिल कर दी गई हैं. अभी तक सरकार 70 सेवाओं की होम डिलीवरी दे रही थी लेकिन अब 100 सेवाओं की होम डिलीवरी देगी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इस बात की जानकारी देते हुए कहा ये योजना बृहद कामयाब है.
  • पासपोर्ट पर छपा कमल का निशान! विदेश मंत्रालय ने 'राष्ट्रीय पुष्प' बताकर दी सफाई
    पासपोर्ट पर कमल का निशान छापे जाने पर विपक्ष मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है. दूसरी तरफ विदेश मंत्रालय ने कमल के निशान पर सफाई दी है कि यह फर्जी पासपोर्ट की पहचान करने के लिए सुरक्षा के मद्देनजर उठाया गया कदम है. कमल का निशान बीजेपी का चुनाव चिन्ह है. इस मुद्दे पर विदेश मंत्रालय कहता है कि कमल हमारा राष्ट्रीय पुष्प है. आगे भी पासपोर्टों पर अलग-अलग राष्ट्रीय प्रतीक छापे जाएंगे.
  • Exclusive: सरकारी आंकड़े ने खोली बेरोजगारी की पोल, किसी राज्य में शून्य तो कहीं 216 लोगों को मिली नौकरी
    प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP) के तहत 31 अक्टूबर तक त्रिपुरा में एक भी शख़्स को नौकरी नहीं मिली. तो वहीं, केरल में सिर्फ 72, जम्मू-कश्मीर में 216, गुजरात में 264, तेलंगाना में 256, राजस्थान में 312 और दिल्ली में कुल 368 लोगों को ही नौकरी मिल पाई.
  • नागरिकता संशोधन विधेयक पर BJP ने कैसे भेदा राज्यसभा का अभेद्य दुर्ग? पढ़ें- इनसाइड स्टोरी
    इशारा मिल रहा है कि कांग्रेस के भीतर सब कुछ सामान्य नहीं है और बीजेपी एक बार फिर कांग्रेस में सेंध लगाने में कामयाब रही है.
  • तीन तलाक कानून, आर्टिकल-370 और CAB के बाद BJP का अगला कदम क्या होगा? 
    नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) के संसद के दोनों सदनों से पास होने के साथ ही केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी के अगले कदम को लेकर कयास लगने शुरू हो गए हैं.
  • शरणार्थियों के लिए ईश्वर का वरदान साबित हुए हैं मोदी जी : शिवराज सिंह चौहान
    नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment bill) राज्यसभा में पास होने के बाद पूर्व सीएम शिवराज सिंह (Shivraj Shingh Chauhan) चौहान ने कहा कि सचमुच में हमारे लाखो वे शरणार्थी भाई-बहन जिनकी जिंदगी में उन्हें केवल यातना मिली थी वे चाहे पाकिस्तान से आए हों या बांग्लादेश से, उन्हें नया जीवन मिला है. उन्हें यातनाओं से मुक्ति मिली है. इस ऐतिहासिक बिल पारित करने के लिए मैं प्रधानमंत्री मोदीजी (PM Modi) का अभिनंदन करता हूं. वो शरणार्थियों के लिए ईश्वर का वरदान साबित हुए हैं.
  • Citizenship Amendment Bill : अमित शाह ने कहा- कांग्रेस नेताओं के बयान और पाकिस्‍तान के नेताओं के बयान एक जैसे
    Citizenship Amendment Bill: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) पर बहस का जवाब दिया. उन्होंने कहा कि सबसे पहले आर्टिकल 14 पर सवाल उठाया गया. यह बिल क्‍यों? के जवाब में अमित शाह ने कहा कि यह बिल कभी न लाना पड़ता अगर इस देश का बंटवारा नहीं हुआ होता. बंटवारा के कारण उत्‍पन्‍न हुई समस्‍या के कारण यह बिल लाना पड़ा. अगर पहले कोई सरकार यह बिल लाती तो अभी इसे लाने की जरूरत नहीं होती. कल कोई चुनाव नहीं है. देश की समस्‍या को कब तक टाला जा सकता है?
  • TOP 5 NEWS: नागरिकता संशोधन बिल पर राज्यसभा में जोरदार बहस, पूर्वोत्तर में कड़ी सुरक्षा
    नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) आज राज्यसभा में पेश किया गया. राज्यसभा में अमित शाह ने विपक्ष से पूछा कि क्या चाहते हैं? पूरी दुनिया से मुसलमान यहां आएं और उन्हें हम नागरिक बना दें, देश कैसे चलेगा. गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि 'हम किसी भी देश से आने वाले मुस्लिमों को अपने देश की नागरिकता दे दें.' नागरिकता संशोधन बिल पर शिव सेना (Shiv Sena) के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने सदन में कहा कि जो बिल का समर्थन करेंगे वो देश भक्‍त होंगे और जो नहीं करेंगे वे देशद्रोही होंगे. बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (JP Nadda) ने विधेयक को लेकर कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) की सलाह पर इस बिल को लाया गया है.
  • इलेक्टोरल बॉन्ड से सबसे ज्यादा चंदा दिया गया : रिपोर्ट
    वित्त वर्ष 2018-19 में तीन राष्ट्रीय और 22 क्षेत्रीय दलों ने इलेक्टोरल बॉन्ड के माध्यम से 50.54 फीसदी या 587.87 करोड़ रुपये जुटाया.
  • नागरिकता संशोधन बिल आज लोकसभा में पेश होगा, बीजेपी ने व्हिप जारी किया
    नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship (Amendment) Bill) सोमवार को लोकसभा में पेश किया जाएगा. बीजेपी ने अपने सांसदों को तीन लाइन का व्हिप जारी किया है. सोमवार से बुधवार तक के लिए यह व्हिप है. सांसदों से दोनों सदनों में मौजूद रहने के लिए कहा गया है. केंद्रीय गृह मंत्री लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल (CAB) पेश करेंगे. इस बिल को लेकर लोकसभा में जोरदार बहस होने के आसार हैं.
  • लोकसभा और विधानसभाओं में एससी, एसटी आरक्षण की अवधि बढ़ाने के लिए बिल आज होगा पेश
    लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में अनुसूचित जाति (एससी) एवं अनुसूचित जनजाति (एसटी) के लिए आरक्षण की सीमा 10 वर्ष और बढ़ाई जाएगी, लेकिन विधायिका में एंग्लो-इंडियन समुदाय के व्यक्ति को मनोनीत करने की व्यवस्था अगले वर्ष जनवरी में समाप्त हो जाएगी. संसद के निचले सदन में सोमवार को पेश किए जाने के लिए सूचीबद्ध एक विधेयक में यह प्रस्ताव किए गए हैं. उल्लेखनीय है कि लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में इन श्रेणियों के लिए आरक्षण 25 जनवरी 2020 को समाप्त होने वाला है. संविधान (126वां) संशोधन विधेयक के मुताबिक जब संविधान लागू हुआ था, तब लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में अनुसूचित जाति एवं अनूसूचित जनजाति के लिए आरक्षण की अवधि 70 वर्ष निर्धारित की गई थी.
  • झारखंड चुनाव : महंगी प्याज पर सवाल से बचने के लिए स्मृति ईरानी ने हेलीकॉप्टर का गेट बंद किया
    प्याज की बढ़ती कीमत पर झारखंड चुनाव में भाजपा को कितना फायदा होगा या नुकसान होगा? यह प्रश्न पूछने पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी उल्टे पांव चलते हुए हेलीकॉप्टर में जा बैठीं. वहां पर भी पूछने पर उन्हें इस सवाल का जवाब नहीं सूझा और उन्होंने हेलीकॉप्टर का दरवाजा बंद कर दिया. भाजपा की स्टार प्रचारक और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी उन्नाव की घटना पर किए गए सवाल पर भी चुप्पी साधे रहीं. स्मृति ईरानी विधानसभा चुनवा के लिए प्रचार रैली को संबोधित करने के लिए झारखंड आई थीं.
  • हैदराबाद एनकाउंटर : साध्वी ने मेनका गांधी पर निशाना साधा, कहा- वे सिर्फ 'जानवरों' से करती हैं प्यार
    बीजेपी की सांसद मेनका गांधी के हैदराबाद में एनकाउंटर में बलात्कार और हत्या के आरोपियों की मौत के मुद्दे को लेकर पुलिस की आलोचना पर साध्वी प्राची ने आज विवाद पैदा करने वाला बयान दिया. उन्होंने मेनका गांधी के 'पशु प्रेम' को लेकर उन्हें निशाना बनाया. मेनका गांधी ने हैदराबाद एनकाउंटर पर कहा था कि फिर फायदा क्या है अदालत का, फिर तो आप बंदूक उठाओ जिसको मारना हो मारो. इस पर साध्वी प्राची ने कहा कि वे सिर्फ जानवरों से प्यार करती हैं, इसलिए ‘जानवरों’ को बचाने की कोशिश कर रही हैं.
  • दिल्ली में आग की घटना के मुद्दे पर राजनीति नहीं होनी चाहिए : प्रिंस राज पासवान
    बिहार के समस्तीपुर से लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद प्रिंस राज पासवान आज एलएनजेपी अस्पताल पहुंचे. वे दिल्ली की फैक्ट्री में आग लगने से घायल हुए लोगों और मृतकों के परिजनों से मिले. घायलों को देखने के साथ उन्होंने कहा कि यह बहुत ही दुखद घटना है. गरीब लोग मारे गए हैं. केंद्र सरकार और हमारे स्वास्थ्य मंत्री यह सुनिश्चित करेंगे कि मृतकों के शव उनके क्षेत्र तक पहुंच सकें. हमारे पार्टी के कार्यकर्ता इन लोगों के परिवार वालों से संपर्क में हैं.
  • कांग्रेस एमएलए ने दी थी जिंदा जलाने की धमकी, प्रज्ञा ठाकुर FIR दर्ज न होने पर धरने पर बैठीं
    भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर शनिवार को अचानक भोपाल के कमला नगर थाने में पहुंचीं और उन्होंने कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की. उनके साथ बीजेपी के कार्यकर्ता भी मौजूद थे. गोवर्धन दांगी ने प्रज्ञा ठाकुर को जिंदा जलाने की धमकी दी थी. पुलिस ने प्रज्ञा ठाकुर की शिकायत दर्ज नहीं की और उसके बाद वे अपने समर्थकों के साथ थाने के बाहर धरने पर बैठ गईं.
  • नागरिक संशोधन विधेयक को मंजूरी नहीं देगा पंजाब : कैप्टन अमरिंदर सिंह
    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नागरिक संशोधन विधेयक का विरोध किया है. कैप्टन का कहना है कि नागरिक संशोधन विधेयक भारत की लोकतांत्रिक भावना के खिलाफ है इसलिए वह इसका विरोध करते हैं. वह शनिवार को नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए जहां उन्होंने नागरिक संशोधन विधेयक को लेकर अपना विरोध जताया.
  • पूर्वांचल विरोधी है बीजेपी, प्रदर्शन के जरिए मेरे घर पर हमले की साजिश रची : संजय सिंह
    भारतीय जनता पार्टी द्वारा किराये पर लाए गए लोगों से घर पर प्रदर्शन कराने पर राज्यसभा सदस्य व आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रभारी संजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस की भांति भाजपा भी दिल्ली से समाप्त होने वाली है. दिल्ली में भाजपा के पास चुनाव लड़ने के लिए कोई मुद्दा नहीं बचा है. मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा के नेता आपस में ही लड़ रहे हैं. ऐसे में बेवजह मेरे घर के सामने प्रदर्शन करना इस बात को साबित करता है कि भाजपा दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले ही अपनी हार स्वीकार कर चुकी है. यह बात आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कही.
  • कांग्रेस के दो सांसदों पर निलंबन की तलवार लटकी, संसदीय कार्यमंत्री ने नोटिस दिया
    कांग्रेस के केरल से दो लोकसभा सांसदों पर निलंबन की तलवार लटक गई है. सूत्रों के अनुसार संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को नियम 374 के तहत नोटिस दिया है. कांग्रेस के दो सांसदों टीएन प्रतापन और डीन कुरियाकोस के ख़िलाफ़ नोटिस है. इसमें मांग की गई है कि वे सदन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से बिना शर्त माफी मांगें नहीं तो उन्हें नियम 374 के तहत 5 पांच दिन के लिए सस्पेंड किया जाए.
«2345678910»

Advertisement