NDTV Khabar

बचपन की फोटो शेयर कर प्रियंका गांधी ने किया दादी 'इंदिरा' को याद

प्रियंका गांधी ने "Invictus" कविता की पंक्तियां शेयर की हैं.ये पंक्तियां मुश्किल वक्त में भी मज़बूती से खड़े रहने की बात करती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बचपन की फोटो शेयर कर प्रियंका गांधी ने किया दादी 'इंदिरा' को याद

प्रियंका ने दादी इंदिरा की जयंती पर इंग्लिश कवि विलियम अर्नेस्ट हेनली की कविता शेयर की  है.

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) ने देश की पूर्व प्रधानमंत्री और अपनी दादी इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) को याद करते हुए एक कविता ट्वीट की है और अपनी दादी को सबसे बहादुर महिला बताया है. अपनी दादी की जयंती पर प्रियंका ने दादी संग एक ब्लैक एंड व्हाइट फोटो ट्वीट किया है. इस फोटो पर प्रियंका ने कैप्शन के तौर पर इंग्लिश कवि विलियम अर्नेस्ट हेनली (William Ernest Henley) की कविता शेयर की है. इस फोटो में प्रियंका अपनी दादी का हाथ थामे हुए हैं और मुस्कुरा रही हैं. बता दें कि आज पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 102वीं जयंती है. 

प्रियंका गांधी ने "Invictus" कविता की पंक्तियां शेयर की हैं. ये पंक्तियां मुश्किल वक्त में भी मज़बूती से खड़े रहने की बात करती हैं. प्रियंका ने ट्वीट किया कि "In the fell clutch of circumstance, I have not winced nor cried aloud. Under the bludgeonings of chance, my head is bloody, but unbowed."
 


बता दें कि इससे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ने इंदिरा गांधी की समाधि शक्ति स्थल पर जाकर श्रद्धांजलि दी. इसके साथ-साथ पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) और कई राजनेताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री को याद किया. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट कर अपनी दादी को 'आयरन लेडी' (Iron Lady) बताया. कांग्रेस पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो साझा किया है जिसमें कई महिलाएं पूर्व प्रधानमंत्री के बारे में बात करती नजर आती हैं. 

टिप्पणियां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi) ने भी इंदिरा गांधी को याद करते हुए ट्वीट किया और पूर्व प्रधानमंत्री को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी. बता दें कि इंदिरा गांधी साल 1966 से 1977, 1980 से 1984 के दौरान देश की प्रधानमंत्री रहीं. साल 1984 में उनकी हत्या कर दी गई.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement