Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पंजाब : संगरूर में स्कूल वैन से घर लौट रहे थे बच्चे, अचानक लगी आग, 4 बच्चों की दर्दनाक मौत

पंजाब (Punjab) के संगरूर (Sangrur) जिले में शनिवार को एक स्कूल वैन में आग लग जाने से चार बच्चे जिंदा जल गए. पुलिस ने बताया कि घटना लोंगोवाल-सिडसाचर रोड पर हुई और हादसे के समय वैन में 12 बच्चे सवार थे.

पंजाब : संगरूर में स्कूल वैन से घर लौट रहे थे बच्चे, अचानक लगी आग, 4 बच्चों की दर्दनाक मौत

वैन में सवार अन्य 8 बच्चों को बचा लिया गया. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • पंजाब के संगरूर जिले की घटना
  • स्कूल वैन में आग से 4 बच्चों की मौत
  • वैन में सवार अन्य 8 बच्चों को बचाया
संगरूर:

पंजाब (Punjab) के संगरूर (Sangrur) जिले में शनिवार को एक स्कूल वैन में आग लग जाने से चार बच्चे जिंदा जल गए. पुलिस ने बताया कि घटना लोंगोवाल-सिडसाचर रोड पर हुई और हादसे के समय वैन में 12 बच्चे सवार थे. उन्होंने बताया कि 8 बच्चों को नजदीक के खेतों में काम कर रहे लोग सुरक्षित निकालने में कामयाब रहे. हालांकि, तीन साल की एक बच्ची सहित चार बच्चों की जान नहीं बचाई जा सकी. इस बीच, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने पूरी घटना की मजिस्ट्रेट से जांच कराने के आदेश दिए हैं.

मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'संगरूर में स्कूल वैन में लगी आग में चार बच्चों की मौत की खबर सुनकर दुखी हूं. घायलों को अस्पताल ले जाया गया है. संगरूर के जिला उपायुक्त और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक घटनास्थल पर हैं और मैंने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं. दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी.' पुलिस ने बताया कि हादसे के समय बच्चे स्कूल से घर लौट रहे थे. घटनास्थल पर पहुंचे संगरूर के जिला उपायुक्त घनश्याम थोरी ने मीडिया को बताया कि पुलिस ने स्कूल के प्रधानाचार्य, प्रबंधन, वैन के मालिक एवं चालक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) के तहत मामला दर्ज किया है.

महाराष्ट्र के नासिक में तीन लोगों ने पेट्रोल छिड़क कर महिला को आग लगाई, 50 प्रतिशत झुलसी

घनश्याम थोरी ने कहा, 'प्राथमिक जांच में संकेत मिला है कि वैन खस्ताहाल थी और जिला परिवहन अधिकारी (डीटीओ) के मुताबिक उसे गैर-कानूनी तरीके से चलाया जा रहा था. अगर डीटीओ या उस कार्यालय का कोई भी अधिकारी दोषी पाया गया तो उनके खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया जाएगा.' थोरी ने बताया कि स्कूल लोंगोवाल गांव में स्थित है और हाल में गांव के बाहर बनी इमारत में कक्षाएं स्थानांतरित की गई थीं. जिला उपायुक्त के मुताबिक, 'स्कूल पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड से अस्थायी रूप से संबद्ध है.' संगरूर जिला अस्पताल के वरिष्ठ सर्जन डॉ. राजकुमार ने कहा कि जिले में किसी भी बच्चे को सरकारी अस्पताल में भर्ती नहीं कराया गया हैं. उन्होंने बताया कि जिन बच्चों को बचाया गया है उन्हें परिवार अपने घर ले गए.

बेंगलुरु के एक रेस्तरां में सिलेंडर से गैस रिसाव होने से लगी आग, 11 लोग झुलसे

पुलिस सूत्रों ने बताया कि वैन 1990 मॉडल की थी और उसमें एलपीजी किट लगा था एवं सड़क पर चलने लायक नहीं थी. वाहन में आग लगने पर चालक मौके से भाग गया. पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंद्र सिंगला ने मीडिया को बताया कि सिमरन पब्लिक स्कूल ने शुक्रवार को ही बहुत पुरानी वैन खरीदी थी. वह संगरूर के विधायक भी हैं. उन्होंने मृतक बच्चों के परिवार को पांच-पांच लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की. घटनास्थल पर पहुंचे संगरूर के सांसद और आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता भगवंत मान ने संवाददाताओं को बताया कि स्कूल ने पहले ही दिन शनिवार को इस वैन का इस्तेमाल बच्चों को लाने-ले जाने के लिए किया था. उन्होंने स्कूल के अधिकारियों और वैन मालिक पर हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की.

ओडिशा : बिजली के तार के संपर्क में आने से बस में आग लगी: नौ यात्रियों की मौत, 22 अन्य घायल

भगवंत मान ने बताया कि मृतकों में तीन साल की बच्ची है जो पहली बार स्कूल गई थी. उन्होंने बताया कि मरने वाले दो बच्चे एक ही परिवार के हैं. इस बीच, AAP और शिरोमणि अकाली दल (SAD) ने घटना की निंदा की और पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की. पंजाब में AAP के प्रमुख हरपाल सिंह चीमा ने ट्वीट किया, 'मैं स्कूल वैन में एलपीजी के इस्तेमाल की निंदा करता हूं जिसकी वजह से यह हादसा हुआ. प्रशासन और स्कूल पर सख्त कार्रवाई की जरूरत है.' घटना के बाद मृतक बच्चों के माता-पिता सहित कई ग्रामीणों ने धरना दिया. उन्होंने दोषियों पर कार्रवाई होने तक शव लेने से इनकार कर दिया था.

VIDEO: महिला लेक्चरर की हुई मौत, पिछले सप्ताह एक सिरफरे ने पेट्रोल छिड़ककर लगा दी थी आग



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)