NDTV Khabar

पठानकोट हमले में अगवा होने का दावा करने वाले एसपी को रेप के मामले में 10 साल की जेल 

गुरदासपुर के पूर्व पुलिस अधीक्षक सलविंदर सिंह (Salwinder Singh) को भ्रष्टाचार और रेप के मामले में 10 साल की सजा सुनाई गई है. सजा सुनाए जाने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पठानकोट हमले में अगवा होने का दावा करने वाले एसपी को रेप के मामले में 10 साल की जेल 

सलविंदर सिंह (Salwinder Singh) को भ्रष्टाचार और रेप के मामले में 10 साल की सजा सुनाई गई है.

खास बातें

  1. सलविंदर सिंह को 10 साल की सजा
  2. रेप और भ्रष्टाचार के मामले में सुनाई गई सजा
  3. सजा सुनाए जाने के बाद भेजा गया जेल
नई दिल्ली :

पठानकोट में आतंकवादी हमले के दौरान खुद को आतंकियों द्वारा अगवा किये जाने का दावा करने वाले गुरदासपुर के पूर्व पुलिस अधीक्षक सलविंदर सिंह (Salwinder Singh) को भ्रष्टाचार और रेप के मामले में 10 साल की सजा सुनाई गई है. सजा सुनाए जाने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है. गौरतलब है कि पंजाब के पाकिस्तान से सटे गुरदासपुर जिले में पुलिस अधीक्षक (एसपी) रहे सलविंदर सिंह (Salwinder Singh) ने पठानकोट एयरफोर्स बेस पर हुए हमले के बाद दावा किया था कि हमला करने वाले आतंकवादियों ने उनके रसोइये और एक जौहरी मित्र के साथ उन्हें अगवा कर लिया था. आतंकवादियों ने उनकी सरकारी कार छीन ली थी, और उसी के ज़रिये वे पठानकोट में दाखिल हुए, और फिर 2 जनवरी को बेस पर हमला किया.

पठानकोट हमले के बाद विवादों में आए पंजाब पुलिस अधिकारी सलविंदर सिंह पर अब लगा रेप का आरोप


एयरफोर्स बेस पर हुए इस हमले में सात सुरक्षाकर्मी शहीद हुए थे, जबकि 20 घायल हो गए थे. आपको बता दें कि पठानकोट में आतंकी हमले के बाद सलविंदर सिंह (Salwinder Singh) के दावों पर सवाल खड़े हुए थे और वे जांच एजेंसियों के रडार पर आ गए थे. एजेंसियों ने सलविंदर सिंह से पूछताछ की थी. हालांकि बाद में खबर आई कि लाई डिटेक्टर टेस्ट समेत अन्य वैज्ञानिक जांच में सलविंदर सिंह के खिलाफ कुछ भी प्रतिकूल नहीं पाया गया. इसके बाद एनआईए ने सलविंदर सिंह को क्लीन चिट दे दी. (इनपुट-समाचार एजेंसी ANI से)

टिप्पणियां

पठानकोट हमला मामले में एनआईए ने एसपी सलविंदर सिंह को दी क्लीन चिट : सूत्र 

VIDEO: न्यूजटाइम इंडिया: पठानकोट में होगी कठुआ मामले की सुनवाई



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement