छत्तीसगढ़ : 11 साल की बच्ची ने अपना जीभ काटकर शिव लिंग पर चढ़ाया

छत्तीसगढ़ : 11 साल की बच्ची ने अपना जीभ काटकर शिव लिंग पर चढ़ाया

प्रतीकात्मक तस्वीर

रायगढ़:

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में धार्मिक आस्था और अंधविश्वास के कारण 11 वर्षीय एक आदिवासी बच्ची ने अपनी जीभ काटकर शिव लिंग पर चढ़ा दी।

रायगढ़ जिले के अनुविभागीय दंडाधिकारी प्रकाश सर्वे ने बताया कि जिला मुख्यालय से लगे सागीतराई गांव में बालिका चमेली सिदार ने धार्मिक आस्था और अंधविश्वास के कारण भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए अपनी जीभ काटकर शिवलिंग पर चढ़ा दी।

गांव वालों ने बच्ची को अस्पताल ले जाने से भी रोका
सर्वे ने बताया कि मामला धार्मिक आस्था से जुड़े होने के कारण ग्रामीणों ने बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल ले जाने से मना कर दिया है। जिला प्रशासन द्वारा बच्ची के इलाज के लिए मौके पर ही चिकित्सक की व्यवस्था की गई है।

इलाके में आस्था का केंद्र बनी बच्ची
अधिकारी ने बताया कि रायगढ़ जिला मुख्यालय से लगभग तीन किलोमीटर दूर सागीतराई निवासी चमेली भगवान शिव की भक्त है। शनिवार को वह करीब के शिव मंदिर गई और अपनी जीभ काटकर शिवलिंग पर चढ़ा दी। इस दौरान चमेली बेहोश हो गई। देर तक जब वह घर नहीं लौटी, तब उसके परिजनों ने उसकी खोज शुरू की। उन्होंने बताया कि चमेली पिछले पांच दिनों से मंदिर में बैठी है तथा वह आस्था का केंद्र बन गई है। मंदिर में भीड़ लगने के बाद गांव के सरपंच गोपाल ने इसकी जानकारी पुलिस को दे दी है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पहले भी युवतियों ने चढ़ाया है जीभ का चढ़ावा
ग्रामीणों के अनुसार इस शिव मंदिर में पूर्व में भी तीन युवतियों ने अपनी जीभ काटकर शिव लिंग पर चढ़ाई है। बिना उपचार के ठीक होने के कारण ग्रामीण इन घटनाओं को दैवीय चमत्कार मान रहे हैं।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)