छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर में वायुसेना ने की फायरिंग की प्रैक्टिस

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर में वायुसेना ने की फायरिंग की प्रैक्टिस

प्रतीकात्मक तस्वीर

रायपुर:

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र में नक्सली हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के सात जवानों की मौत की घटना के दो दिनों बाद भारतीय वायुसेना ने इस क्षेत्र में हवाई फायरिंग का अभ्यास किया।

भारतीय वायुसेना के एयर कोमोडोर अजय शुक्ला ने बताया कि वायुसेना के तीन हेलीकॉप्टरों ने सुकमा जिले के चिह्नांकित क्षेत्र में उड़ान भरी। इन एमआई 17 हेलीकॉप्टरों द्वारा हवाई फायरिंग का अभ्यास किया गया। उन्होंने बताया कि यह पूरी कार्रवाई वायुसेना के विशेष प्रशिक्षण प्राप्त किए गए कमांडो दस्ता गरुड़ द्वारा किया गया।

शुक्ला ने बताया कि इस अभ्यास में हवा में रहते हुए हेलीकॉप्टर से फायर किया गया। इस पूरी कार्रवाई के दौरान सुरक्षा एवं बचाव का पूरा ध्यान रखा गया। अभ्यास में वायुसेना एवं जिला पुलिस सुकमा के वरिष्ठ अधिकारी शामिल रहे। वायुसेना के अधिकारी ने कहा कि भारतीय वायु सेना द्वारा छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित अंदरूनी संवेदनशील क्षेत्रों में एमआई 17 हेलीकॉप्टर के द्वारा लगातार पिछले कई वर्षों से राशन आपूर्ति एवं घायलों को निकालकर सुकशल लाए जाने का साहसी कार्य किया जा रहा है। इस अभियान के दौरान नक्सलियों द्वारा एमआई 17 हेलीकॉप्टरों पर कई बार घात लगाकर गोलीबारी की गई।

शुक्ला ने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए पुलिस मुख्यालय तथा वायुसेना के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच उच्चस्तरीय रणनीति तैयार कर निर्णय लिया गया था। इस रणनीति के तहत वर्ष 2015 में 13 अक्तूबर को बीजापुर जिले में वायुसेना के द्वारा हेलीकॉप्टर से फायरिंग का अ5यास किया गया था। शुक्रवार को दूसरी बार अभ्यास किया गया।

अधिकारी ने बताया कि उन्होंने खुद इस अभ्यास में हिस्सा लिया तथा यह अभ्यास पिछले अभ्यास से कुछ बड़ा था। इस दौरान सुकमा जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी इस अभ्यास में शामिल थे। उन्होंने कहा कि यह अभ्यास बदला लेने या हमला करने के लिए नहीं गया है। बल्कि उड़ान के दौरान हेलीकॉप्टरों पर फायरिंग की घटना के दौरान आत्मरक्षा और जवाबी कार्रवाई के लिए गया है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शुक्ला ने कहा कि शुक्रवार का अभ्यास सफल रहा है तथा भविष्य में इस तरह के और अभ्यास किए जाएंगे। राज्य के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में मार्च महीने की 30 तारीख को नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर सीआरपीएफ के सात जवानों की हत्या कर दी थी।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)