NDTV Khabar

राजस्थान में सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों को दूध को देने की आपूर्ति करने वाले लोगों को मिलेगा बोनस

सरकारी सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक सबल योजना के अंतर्गत सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों में दूध की आपूर्ति करने वाले पशुपालकों को दो रूपए प्रति लीटर दूध की दर से अनुदान देने का आदेश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्थान में सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों को दूध को देने की आपूर्ति करने वाले लोगों को मिलेगा बोनस
नई दिल्ली:

राजस्थान में सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों को दूध आपूर्ति करने वाले पशुपालकों को दो रुपये प्रति लीटर बोनस मिलेगा. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही में राज्य विधानसभा में इसकी घोषणा की थी जिसका आदेश सोमवार देर रात जारी कर दिया गया.  सरकारी सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक सबल योजना के अंतर्गत सहकारी दुग्ध उत्पादक संघों में दूध की आपूर्ति करने वाले पशुपालकों को दो रूपए प्रति लीटर दूध की दर से अनुदान देने का आदेश दिया है. यह आदेश एक फरवरी 2019 से प्रभावी होगा. गोपालन विभाग के आदेश के अनुसार इसके लिए वित्त वर्ष 2018-19 में आवश्यक प्रावधान कर दिया गया है. इस फैसले से राजस्थान सहकारी डेयरी संघ सं संबद्ध 21 जिला दुग्ध संघों के माध्यम से प्रदेश भर में 11 हजार 500 से अधिक दुग्ध समितियों से जुड़े पांच लाख से अधिक पशुपालक लाभान्वित होंगे. 

दूध उत्पादन: दुनिया में नंबर वन भारत, इस मामले में है सबसे पीछे...



सूत्रों के अनुसार साल के दौरान प्रतिदिन औसतन 30 लाख किलो दूध इकट्ठा किया जाता है जिससे पशुपालकों को हर साल 220 करोड़ रूपए की अतिरिक्त आय होने का अनुमान है. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देते हुए इस बोनस की घोषणा की थी. 

महाराष्ट्र में दूध किसानों का चक्का जाम

टिप्पणियां

 

इनपुट : भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement