राजस्थान के गांवों की आबादी का ड्रोन सर्वेक्षण से तैयार किया जाएगा रिकॉर्ड : सचिन पायलट

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि भारतीय सर्वेक्षण विभाग और राज्य सरकार की सहभागिता से राज्य के समस्त गांवों की आबादी क्षेत्र का ड्रोन तकनीकी के माध्यम से सर्वेक्षण किया जाएगा.

राजस्थान के गांवों की आबादी का ड्रोन सर्वेक्षण से तैयार किया जाएगा रिकॉर्ड : सचिन पायलट

राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राजस्थान के सभी 46,543 गांवों की आबादी का ड्रोन से होगा सर्वेक्षण
  • ड्रोन के माध्यम से सर्वेक्षण कर ग्राम मानचित्र तैयार किए जाएंगे
  • भारतीय सर्वेक्षण विभाग और राज्य सरकार की सहभागिता से हुआ फैसला
जयपुर:

राजस्थान के सभी 46,543 गांवों की आबादी का ड्रोन के माध्यम से सर्वेक्षण कर ग्राम मानचित्र तैयार किए जाएंगे. उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि भारतीय सर्वेक्षण विभाग और राज्य सरकार की सहभागिता से राज्य के समस्त गांवों की आबादी क्षेत्र का ड्रोन तकनीकी के माध्यम से सर्वेक्षण किया जाएगा. उन्होंने बताया कि आगामी दो साल 2021-22 एवं 2022-23 में होने वाले इस सर्वेक्षण में गांव के समस्त मकान मालिकों के स्वामित्व रिकॉर्ड तैयार किए जाएंगे.

उन्होंने बताया कि इस सर्वेक्षण के माध्यम से गांवों की आबादी क्षेत्र में सम्पत्ति एवं परिसम्पत्ति रिकॉर्ड को अद्यतन किया जा सकेगा, सम्पत्तियों का वैध रिकार्ड तैयार होगा तथा सम्पत्ति मालिकों को सम्पत्ति कार्ड जारी किए जाएंगे. इससे आबादी क्षेत्र में सम्पत्ति सम्बंधी विवादों में कमी आएगी तथा ग्राम पंचायत विकास योजना बेहतर तरीके से तैयार करने में मदद मिलेगी. 

उन्होंने बताया कि इस सर्वेक्षण में व्यक्तिगत सम्पत्तियों का सर्वे एवं रिकॉर्ड तैयार करने के साथ-साथ सामुदायिक परिसम्पत्तियों जैसे कि ग्रामीण सड़कें, तालाब, नहर, खुली जगह यथा पार्क, स्कूल, आंगनवाड़ी, स्वास्थ्य केन्द्र आदि का भी सर्वेक्षण कर नक्शे तैयार किए जाएंगे. उन्होंने बताया कि इस योजना के क्रियान्वयन के लिए भारतीय सर्वेक्षण विभाग तथा राज्य सरकार के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर (एमओयू) किए जाएगे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com