NDTV Khabar

SSC और कांस्टेबल भर्ती पेपर में फर्जी परीक्षार्थी बैठाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 4 लोग चढ़े पुलिस के हत्थे

राजस्थान पुलिस के विशेष दल (एसओजी) ने रविवार को कर्मचारी चयन आयोग और कांस्टेबल परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी बैठाकर परीक्षा दिलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
SSC और कांस्टेबल भर्ती पेपर में फर्जी परीक्षार्थी बैठाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 4 लोग चढ़े पुलिस के हत्थे

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. फर्जी परीक्षार्थी बैठाने वाले गिरोह का पर्दाफाश
  2. SSC और कांस्टेबल भर्ती पेपर में बैठाते थे फर्जी परीक्षार्थी
  3. पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है
जयपुर: राजस्थान पुलिस के विशेष दल (एसओजी) ने रविवार को कर्मचारी चयन आयोग और कांस्टेबल परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थी बैठाकर परीक्षा दिलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर चार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया. पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक (एटीएस एवं एसओजी) उमेश मिश्रा ने बताया 14 व 15 जलाई को पुलिस कांस्टेबल एवं 15 जुलाई को एस.एस.सी. की परीक्षा में दिल्ली व बिहार से आ कर कुछ लडके परीक्षार्थीयों की जगह बैठकर परीक्षा दे रहे थे. गुप्त सूचना के आधार पर रविवार को चार लोगों को गिरफ्तार किया गया. 

यह भी पढ़ें:  रेलवे में दस लाख नौकरियों का दावा कब पूरा होगा ?

टिप्पणियां
उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में बिहार के प्रमोद कुमार यादव, विनय कुमार, अवनीश कुमार और राजस्थान के अलवर जिले के चेतराम मीणा शामिल है. मिश्रा ने बताया कि अभियुक्तों से हुई पूछताछ में पता चला कि प्रमोद कुमार यादव दूसरे परीक्षार्थी की जगह परीक्षा देने के लिये पटना से हवाई मार्ग से दिल्ली आया तथा दिल्ली से टैक्सी से जयपुर आया था. इसी प्रकार विनय व अवनीश भी दिल्ली से एक दिन पहले जयपुर आये थे और दूसरे परीक्षार्थियों की जगह परीक्षा में बैठे थे. ये लोग राजस्थान के भी अनेक लोगों के सम्पर्क में थे.

VIDEO: प्राइम टाइम : रेलवे की नौकरियों में भर्ती की प्रक्रिया धीमी क्यों?
उन्होंने बताया कि आरोपियों की तलाशी में काफी संख्या में एस.एस.सी, नागरिक पुलिस एवं आरक्षी प्रादेशिक आर्म्ड कांस्टेबुलरी के प्रवेश पत्र, विभिन्न परीक्षार्थियों की फोटो, परीक्षा की ओ.एम.आर. शीट, परीक्षार्थियों के आधार कार्ड, ड्राईविंग लाइसेंस इत्यादि संदिग्ध दस्तावेज पाये गये. चारों आरोपियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर जांच की जा रही है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement