NDTV Khabar

राजस्थान में निजी बस के नदी में गिरने से सात महिलाओं सहित 33 लोगों की मौत

पीएम मोदी ने मामले पर दुख जताते हुए ट्वीट किया है कि राज्य सरकार मामले को नजदीक से देख रही है और हर संभव सहायता पहुंचाई जा रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्थान में निजी बस के नदी में गिरने से सात महिलाओं सहित 33 लोगों की मौत

राजस्थान : सवाई माधोपुर में यात्रियों से भरी बस नदी में गिरी

सवाई माधोपुर: राजस्थान के सवाई माधोपुर में यात्रियों से भरी एक बस नदी में गिर गई. बस पुल के ऊपर से गुजर रही थी और वह अचानक नदी में गिर गई. निजी बस के अनियंत्रित होकर सौ फीट से अधिक ऊंचाई से बनास नदी में गिर जाने से 33 लोगों की मौत हो गई है जबकि छह अन्य घायल हो गए. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बस हादसे पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृतकों के प्रति गहरी संवदेना व्यक्त की है. सूरवाल थानाधिकारी (सवाई माधोपुर) अनूप कुमार के अनुसार निजी बस सवाई माधोपुर से लालसोट जा रही थी. मृतकों में 22 पुरुष, सात महिलाएं और चार बच्चे शामिल हैं. मृतकों में 16 की पहचान हो चुकी है. जिनके नाम हैं- सायरा, ओमप्रकाश, जाकिर, परमानंद महाजन, मुरारी, जाहिदा, गफ्फार, सत्यनारायण, ओम प्रकाश, शाहरुख, रूप सिंह, शेरू, आबिद अली, राजेश, प्रेम देवी और रामप्यारी के रूप में हुई है. इनमें से दस शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है. मृतकों में बस चालक भी शामिल है.

एक जानकारी के मुताबिक, बस को कंडक्टर चला रहा था जिसकी उम्र 16 साल थी. मारे गए लोगों में चार महिलाएं भी हैं.

पीएम मोदी ने मामले पर दुख जताते हुए ट्वीट किया है कि राज्य सरकार मामले को नजदीक से देख रही है और हर संभव सहायता पहुंचाई जा रही है.
 
 
 
bus fell off

पुलिस के मुताबिक यह हादसा सुबह करीब साढ़े सात बजे उस समय हुआ जब निजी बस सवाई माधोपुर से लालसोट की ओर जा रही थी. दुर्घटनाग्रस्त बस को बनास नदी से निकाल लिया गया है. इस हादसे की सूचना मिलते ही वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों की मदद से बस में फंसे यात्रियों को निकाल कर अस्पताल पहुंचाया.

VIDEO- शिमला के रामपुर में खाईं में गिरी बस, 20 की मौत


टिप्पणियां
मुख्यमंत्री राजे ने अधिकारियों को घायलों के शीघ्र उपचार तथा प्रभावितों एवं उनके परिजनों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए. उन्होंने जिला प्रभारी मंत्री राजपाल सिंह शेखावत को मौके पर भेजकर राहत कार्यों की निगरानी के निर्देश भी दिए. मुख्यमंत्री ने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है.

(इनपुट भाषा से...)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement