राजस्थान में मुख्यमंत्री पर रस्साकशी: अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली पहुंचे, राहुल से करेंगे मुलाकात

अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली पहुंच चुके हैं और अब वे दोनों राहुल गांधी से मिलेंगे.

राजस्थान में मुख्यमंत्री पर रस्साकशी: अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली पहुंचे, राहुल से करेंगे मुलाकात

सचिन पायलट और अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राजस्थान विधानसभा चुनाव में जीत के बाद भी कांग्रेस मुख्यमंत्री के नाम पर फंसी हुई नजर आ रही है. राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर कांग्रेस में अब भी असमंजस बरकरार है. आज यानी गुरुवार की सुबह अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली के लिए रवाना हुए. सचिन पायलट भी दिल्ली आ रहे हैं. बताया जा रहा है कि दोनों नेता आज राहुल गांधी से मिलेंगे. माना जा रहा है कि राहुल गांधी सचिन पायलट और अशोक गहलोत के साथ बातचीत करेंगे और फिर मुख्यमंत्री पर जारी माथापच्ची को लेकर कोई हल निकालेंगे. बताया यह भी जा रहा है कि 10 बजे कांग्रेस जेनरल सेक्रेटरी की बैठक है और इसमें पर्यवेक्ष भी शामिल रहेंगे. सूत्रों की मानें तो राजस्थान में सीएम पद की रेस में अशोक गहलोत आगे चल रहे हैं, मगर सचिन पायलट उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं. 

राजस्थान: देश के पहले और इकलौते 'गाय मंत्री' भी नहीं बचा पाए अपनी सीट, जानें- क्या रहीं हार की वजह

दरअसल, तीन राज्यों में जीत के बाद कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती है मुख्यमंत्री का चुनाव करना, जिस पर लगातार माथापच्ची जारी है. हालांकि, बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने स्पष्ट किया कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में मुख्यमंत्री का फैसला राहुल गांधी करेंगे. बता दें कि बुधवार को राजस्थान में नव निर्वाचित विधायक दलों की बैठक हुई और फिर इस बात पर सहमती बनी कि अंतिम फैसला राहुल गांधी ही करेंगे. राजस्थान में मुख्यमंत्री को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मामला फंसा हुई है. सूत्र ऐसा बता रहे हैं कि दो तिहाई विधायक चाहते हैं कि सचिन पायलट ही मुख्यमंत्री बनें. उधर, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया में टक्कर चल रही है. 

MP-राजस्थान में 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' पर माथापच्ची जारी, अब है राहुल की 'अग्नि परीक्षा', 10 बड़ी बातें

एमपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए जबर्दस्त लॉबिंग के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से इन तीनों राज्यों में हर राज्य के मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी शीर्ष पसंद बताने को कहा है. सूत्रों के मुताबिक पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए एक अंदरूनी संदेश मंच (एप) का उपयोग करते हुए राहुल गांधी ने उन्हें ऑडियो संदेश भेजा है और उन्होंने उनसे अपने-अपने राज्यों में मुख्यमंत्रियों के चयन के लिए फीडबैक मांगा है.

मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से पूछी उनकी पसंद, जारी किया ऑडियो टेप

राजस्थान में कांग्रसे पार्टी के लिए सबसे बड़ी मुसीबत है कि वह सचिन पायलट और अशोक गहलोत में से किसे मुख्यमंत्री के रूप में चुने. हालांकि, बुधवार को हुई विधायक दलों की बैठक में किसी एक नाम पर सहमति बननी थी, मगर ऐसा नहीं हो पाया. ऐसी स्थिति में अशोक गहलोत ने कांग्रेस के हाईकमान का पाले में गेंद डाल दिया और इसका समर्थन सचिन पायलट ने भी किया. हालांकि, मीडिया में कई तस्वीरें आईं हैं जिनमें दोनों मुस्कुराते हुए देखे गए.

समर्थन देने के बाद मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- जनता ने दिल पर पत्थर रखकर जिताई हैं इतनी सीटें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के नव निर्वाचित दो तिहाई विधायक सचिन पायलट के पक्ष में दिख रहे हैं. इनका कहना है कि सचिन पायलट राज्य के मुख्यमंत्री बने. जीत के बाद भी अशोक गहलोत के सामने सचिन-सचिन के नारे लगे थे

VIDEO: कौन होगा सीएम, राहुल ने कार्यकर्ताओं से पूछा सवाल.