NDTV Khabar

राजस्थान में बढ़ रही है डॉक्टरों की हड़ताल, स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ सकता है असर

चिकित्सक अपनी विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं जिससे राजस्थान के कोटा, बूंदी, बारां और झालावाड़ जिलों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुई हैं

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्थान में बढ़ रही है डॉक्टरों की हड़ताल, स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ सकता है असर

(फाइल फोटो)

जयपुर:
टिप्पणियां
कोटा और झालावाड़ मेडिकल कॉलेजों के लगभग 350 रेजिडेंट डॉक्टर विभिन्न मांगों को लेकर की जा रही हड़ताल में आज शामिल हुए.  चिकित्सक अपनी विभिन्न मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं जिससे राजस्थान के कोटा, बूंदी, बारां और झालावाड़ जिलों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हुई हैं. मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों ने कहा कि सामान्य सेवाओं को बनाये रखने के लिए वैकल्पिक प्रबंध किये गये हैं. विभागों के प्रमुख और शिक्षण संकाय मरीजों को देखेंगे.
 

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों के रेजिडेंट डॉक्टरों की हड़ताल टली

लगभग 640 सरकारी डॉक्टरों ने छह नवम्बर को हड़ताल शुरू की थी. जिला अस्पतालों, ग्रामीण क्षेत्रों के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के रोगियों को हड़ताल के कारण निजी अस्पतालों में स्थानांतरित करना पड़ा.

वीडियो : एम्म के डॉक्टरों की भी हैं समस्या
अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ के महासचिव दुर्गा शंकर सैनी ने कहा कि उन्हें मजबूरी में हड़ताल पर जाना पड़ा क्योंकि राज्य सरकार ने उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया. डॉक्टर सैनी ने दावा किया कि ये मांगें डाक्टरों को फायदा पहुंचाने के लिए नहीं है बल्कि चिकित्सा सेवाओं में सुधार से संबंधित है जिससे रोगियों का ही फायदा होगा.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement