NDTV Khabar

राजस्‍थान के मंत्री ने सड़क किनारे किया पेशाब, कहा- यह बड़ा मामला नहीं

राजस्थान के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री कालीचरण सराफ का फोटो वायरल हो गया है. इस फोटो में मंत्री सड़क पर पेशाब करते नजर आ रहे हैं. हालांकि जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि यह बड़ा मुद्दा नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्‍थान के मंत्री ने सड़क किनारे किया पेशाब, कहा- यह बड़ा मामला नहीं

राजस्थान के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री कालीचरण सराफ का फोटो वायरल

खास बातें

  1. राजस्थान के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री कालीचरण सराफ का फोटो वायरल हो गया है
  2. सड़क पर पेशाब करने पर 200 रुपये का जुर्माना
  3. मंत्री ने कहा, यह कोई बड़ा मामला नहीं है
जयपुर : राजस्थान के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री कालीचरण सराफ का फोटो वायरल हो गया है. इस फोटो में मंत्री सड़क पर पेशाब करते नजर आ रहे हैं. हालांकि जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि यह बड़ा मुद्दा नहीं है.

राजस्थान उपचुनाव में हार के बाद BJP कार्यकर्ताओं में आक्रोश, पार्टी नेता ने की CM राजे को हटाने की मांग

यह फोटो ऐसे वक्‍त में सामने आई है जब जयपुर नगर निगम शहर को स्वच्छ भारत अभियान में टॉप पर लाने की कड़ी मेहनत कर रहा है. नियमों के मुताबिक, अगर कोई व्‍यक्ति सड़क पर पेशाब करते पकड़ा जाता है तो उस पर 200 रुपये का जुर्माना लगाया जाता है. 

इस मामले में जब मीडिया उनसे बात करने के लिए मंत्री के दफ्तर गया तो उन्‍होंने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया. उन्‍होंने कहा कि यह कोई बड़ा मामला नहीं है. वहीं राजस्‍थान कांग्रेस की वाइस प्रेसिडेंट अर्चना शर्मा ने कहा कि जब स्‍वच्‍छ भारत अभियान पर इतना पैसा खर्च किया जा रहा है और ऐसे नेताओं के शर्मनाक कृत्‍य से गलत संदेश जाता है. उन्‍होंने कहा कि मंत्री यह अपने विधानसभा क्षेत्र में ऐसा कभी नहीं करेंगे. 

राजस्थान में 'ज्ञान' के बोल पर बवाल, नेतृत्व में बदलाव की मांग करता भाजपा विधायक का ऑडियो वायरल

यह मामला कोटा जिले के ओबीसी विंग प्रमुख अशोक चौधरी द्वारा दो दिन पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को लिखे एक पत्र के बाद सामने आया है. इस पत्र में उनहोंने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को हटाने की मांग की है. अशोक चौधरी ने पत्र में कहा कि वसुंधरा राजे की कार्यप्रणाली से प्रदेश की जनता खुश नहीं है. उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव से पहले वसुंधरा राजे और राज्य के पार्टी प्रमुख अशोक परनामी को हटाने की की मांग की है.

अशोक चौधरी ने कहा,  “इस समय भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच असंतोष की लहर है. मैंने राजस्थान बीजेपी कार्यकर्ताओं की आवाज में यह पत्र लिखा है. उन्होंने कहा किल पत्र में लिखा प्रत्येक शब्द पार्टी कार्यकर्ताओं की असहायता की बात करता है."

VIDEO: राजस्थान उपचुनावों में कांग्रेस का 'डंका'


टिप्पणियां
पत्र लिखने के कारणों के बारे में पूछे जाने पर, चौधरी ने कहा "कार्यकर्ताओं की नाराजगी के बाद मुझे आघात महसूस हो रहा था और इसलिए मुझे ऐसा पत्र लिखने के लिए मजबूर होना पड़ा. यह पत्र राजस्थान में तीन सीटों पर हुए उपचुनावों में भाजपा को मिली हार के बाद लिखा गया. चुनाव के नतीजे बीते एक फरवरी को आए थे.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement