CAA को लेकर प्रदर्शन पर PM मोदी के मंत्री बोले- 'हमें चाहिए आजादी' के नारे लगाने वाले जाएं पाकिस्तान

चौधरी ने कहा कि "शाहीनबाग में लोग खड़े हैं और वहां 'हमें चाहिए आजादी' जैसे नारे लगाए जाते हैं.

CAA को लेकर प्रदर्शन पर PM मोदी के मंत्री बोले- 'हमें चाहिए आजादी' के नारे लगाने वाले जाएं पाकिस्तान

शाहीन में सीएए के विरोध में प्रदर्शन (FILE)

खास बातें

  • चौधरी ने कहा, आजादी के नारे लगाने वाले जाएं पाकिस्तान
  • शाहीनबाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर केंद्रीय मंत्री की टिप्पणी
  • सीएए नागरिकता देने का कानून है
बाड़मेर:

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि 'हमें चाहिए आजादी' के नारे लगाने वाले लोग पाकिस्तान चले जाएं. कैलाश चौधरी रविवार को यहां अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र बाड़मेर में लघु उद्योग भारती के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे. उन्होंने यह बात नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के मुद्दे को लेकर शाहीनबाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन के संदर्भ में कही. 

UP के पूर्व राज्यपाल का आरोप- CAA विरोधी प्रदर्शनों में 'पाकिस्तान जिंदाबाद' बोलने वाले सरकार के लोग

कैलाश चौधरी ने कहा कि "शाहीनबाग में लोग खड़े हैं और वहां 'हमें चाहिए आजादी' जैसे नारे लगाए जाते हैं और बच्चों से भी नारे लगवाए जाते हैं." उन्होंने कहा, "ये लोग छोटे-छोटे बच्चों को बरगलाकर उनसे 'हमें चाहिए आजादी' के नारे लगवाते हैं. आखिर किस दिशा में ये अपने नन्हें-मुन्ने बच्चों ले जाना चाहते हैं." 

दिल्ली के जाफराबाद में CAA समर्थक और विरोधी भिड़े: क्या BJP नेता कपिल मिश्रा के पहुंचने के बाद तनाव बढ़ा?

चौधरी ने कहा, "अगर ज्यादा आजादी चाहिए तो पाकिस्तान चले जाएं तो पता चल जाएगा कि आजादी क्या होती है." उन्होंने कहा कि ये लोग ऐसे नारे लगाकर देश को तोड़ना चाहते हैं. उन्होंने कहा, "सीएए नागरिकता देने का कानून है. इसमें पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए लोगों को नागरिकता देने का प्रावधान है. यह किसी की नागरिकता लेने का कानून नहीं है." कैलाश चौधरी मोदी सरकार के युवा मंत्रियों में शुमार हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वीडियो: दिल्ली के जाफराबाद में मेट्रो स्टेशन के पास महिलाओं का धरना, सरकार की अनदेखी पर जताई नाराजगी

   



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)