कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर पूछे गए सवाल पर सचिन पायलट ने कहा, 'इसका फैसला कार्यसमिति करेगी'

नागरिकता संशोधन विधेयक के पारित होने पर पायलट बोले कि इस विधेयक को लेकर केंद्र सरकार की देश दुनिया में आलोचना हो रही है जिसका उसे संज्ञान लेना चाहिए.

कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर पूछे गए सवाल पर सचिन पायलट ने कहा, 'इसका फैसला कार्यसमिति करेगी'

सचिन पायलट ने कहा नागरिकता संशोधन विधेयक के कारण केंद्र सरकार की देश दुनिया में काफी आलोचना हो रही है.

खास बातें

  • सचिन पायलट ने कहा- पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष बनीं थी सोनिया गांधी
  • कहा- पार्टी अध्यक्ष पर कार्यसमिति करेगी फैसला
  • नागरिकता संशोधन विधेयक पर कहा, केंद्र की देश-दुनिया में हो रही आलोचना
जयपुर:

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने गुरुवार को कहा कि पार्टी अध्यक्ष के बारे में कोई भी फैसला कार्यसमिति करेगी. इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि पार्टी इस बारे में कोई अच्छा फैसला करेगी ताकि कांग्रेस (Congress) राज्यों और केंद्र में वापसी का दौर दुगुनी ताकत से शुरू कर सके. यहां संवाददाताओं के एक सवाल के जवाब में उप मुख्यमंत्री पायलट ने कहा, ''सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) जब (अध्यक्ष) बनीं तो अंतरिम अध्यक्ष बनी थीं ये सभी जानते हैं. अब यह निर्णय कार्यसमिति को लेना है कि कब किस प्रकार चुनाव करवाना है.''

यह भी पढ़ें: PM मोदी पर कांग्रेस ने कसा तंज, कहा- असम के लोग प्रधानमंत्री के संदेश नहीं पढ़ सकते क्योंकि...

उन्होंने कहा, ''हम पहले से कहते आए हैं कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पार्टी का रुख बहुत आक्रामक रखा और केंद्र सरकार को चुनौती दी. चुनाव में हम हारे जीते यह अलग विषय है और चूंकि यह अंतरिम व्यवस्था है तो बहुत जल्द पार्टी निर्णय लेगी लेकिन यह काम कांग्रेस कार्यसमिति का है, एआईसीसी का है.'' पायलट ने कहा, ''हम लोग पहले भी चाहते थे कि युवाओं को ताकत दी जाए चाहे वह देश हो या प्रदेश हो. हमेशा युवाओं को हमारी पार्टी ने आगे रखा है और उसी दिशा में हम काम कर रहे हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि नेतृत्व के हिसाब से पार्टी बहुत जल्द एक अच्छा और सार्थक निर्णय करेगी.''

इसके साथ ही उन्होंने कहा, ''लेकिन सोनिया गांधी ने जिन महीनों में काम संभाला है उस दौरान कांग्रेस को मजबूती मिली है चाहे वह हरियाणा (Haryana) हो महाराष्ट्र (Maharashtra) हो या बाकी जगह पर हो... आने वाले दिनों में कांग्रेस पार्टी एक अच्छा फैसला करे ताकि हम सब लोग और दुगनी ताकत से अपनी वापसी का दौर शुरू करें... अलग अलग राज्यों और अंतत: केंद्र में.''

नागरिकता संशोधन विधेयक के पारित होने पर पायलट बोले कि इस विधेयक को लेकर केंद्र सरकार की देश दुनिया में आलोचना हो रही है जिसका उसे संज्ञान लेना चाहिए. उन्होंने कहा, ''बहुमत के आधार पर विधेयक तो आपने पारित किया है लेकिन मैं समझता हूं जनभावना इसके अनुरूप नहीं है. न्यायालय में भी ये मुद्दा जाएगा और देखना होगा कि वह इस पर क्या फैसला करता है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बुधवार को कहा था कि राजस्थान सरकार को ओवरलोडिंग वाहनों और शराब तस्करी के मामले में कार्रवाई करनी चाहिए. इसपर पायलट ने कहा, ''अभी वे नये नये बने हैं सरकार में नए हैं इसलिए पूरी जानकारी नहीं ले पाए होंगे. लेकिन दूसरे राज्यों के बारे में भला बुरा बोलना अच्छी बात नहीं है''.

पायलट ने कहा, ''कानून व्यवस्था को हम पूरी गंभीरता से ले रहे हैं और जहां कहीं कमी होगी उसे दूर किया जाएगा लेकिन राज्य साल भर में हमने जो यहां काम किया है उसके बाद विपक्ष चाहकर भी कोई कमी नहीं ढूंढ पा रहा है.'' पायलट शुक्रवार को झारखण्ड के दौरे पर रहेंगे जहां वे जमुआ, धनबाद व झारिया में पार्टी के प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)