NDTV Khabar
होम | राजस्थान

राजस्थान

  • तीन राज्यों में भाजपा की हार के बाद बोले उपेंद्र कुशवाहा- BJP की उल्टी गिनती शुरू
    पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. हिन्दी भाषी तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार के बाद उन्होंने यह बात कही. दो दिन पहले भाजपा से नाता तोड़ चुके कुशवाहा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह कैबिनेट का रबड़ स्टाम्प के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री पिछड़े वर्गों को धोखा और बिहार को सिर्फ जुमले दे रहे हैं.
  • कमलनाथ होंगे मध्‍यप्रदेश के अगले मुख्‍यमंत्री, छत्तीसगढ़ और राजस्‍थान पर फैसला आज
    राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम पर कांग्रेस आधिकारिक तौर पर अभी दुविधा में हैं. राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर पिछले दो दिनों से बने सस्पेंस में अब स्थिति साफ होती हुई दिख रही है. बताया जा रहा है कि मध्य प्रदेश सीएम की रेस में कमलनाथ सबसे आगे चल रहे हैं, इनका नाम जल्द ही घोषित किया जा सकता है.
  • MP में कमलनाथ का मुख्यमंत्री बनना लगभग तय, छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल तो राजस्थान में ये हैं CM की रेस में आगे
    राजस्थान में स्थिति थोड़ी कठिन दिख रही है, क्योंकि यहां आलाकमान को तजुर्बे और युवा शक्ति में से एक को चुनना होगा. अशोक गहलोत पहले भी राजस्थान के सीएम रह चुके हैं और उन्हें काफी अनुभव है, वहीं सचिन पायलट राजस्थान में युवाओं के चहते हैं. इसके अलावा कांग्रेस नेतृत्व के भी वह पसंदीदा चेहरे हैं. दिल्ली से भेजे गए पार्टी पर्यवेक्षक भी लौट आए हैं. आज नेता कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलकर नेताओं के नाम बताएंगे. वहीं राहुल गांधी ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को ऑडियो मैसेज भेजकर सीएम के नाम पर राय मांगी है.
  • राजस्थान में मुख्यमंत्री पर रस्साकशी: अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली पहुंचे, राहुल से करेंगे मुलाकात
    राजस्थान विधानसभा चुनाव में जीत के बाद भी कांग्रेस मुख्यमंत्री के नाम पर फंसी हुई नजर आ रही है. राजस्थान में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर कांग्रेस में अब भी असमंजस बरकरार है. आज यानी गुरुवार की सुबह अशोक गहलोत और सचिन पायलट दिल्ली के लिए रवाना हुए. सचिन पायलट भी दिल्ली आ रहे हैं. बताया जा रहा है कि दोनों नेता आज राहुल गांधी से मिलेंगे. माना जा रहा है कि राहुल गांधी सचिन पायलट और अशोक गहलोत के साथ बातचीत करेंगे और फिर मुख्यमंत्री पर जारी माथापच्ची को लेकर कोई हल निकालेंगे. बताया यह भी जा रहा है कि 10 बजे कांग्रेस जेनरल सेक्रेटरी की बैठक है और इसमें पर्यवेक्ष भी शामिल रहेंगे. सूत्रों की मानें तो राजस्थान में सीएम पद की रेस में अशोक गहलोत आगे चल रहे हैं, मगर सचिन पायलट उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं. 
  • राजस्थान: देश के पहले और इकलौते 'गाय मंत्री' भी नहीं बचा पाए अपनी सीट, जानें- क्या रही हार की वजह
    सिरोही सीट से चुनावी मैदान में उतरे देवासी को निर्दलीय उम्मीदवार ने करीब 10 हजार वोटों से हरा दिया. बतौर गाय मंत्री देवासी का कार्यकाल काफी विवादों में रहा है. उनके कार्यकाल में भूख और बीमारी की वजह से सैंकड़ों गायों की मौत हुई थी. हमेशा पारंपरिक वेशभूषा में नजर आने वाले देवासी लाल पगड़ी और सफेद धोती पहनते हैं. देवासी नेता होने के साथ-साथ अध्यात्म से भी जुड़े हुए हैं. देवासी ने साल 2008 में सिरोही विधानसभा से चुनाव लड़ा था और साल 2013 में भी इसी सीट से जीते थे. लेकिन इस बार निर्दलीय उम्मीदवार संयम लोढ़ा ने उन्हें दस हजार वोट से हरा दिया. देवासी को 71019 वोट मिले, जबकि लोढ़ा को 81272 वोट हासिल किए.
  • MP-राजस्थान में 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' पर माथापच्ची जारी, अब है राहुल की 'अग्नि परीक्षा', 10 बड़ी बातें
    दरअसल, तीन राज्यों में जीत के बाद कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती है मुख्यमंत्री का  चुनाव करना, जिस पर लगातार माथापच्ची जारी है. हालांकि, बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने स्पष्ट किया कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में मुख्यमंत्री का फैसला राहुल गांधी करेंगे. हालांकि, यह इतना भी आसान होता नहीं दिख रहा है. क्योंकि राहुल गांधी के लिए यह किसी अग्नि परीक्षा से कम नहीं है. इसकी वजह यह है क्योंकि राहुल गांधी अक्सर युवाओं की बात करते हैं. अब उनके सामने असली चुनौती है कि वह अनुभव और तजुर्बे को तरजीह दें या फिर युवा और उसके जोश को. बहरहाल आज तस्वीर साफ हो जाएगी. बता दें कि बुधवार को राजस्थान और मध्य प्रदेश में विधायक दलों की बैठक हुई और फिर इस बात पर सहमती बनी कि अंतिम फैसला राहुल गांधी ही करेंगे. बता दें कि राजस्थान में मुख्यमंत्री को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मामला फंसा हुई है. सूत्र ऐसा बता रहे हैं कि दो तिहाई विधायक चाहते हैं कि सचिन पायलट ही मुख्यमंत्री बनें. उधर, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया में टक्कर चल रही है. 
  • दिनभर माथापच्ची के बाद भी राजस्थान, MP में मुख्यमंत्री पर नहीं बनी बात, राहुल गांधी करेंगे फैसला
    विधानसभा चुनाव में जीत के बाद अब कांग्रेस के अंदर मुख्यमंत्री पद को लेकर माथापच्ची चल रही है. मंगलवार को आए चुनावी नतीजों के बाद बुधवार के दिन बैठकों का दौर चला. मध्यप्रदेश के भोपाल में और राजस्थान के जयपुर में दिन भर चली मैराथन बैठकों के बाद भी मुख्यमंत्री का फैसला नहीं हो सका. राजस्थान और मध्यप्रदेश दोनों जगहों पर सीएम के दो-दो उम्मीदवार हैं. एक तरफ अशोक गहलोत और सचिन पायलट हैं, तो वहीं दूसरी ओर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया. विधायक दल की बैठक के बाद जब निष्कर्ष नहीं निकला, तब यह तय हुआ कि पार्टी आलाकमान यानि राहुल गांधी सीएम का अंतिम फैसला करेंगे. इस बीच देर शाम राहुल गांधी ने ऑडियो संदेश जारी कर कार्यकर्ताओं से उनकी राय पूछी. उन्होंने सवा 7 लाख कार्यकर्ताओं को ऑडियो संदेश भेजकर कहा कि उनकी राय गोपनीय रखी जाएगी.
  • Election Result 2018: छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा, तो इस राज्य में सबसे कम मतदाताओं ने किया NOTA का इस्तेमाल
    पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिये मंगलवार को हुई मतगणना (Assembly Election Results 2018) में सभी उम्मीदवारों को खारिज करने (NOTA) के विकल्प को भी मतदाताओं ने तरजीह दी. चुनाव आयोग द्वारा जारी चुनाव परिणाम के मुताबिक छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Election Results) में सर्वाधिक 2 प्रतिशत वोट नोटा के खाते में गए. यहां कुल 2 लाख 82 हजार 744 लोगों ने नोटा  का बटन दबाया. वहीं, मिजोरम (Mizoram Election Results) में नोटा का प्रतिशत सबसे कम (0.5 प्रतिशत) दर्ज किया गया. मिजोरम में कुल 2917 मतदाताओं ने नोटा बटन दबाया. 
  • जीएसटी, नोटबंदी समेत इन कारणों से राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में डूबी BJP की लुटिया
    जाहिर सी बात है कि बीजेपी भी उन कमियों की तलाश में होगी, जिसकी वजह से उसे इतनी ब़ड़ी हार मिली और एक ही झटके में तीन बड़े राज्य उसके हाथ से चले गए. इसके अलावा, अब सबके मन में हार-जीत के कारणों को जानने की इच्छा होगी. आखिर क्या वजह रही कि बिना गठबंधन के भी कांग्रेस ने इन राज्यों में जीत दर्ज की है. पिछले एक साल से अब तक क्या बदला है..क्या वो फैक्टर्स हैं जिन्होंने बीजेपी को नुकसान पहुंचाया, तो चलिए जानते हैं...
  • क्या राहुल गांधी होंगे महागठबंधन का चेहरा? NDTV ने पूछा विपक्षी दलों से सवाल, जानें- क्या है उनकी राय
    विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद महागठबंधन पर भी चर्चा होना शुरू हो गई. इसके बाद सवाल उठने लगा कि क्या राहुल गांधी महागठबंधन का चेहरा होंगे? क्या राहुल गांधी के नेतृत्व में साल 2019 के लोकसभा चुनाव में विपक्षी दल पीएम नरेंद्र मोदी सरकार को टक्कर देंगे? ऐसे सवालों के जवाब जानने के लिए एनडीटीवी ने विपक्षी दलों के नेताओं से बातचीत की. हम आपको बता रहे हैं कि विपक्षी दलों की महागठबंधन के चेहरे पर क्या राय है?
  • राजस्थान में मुख्यमंत्री पर रार! आलाकमान के हाथों में फैसला, बैठक में लगे सचिन-सचिन के नारे
    राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 200 में से 99 सीटों पर जीत मिली हैं. वहीं 73 सीटों के साथ भाजपा दूसरे नंबर पर रही.
  • ससुर ने कहा अभी जीत का ड्रम न बजाओ तो सचिन पायलट ने दिया ऐसा जवाब कि फारूक अब्दुल्ला बोले- बहुत अच्छे
    सचिन पायलट और कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत दोनों राजस्थान में सीएम पद के दावेदार हैं. ऐसे में उनसे सवाल पूछा गया था कि वे राजनीति में पीढ़ी के फर्क को कैसे मैनेज करते हैं? इस पर पायलट ने कहा, 'मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हमारे यहां कोई अंतर नहीं है, न उम्र का अंतर और न ही दिमाग का अंतर. यह कांग्रेस की खूबसूरती है कि हम दोनों साथ काम कर सकते हैं. यह भाजपा की चिंता है कि हम साथ मिलकर काम कैसे कर रहे हैं.'
  • राजस्थान विधानसभा चुनाव : वसुंधरा राजे ने कांग्रेस को बधाई दी, कहा- जनादेश सर आंखों पर
    राजस्थान की निवर्तमान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने विधानसभा चुनावों में जीत के लिए कांग्रेस को बधाई देते हुए उम्मीद जताई है कि नई सरकार उनके कार्यो व योजनाओं को जारी रखेगी.
  • Election Results 2018: चुनाव नतीजों पर बोले सुपरस्टार रजनीकांत, बीजेपी का प्रभाव खत्म
    Election Results 2018: तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने मंगलवार को कहा कि छत्तीसगढ़ और राजस्थान जैसे हिंदी पट्टी के राज्यों में भाजपा का चुनाव हारना और मध्य प्रदेश में चिर प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के साथ कांटे की टक्कर से पता चलता है कि भाजपा ने ‘‘अपना प्रभाव खो दिया है’.
  • Elections Results 2018: PM मोदी ने जनादेश को स्वीकार किया, कांग्रेस को जीत पर दी बधाई
    Election Result 2018: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) का सेमीफाइनल कहे जा रहे पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे और रुझानों में बीजेपी को कांग्रेस से करारी शिकस्त मिलने के बाद पीएम मोदी (PM Modi) ने ट्वीट कर जनाधार को स्वीकार किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, 'हम जनाधार को विनम्रता से स्वीकार करते हैं. मैं छत्तीसगढ़, एमपी और राजस्थान की जनता को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने हमें राज्य की सेवा का मौका दिया. इन राज्यों में बीजेपी सरकारों ने लोगों की भलाई के लिए जी तोड़ मेहनत की है.
  • Election Results 2018: राजस्थान में इन 5 कारणों से हारी बीजेपी
    Election Results 2018: राजस्थान विधानसभा चुनाव (Rajasthan Election Results) की मतगणना में सभी 199 सीटों के रुझान आ गए हैं. अब तक कांग्रेस को 101 सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है, वहीं बीजेपी के उम्मीदवारों ने 73 सीटों पर बढ़त बनाई है.
  • Rajasthan Election Results 2018: राजस्थान में सचिन पायलट ने कैसे किया करिश्मा, 10 खास बातें
    Election Results 2018: राजस्थान विधानसभा चुनाव (Rajasthan Election Results) की मतगणना में सभी 199 सीटों के रुझान आ गए हैं. अब तक कांग्रेस को 101 सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है, वहीं बीजेपी के उम्मीदवारों ने 73 सीटों पर बढ़त बनाई है. दूसरी तरफ, बहुजन समाज पार्टी और अन्य उम्मीदवारों ने भी बेहतर प्रदर्शन किया है. बसपा को 6 तो अन्य उम्मीदवारो को 19 सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है. राजस्थान में (Rajasthan Election Results) में कांग्रेस की वापसी के संकेत देख पार्टी कार्यकर्ता जश्न के मोड में हैं. दिल्ली में पार्टी दफ्तर के बाहर कार्यकर्ता एक दूसरे का मुंह मीठा कराने के साथ पटाखे फोड़कर जश्न मना रहे हैं. राजस्थान में जीत का श्रेय सचिन पायलट (Sachin Pilot) को भी दिया जा रहा है. वह मुख्यमंत्री पद के दावेदार भी हैं. आइये आपको बताते हैं कि कैसे सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने 'महारानी' (Vasundhara Raje) को सत्ता से बेदखल कर कांग्रेस को जीत की दहलीज पर खड़ा कर दिया है. 
  • राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम : वसुंधरा राजे सरकार के कई दिग्गज मंत्रियों को मिली पराजय
    वसुंधरा राजे सरकार में कद्दावर रहे कई मंत्री विधानसभा चुनाव हार गए हैं. इनमें परिवहन मंत्री युनुस खान, खान मंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी शामिल हैं. जीतने वाले मंत्रियों में गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया व शिक्षा मंत्री किरण महेश्वरी का नाम प्रमुख है.
  • Election Results 2018: पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में इन पार्टियों को मिला नोटा से भी कम वोट
    Final Election Results: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिये मंगलवार को हुयी मतगणना (Assembly Election Results 2018) में सभी उम्मीदवारों को खारिज करने (नोटा) के विकल्प को भी मतदाताओं ने तमाम क्षेत्रीय दलों से ज्यादा तरजीह दी है. चुनाव आयोग द्वारा जारी चुनाव परिणाम के मुताबिक देर शाम तक की मतगणना के आधार पर छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh Election Results) में सर्वाधिक 2.1 प्रतिशत वोट नोटा के खाते में गये.
  • Rajasthan Election Results 2018: अजीत सिंह की पार्टी RLD का राजस्थान में खुला खाता, भरतपुर सीट जीती
    Assembly Elections 2018: राजस्थान विधानसभा चुनावों (Rajasthan Election Results) में अजीत सिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल (RLD) का भी खाता खुल गया है. राजस्थान विधानसभा चुनाव में RLD कुल दो सीटों पर चुनाव लड़ी थी, जिसमें से भरतपुर सीट पर पार्टी ने जीत दर्ज की है. भरतपुर से आरएलडी के डॉ. सुभाष गर्ग चुनाव जीतने में कामयाब रहे हैं.
«12345678»

Advertisement