NDTV Khabar

Dream Girl Review: कॉमेडी से भरपूर है आयुष्मान खुराना की फिल्म 'ड्रीम गर्ल'

फिल्म की कहानी में करन बचपन से रामलीला में सीता और और कृष्णलीला में राधा का किरदार निभाता आया है और वो महिलाओं की आवाज़ में बख़ूबी बात कर सकता है और इसी बात का फ़ायदा उठाते हुए वो एक कॉल सेंटर में काम करना शुरू कर देता.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Dream Girl Review: कॉमेडी से भरपूर है आयुष्मान खुराना की फिल्म 'ड्रीम गर्ल'
मुंबई:

कास्ट एंड क्रू
आयुष्मान खुराना, नुशृत भरूचा, अनु कपूर, विजय राज़, मनजोत सिंह, निधि बिष्ट और राजेश शर्मा, फ़िल्म के निर्देशक हैं राज शांडिल्य और इसे लिखा है राज शांडिल्य और निर्माण डी सिंह ने. ड्रीम गर्ल के गानो को धुने दी हैं मीत ब्रदर्स ने और बैक्ग्राउंड स्कोर है अभिषेक अरोरा का और फ़िल्म को कैमरे में कैद किया है असीम मिश्रा ने.

कहानी
फिल्म की कहानी में करन बचपन से रामलीला में सीता और और कृष्णलीला में राधा का किरदार निभाता आया है और वो महिलाओं की आवाज़ में बख़ूबी बात कर सकता है और इसी बात का फ़ायदा उठाते हुए वो एक कॉल सेंटर में काम करना शुरू कर देता जहां वो लोगों से प्यार भरी बातें करता है, लेकिन एक वक़्त के बाद करन की ये नौकरी उसे भारी पड़ने लगती है, और करन फंस जाता है बहुत से मुश्किलों में ... अब क्या करेगा करन ये तो फ़िल्म ही बताएगी आपको पर में बताऊंगा आपको फ़िल्म कि ख़ामियां और ख़ूबियां जिनमें सबसे पहले ख़ामियां.

टिप्पणियां

ख़ामियां
इस फ़िल्म की ख़ामियों कि बात करें तो मुझे लगता है इसके स्क्रीन प्ले को और कसने की ज़रूरत थी क्योंकि फ़िल्म फ़र्स्ट हाफ़ और सेकंड हाफ़ दोनो में ही लम्बी लगने लगती है यानी फ़िल्म ड्रैग करती है, इसकी एक वजह ये भी है की फ़िल्म में कहानी ना के बराबर है और ये फ़िल्म सिर्फ़ कॉमडी पर ही आगे बढ़ती है. यानी कॉमडी के लिए सीन डाले गए है और ये कहानी को आगे नहीं बढ़ाते.


अब बात ख़ूबियों की
तो ख़ूबियां बहुत है इसमें और इसकी सबसे बड़ी ख़ूबी है इसकी कॉमडी जो हर सीन ओर हर लाइन में है दाद देनी पड़ेगी निर्देशक राज शांडिल्य की जिन्होंने इसे लिखा भी है. उन्होंने हर लाइन में कॉमडी पंच बहुत ख़ूबसूरती से लिखे हैं, और सिर्फ़ पंच ही नहीं, जिस तरह उन्होंने इस फ़िल्म को फैलाया है वो  भी मनोरंजक है. फिर चाहे वो ब्रज की भाषा हो या किरदार. अभिनय की बात करें तो सबसे ऊपर नाम आता है अनु कपूर का जो एक मंझे हुए कलाकार है और उनकी कामडी टाइमिंग हम कई बार देख चुके हैं. अनु कपूर और आयुष्मान की केमिस्ट्री हम विकी डोनर में देख चुके हैं और यहां भी ये दोनों कमाल करते हैं, आयुष्मान का भी कॉमडी टाइमिंग अच्छा है और इस किरदार के लिए वो एक दम फ़िट भी हैं. एक और नाम विजय राज़ कमाल का किरदार और उतनी ही ख़ूबी से उन्होंने निभाया भी है  इसके अलावा मनजोत सिंह, अभिषेक बनर्जी, राजेश शर्मा और नुशृत भरूचा भी अपने किरदारों में जान डालते हैं. फ़िल्म का संगीत अच्छा है फिर चाहे वो गाने हों या फिर बैक्ग्राउंड स्कोर. तो कुल मिला के ड्रीम गर्ल एक मनोरंजन से भरपूर फ़िल्म है और मेरी तरफ़ से इसके मनोरंजन और कॉमडी के लिए 3.5 स्टार्स.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement