NDTV Khabar
होम | मूवी रिव्यू

मूवी रिव्यू

  • बांधकर रखती है 'शूटआउट एट वडाला'
    यह फिल्म मन्या सुर्वे और उसका एनकाउंटर करने वाले पुलिस ऑफ़िसर इसाक बगवान की है, जिसे बेहतरीन ढंग से दिखाया गया है।फिल्म में तड़कते-भड़कते गाने और बेहतरीन डायलॉग्स हैं।
  • एक्सपेरिमेंटल फिल्म बनकर रह गई 'बॉम्बे टॉकीज़'
    'बॉम्बे टॉकीज़' चार कहानियों से जड़ी एक फ़िल्म है, जिसे चार निर्देशकों ने डायरेक्ट किया है। चारों कहानियां एक्स्पेरिमेंटल हैं, जो आम आदमी की समझ से दूर हैं।
  • लव और इमोशन्स से भरपूर है 'आशिकी-2'
    'आशिकी-2' में छोटी-छोटी खुशियां, रोमांटिक सीन्स, डायलॉग्स, इमोशन्स और प्यार के लिए बलिदान को पर्दे पर अच्छे से उतारा गया है।
  • डराने में कामयाब रही है 'एक थी डायन'
    इमरान हाशमी इस फिल्म में जादूगर की भूमिका में हैं, जो जादू दिखाने के दौरान अजीब-सी डरावनी आवाजें सुनते हैं और परेशान होकर मनोवैज्ञानिक के पास जाते हैं।
  • स्टंट सीन ने बचाया 'कमांडो' को...
    मेरे मुताबिक यह फिल्म पूरी तरह विद्युत और जयदीप की ही है... अगर आप कुछ अच्छे स्टंट सीन देखना चाहते हैं, तो 'कमांडो' देख सकते हैं...
  • कुछ अलग है 'नौटंकी साला'
    फिल्म में ठहराव है, लेकिन कहीं-कहीं वह आपको ऊबाऊ लग सकता है... कुछ पुराने गानों के री−मिक्स आपको सुनने में अच्छे लग सकते हैं...
  • जबर्दस्त मनोरंजक फिल्म है 'चश्मे बद्दूर'...
    बस, इस फिल्म में भी पुरानी 'चश्मे बद्दूर' की तरह थोड़ी सादगी होती, तो यह बेहतरीन फिल्म साबित हो सकती थी, लेकिन कुल मिलाकर नई 'चश्मे बद्दूर' जबरदस्त मनोरंजक फिल्म तो है ही...
  • 80 के दशक को जिंदा करती है 'हिम्मतवाला'
    'हिम्मतवाला' रीमेक है इसलिए जाहिर है, डायरेक्टर साजिद खान ने 80 के दशक के हर मसाले को डाला है। जहां मजबूर मां है, बेसहारा बहन है और सरपंच के सताए हुए गांववाले हैं।
  • फिल्म रिव्यू रंगरेज : युवाओं के लिए बनी है यह फिल्म
    फ़िल्म रंगरेज़ को इससे पहले दक्षिण भारत की तीन भाषाओं में बनाया जा चुका है और तीनों ही भाषाओं में फ़िल्म हिट रही है। चौथी बार इस कहानी को पर्दे पर उतारा है डायरेक्टर प्रियदर्शन ने।
  • आत्मा : थ्रिल एलिमेंट है, मगर इंटरटेनमेंट वेल्यू की थोड़ी कमी है
    फ़िल्म में थ्रिल एलिमेंट है, मगर इंटरटेनमेंट वेल्यू की थोड़ी कमी है इसलिए आत्मा के लिए एनडीटीवी के इकबाल परवेज की रेटिंग है 2.5 स्टार...
  • नहीं लुभा पाई 'आई, मी और मैं'...
    फिल्म का एक गाना 'दरारें...' मुझे भले ही अच्छा लगा, लेकिन यह फिल्म दर्शकों को लुभा पाएगी, कुछ मुश्किल लगता है... हां, फिल्म का क्लाइमेक्स थोड़ा दिलचस्प है...
  • भावुक कर देती है 'द अटैक्स ऑफ 26/11'
    यह कहना ज़रूरी है कि रामू अगर थोड़ी बेहतर रिसर्च कर लेते, और कहानी को कुछ और बारीकी से बताते, तो फिल्म भी बेहतर हो सकती थी...
  • उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी 'ज़िला गाज़ियाबाद'
    निर्देशक आनंद कुमार 'दबंग' 'सिंघम' और 'ओमकारा' जैसी फ़िल्मों से काफ़ी प्रेरित दिखे, तभी तो स्टार्स का इंट्रोडक्शन सीन, गाने और कोरियोग्राफ़ी इन फ़िल्मों से मिलती-जुलती नज़र आई।
  • देखने लायक है 'काई पो चे'
    फिल्म में सुशांत, अमित और राजकुमार की परफॉरमेंस बेहतरीन है। बैकग्राउंड म्यूजिक अच्छा है। गीतकार स्वानंद किरकिरे के बोल और अमित त्रिवेदी का संगीत सुनने में अच्छा लगा।
  • कभी मर्डर मिस्ट्री, कभी हॉरर लगती है 'मर्डर-3'
    फिल्म में सभी कलाकारों ने अच्छा अभिनय किया है... इमोशनल सीन्स भी काफी अच्छे हैं... पहली फिल्म के लिहाज़ से विशेष भट्ट का निर्देशन भी अच्छा है...
  • देखने लायक है 'स्पेशल 26'...
    अनुपम का अभिनय अच्छा है, अक्षय ने भी ठीक काम किया है, लेकिन बाज़ी मारी है मनोज वाजपेयी ने... जिमी शेरगिल और दिव्या दत्ता ने किरदारों के साथ न्याय किया है, लेकिन काजल अग्रवाल का किरदार अगर नहीं होता, तो भी कोई फर्क नहीं पड़ता...
  • कुछ भी आपत्तिजनक नहीं 'विश्वरूप' में...
    एक बार फिल्म ज़रूर देखें... इसलिए भी देखें, क्योंकि फिल्म अच्छी है, और इसलिए भी देखें, ताकि आप समझ सकें कि तिल का ताड़ कैसे बनाया जाता है...
  • अंजाम तक नहीं पहुंचती है 'डेविड' की कहानी
    'डेविड' में हैं, तीन डेविड जो अलग−अलग साल में अलग−अलग जगह पैदा होते हैं। अगर तीनों कहानी एक ही मंजिल पर पहुंचती, तब कोई बात बन सकती थी, पर ऐसा नहीं हुआ।
  • बच्चों को पसंद आएगी 'मैं कृष्णा हूं'
    बच्चों को खुश करने के लिए हर चीज डालने की कोशिश की गई है फिर वह चाहे एनिमेटेड करेक्टर हो, कॉमेडी हो, एक्शन हो, इमोशन हो या ऋतिक और कैटरीना जैसे स्टार्स की मेहमान भूमिका हो।
  • उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी 'रेस-2'
    फिल्म की कहानी के बारे में बात करना मुश्किल है, क्योंकि कहानी बताने में आप बड़ी स्टारकास्ट के बीच उलझ कर रह जाएंगे ।
«5678910»

Advertisement