NDTV Khabar

पीएम नरेंद्र मोदी ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी पर कसा तंज, छात्र ने कड़े शब्दों में लिखी चिट्ठी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम नरेंद्र मोदी ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी पर कसा तंज, छात्र ने कड़े शब्दों में लिखी चिट्ठी

पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर परोक्ष रूप से तंज कसने के लिए हार्वर्ड यूनिवर्सिटी का नाम लिया था.

खास बातें

  1. यूपी चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने हार्वर्ड का लिया था नाम.
  2. हार्वर्ड के प्रतीक कंवल ने कड़े शब्दों में पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी.
  3. लिखा, पीएम मोदी के भाषण से हार्वर्ड की छवि पर पड़ेगा असर.
चंडीगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हार्वर्ड यूनिवर्सिटी पर तंज कसने से यहां का एक छात्र नाराज हो गया है. पत्र में लिखा गया है कि अर्थशास्त्रियों और विश्वसनीय अकादमिक संस्थानों का मजाक उड़ाने से भारत दुनिया से सिर्फ अलग-थलग पड़ेगा. हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में लोक नीति में मास्टर डिग्री का पाठ्यक्रम कर रहे चंडीगढ़ निवासी प्रतीक कंवल के पत्र को ऑनलाइन जारी किया गया और यह इंटरनेट पर फैल गया.

चिट्ठी में लिखा कि मोदी ने पिछले हफ्ते जब उत्तर प्रदेश में एक चुनाव रैली में ये टिप्पणियां की थी तब केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में छात्रों को संबोधित कर रहे थे और उन्होंने यूनिवर्सिटी, छात्रों से आपकी सरकार के साथ सहयोग करने को कहा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की टिप्पणियां उनके जैसे भारतीयों को दूर करेंगी जो विदेश में पढ़ाई के बाद स्वदेश लौटना चाहते हैं.

गौरतलब है कि जीडीपी के ताजा आंकड़ों के साथ मोदी ने पिछले हफ्ते अर्थशास्त्रियों और अपने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर परोक्ष तंज कसा था, जिन्होंने कहा था कि केंद्र के नोटबंदी के फैसले के चलते कम संवृद्धि दर रहेगी. उन्होंने कहा था, 'बड़े विद्वान, कुछ हार्वर्ड से, कुछ ऑक्सफोर्ड से...कुछ ने कहा है कि जीडीपी में दो फीसदी की गिरावट (नोटबंदी के बाद) आएगी जबकि अन्य ने चार फीसदी की गिरावट की बात कही, लेकिन देश ने देख लिया कि हार्वर्ड के लोग क्या सोचते हैं और कड़ी मेहनत करने वाले लोग क्या सोचते हैं.' 

टिप्पणियां
अपने पत्र में कंवल ने कहा है कि भारत जैसे विविधता वाले देश के विकास के लिए आपको उन लोगों की मदद की जरूरत है जो अलग दृष्टिकोण पेश करते हैं. अर्थशास्त्रियों और विश्वसनीय अकादमिक संस्थानों का मजाक उडाने से हम दुनिया में सिर्फ अलग-थलग ही पड़ेंगे. खुद को कड़ी मेहनत करने वाला एक राष्ट्रवादी बताते हुए छात्र ने कहा कि हम साक्ष्य के आधार पर सीखने की प्रवृत्ति में प्रशिक्षित हैं जो नीतियों को बनाने और प्रभावी रूप से लागू करने में मदद करता है ताकि नोटबंदी जैसी आपदाओं से निपटा जा सके.

उन्होंने कहा कि जब आप उत्तर प्रदेश में ये टिप्पणियां कर रहे थे तब पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान हमें हार्वर्ड में संबोधित कर रहे थे और उन्होंने यूनिवर्सिटी और छात्रों से विशेष रूप से कहा कि वे आपकी सरकार को सहयोग करें. कंवल ने यह दावा भी किया कि हार्वर्ड के पूर्व छात्र मोदी कैबिनेट में और पीएमओ में अहम पदों पर हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement