NDTV Khabar

'कबूलनामे' का इस्तेमाल कर महिला के साथ रेप और ब्लैकमेल करने के आरोप में 2 पादरियों का सरेंडर

34 साल की एक शादीशुदा महिला ने आरोप लगाया था कि पादरियों ने इंटरनेट पर वीडियो अपलोड करके उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'कबूलनामे' का इस्तेमाल कर महिला के साथ रेप और ब्लैकमेल करने के आरोप में 2 पादरियों का सरेंडर

दोनों ही पादरियों ने गिरफ्तारी से बचने के लिये सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी

खास बातें

  1. सुप्रीम कोर्ट में दी थी अग्रिम जमानत की याचिका
  2. कोर्ट ने दिया था सरेंडर का आदेश
  3. महिला के साथ रेप और ब्लैकमेलिंग का है आरोप
तिरुवनंतपुरम: केरल में दो पादरियों ने रेप और ब्लैकमेलिंग के मामले में स्थानीय अदालत में सरेंडर कर दिया है. दोनों ही पादरी मलंकारा आर्थोडाक्स सीरियन चर्च के हैं. इनके नाम फादर सोनी वर्गीज और फादर जेके जॉर्ज है. हाईकोर्ट में याचिका रद्द होने के बाद दोनों ने सुप्रीम कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका भी दी थी. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने स्थानीय अदालत में सरेंडर करने का आदेश दिया.

नन से रेप का मामला : पादरी ने केस वापस लेने के बदले कथित तौर पर जमीन, मकान और सुरक्षा की पेशकश की

पादरी ने रिश्वत मांगी, सात लाख रुपये के चेक के साथ गिरफ्तार

इसके बाद आरोपी पादरियों ने थिरवाला अदालत में आज सरेंडर कर दिया. 34 साल की एक शादीशुदा महिला ने आरोप लगाया था कि पादरियों ने इंटरनेट पर वीडियो अपलोड करके उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया. आपको बता दें कि चर्च के चार पादरियों पर आरोप है कि इन लोगों ने महिला के 'कबूलनामे' का इस्तेमाल कर उसको ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया था.

टिप्पणियां
रांची में मिशनरीज ऑफ चैरिटी के केंद्र पर सवाल

इससे पहले 19 जुलाई को फादर सोनी वर्गीज और फादर जेके जॉर्ज की गिरफ्तारी पर सुप्रीम कोर्ट ने अग्रिम जमानत याचिका पर फैसला होने तक रोक लगा दी थी.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement