NDTV Khabar

कृषि के लिए 24 घंटे फ्री बिजली देने वाला देश का पहला राज्य बना तेलंगाना

नए साल के तोहफे के तौर पर तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार ने आधी रात से 23 लाख पंप सेटों के लिए चौबीसो घंटे मुफ्त बिजली की आपूर्ति शुरू कर दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कृषि के लिए 24 घंटे फ्री बिजली देने वाला देश का पहला राज्य बना तेलंगाना

प्रतीकात्मक तस्वीर

हैदराबाद: तेलंगाना देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने कृषि क्षेत्र के लिए 24-घंटे मुफ्त बिजली की आपूर्ति शुरू की है. यह योजना सोमवार को लागू हो गई है. नए साल के तोहफे के तौर पर तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) सरकार ने आधी रात से 23 लाख पंप सेटों के लिए चौबीसो घंटे मुफ्त बिजली की आपूर्ति शुरू कर दी है.

सरकार को उम्मीद है कि इस कदम से किसानों की निराशा समाप्त होगी तथा 'स्वर्णिम तेलंगाना' को प्राप्त करने के लिए विकास को गति मिलेगी.

यह भी पढ़ें - हैदराबाद : अस्पताल के मुर्दाघर में महिला की लाश को चूहों ने कुतरा, जांच के आदेश

देश के सबसे युवा राज्य को 2014 में गठन के बाद बिजली की गंभीर समस्या का सामना करना पड़ा था. लेकिन इसने कुछ ही महीनों के भीतर स्थिति को बदल दिया और सभी क्षेत्रों की बिजली की कटौती बीते जमाने की बात हो गई. इसके अलावा राज्य ने किसानों के लिए रोजाना 9 घंटे बिजली की आपूर्ति करने में सफलता पाई और अब अपनी क्षमता बढ़ाकर चौबीसो घंटे बिजली की आपूर्ति कर रहा है. 

यह भी पढ़ें - तेलंगाना में वायुसेना का प्रशिक्षण विमान दुर्घटनाग्रस्त, महिला पायलट सुरक्षित

टिप्पणियां
मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने चौबीसो घंटे बिजली की आपूर्ति को एक 'अद्भुत जीत' करार दिया है। उन्होंने बिजली विभाग के कर्मचारियों की सराहना करते हुए विशेष वेतन वृद्धि की है. राज्य के अधिकारियों का कहना है कि कृषि क्षेत्र को चौबीसों घंटे बिजली की आपूर्ति करने से अधिकतम मांग 9,500 मेगावॉट तक पहुंच जाएगी. लेकिन उन्हें भरोसा है कि मार्च तक वे 11,000 मेगावॉट तक की मांग को पूरा करने में सक्षम होंगे. 

VIDEO: आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में बेहाल स्वास्थ्य सेवा (इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement