AAP सांसद संजय सिंह ने दिल्ली पुलिस प्रमुख से बात की, लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने को कहा

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने रविवार को कहा कि उन्होंने राजधानी में हिंसा की ताजा अफवाहों को लेकर दिल्ली के पुलिस प्रमुख एसएन श्रीवास्तव से बात की और उन्होंने आश्वास्त किया कि स्थिति नियंत्रण में है.

AAP सांसद संजय सिंह ने दिल्ली पुलिस प्रमुख से बात की, लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने को कहा

AAP सांसद संजय सिंह ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की.

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने रविवार को कहा कि उन्होंने राजधानी में हिंसा की ताजा अफवाहों को लेकर दिल्ली के पुलिस प्रमुख एसएन श्रीवास्तव से बात की और उन्होंने आश्वास्त किया कि स्थिति नियंत्रण में है. 'आप' सांसद ने एक ट्वीट में लोगों से अनुरोध किया कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें. उन्होंने ट्वीट किया, 'दिल्ली में कुछ स्थानो पर हिंसा की अफ़वाह फैलाई जा रही है. इस संबंध में दिल्ली के पुलिस आयुक्त से मेरी बात हुई, उन्होंने स्पष्ट किया स्थिति पूरी तरह सामान्य है. कृपया किसी प्रकार की 'अफ़वाह' पर ध्यान न दें.'
 


पश्चिमी दिल्ली के कुछ इलाकों में रविवार शाम हिंसा की अफवाह के कारण अफरा-तफरी मच गई, लेकिन दिल्ली पुलिस ने किसी भी घटना से इनकार किया और लोगों से शांत रहने की अपील की. पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) दीपक पुरोहित ने कहा, 'एक अफवाह फैल रही है कि पश्चिम जिले के ख्याला-रघुवीर नगर इलाके में कुछ तनाव है. इसके पीछे कोई सच्चाई नहीं है. सभी से शांति बनाए रखने का अनुरोध है क्योंकि स्थिति पूरी तरह सामान्य और शांतिपूर्ण है.' उन्होंने कहा, 'तिलक नगर और ख्याला इलाके में कुछ सांप्रदायिक तनाव की अफवाह है. यह बताया जा रहा है कि तिलक नगर, ख्याला और पूरे पश्चिमी दिल्ली इलाके में कोई तनाव नहीं है. चिंता की कोई बात नहीं है.'

दिल्ली के कई इलाकों से हिंसा की खबरें, पुलिस ने कहा- अफवाहों पर न दें ध्यान- हालात बिल्कुल सामान्य

पुलिस ने यह भी कहा कि 'दक्षिण पूर्व और पश्चिमी जिले में तनावपूर्ण स्थिति की कुछ निराधार खबरें सोशल मीडिया पर प्रसारित की जा रही हैं. यह स्पष्ट किया जाता है कि यह अफवाहें हैं. ऐसी अफवाहों पर ध्यान न दें. अफवाह फैलाने वाले अकाउंट पर दिल्ली पुलिस करीबी नजर रख रही है और कार्रवाई कर रही है.' उन्होंने यह भी कहा कि द्वारका और बदरपुर इलाके में हिंसा के बारे में चल रही अफवाहें भी निराधार हैं.

Delhi Violence: 60 वर्षीय महिला ने बताया कैसे बची आगजनी से, पहली मंजिल से कूदे बच्‍चे

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने कहा कि उसने सात मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद किये थे लेकिन कोई कारण नहीं बताया था. बाद में स्टेशनों को खोल दिया गया.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com