आंध्र प्रदेश: चार चरणों में होंगे निकाय चुनाव, 21 मार्च को पहले चरण की वोटिंग

अदालत ने सरकार को आरक्षण वापस लेने और कोटे को उच्चतम न्यायालय के आदेशों के अनुसार 50 प्रतिशत तक सीमित करने का निर्देश दिया था.

आंध्र प्रदेश: चार चरणों में होंगे निकाय चुनाव, 21 मार्च को पहले चरण की वोटिंग

खास बातें

  • आंध्र प्रदेश में ग्रामीण तथा शहरी निकाय चुनाव चार चरणों में होंगे
  • पहले चरण के लिये 21 मार्च को मतदान होगा
  • राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने जारी किया चुनाव कार्यक्रम
अमरावती :

आंध्र प्रदेश में ग्रामीण तथा शहरी निकाय चुनाव चार चरणों में होंगे. पहले चरण के लिये 21 मार्च को मतदान होगा. राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी चुनाव कार्यक्रम के अनुसार पहले चरण के लिये 21 मार्च, दूसरे चरण के लिये 23 मार्च, तीसरे चरण के लिये 27 मार्च और चौथे चरण के लिये 29 मार्च को मतदान होगा. स्थानीय निकायों का पांच वर्ष का कार्यकाल पिछले साल जुलाई में पूरा हो गया था लेकिन सीटों के आरक्षण का काम पूरा नहीं होने के चलते चुनाव में देरी हुई है. सरकार ने सभी निकाय चुनावों में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्गों को 59.85 प्रतिशत आरक्षण देने का आदेश दिया था, जिसे उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया.

अदालत ने सरकार को आरक्षण वापस लेने और कोटे को उच्चतम न्यायालय के आदेशों के अनुसार 50 प्रतिशत तक सीमित करने का निर्देश दिया था. इसके बाद राज्य सरकार ने नये आरक्षण को अधिसूचित करते हुए चुनाव का रास्ता साफ कर दिया. नये कोटे के अनुसार, अनुसूचित जातियों को 6.77 प्रतिशत, अनुसूचित जनजातियों को 19.08 प्रतिशत और पिछड़े वर्गों को 24.15 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा. इससे पहले पिछड़े वर्गों के लिये 34 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान था.

वीडियो: आंध्र प्रदेश में NRC लागू नहीं करेंगे जगन मोहन रेड्डी    



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com