NDTV Khabar

कांग्रेस के आईटी सेल संयोजक राम्या के खिलाफ बीजेपी ने मामला दर्ज करवाया

दरअसल एक मिनट 34 सेकंड का एक वीडियो सामने आया है. इसमें राम्या एक सवाल के जवाब में पार्टी के नेताओं को कहती सुनी जा रही हैं कि 'आजकल आपको 3 अकाउंट बनाने चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस के आईटी सेल संयोजक राम्या के खिलाफ बीजेपी ने मामला दर्ज करवाया

बीजेपी ने कांग्रेस की सोशल मीडिया सेल संयोजक दिव्या स्पंदना के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है.

बेंगलुरु:

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुरेश कुमार ने बेंगलुरु के पुलिस कमिशनर सुनील कुमार से मिलकर कांग्रेस की सोशल मीडिया सेल की संयोजक दिव्या स्पंदना उर्फ राम्या के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है. कर्नाटक बीजीपी की सह प्रवक्ता मालिक अविनाश ने बताया, 'वीडियों में दिव्या स्पंदना पार्टी के लोगो को एक से ज्यादा एकाउंट खोलने के लिए कहती सुनी जा रही हैं. यह गलत है. वह लोगों को गलत काम के लिए कह रही हैं. फर्जी एकाउंट खोलना आईटी एक्ट का उलंघन है.' पुलिस कमिश्नर ने मामले की जांच साइबर क्राइम को सौंप दिया है.

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी की खास हैं नरेंद्र मोदी पर विवादित बयान देने वाली ये लड़की, जानिए कौन हैं

दरअसल एक मिनट 34 सेकंड का एक वीडियो सामने आया है. इसमें राम्या एक सवाल के जवाब में पार्टी के नेताओं को कहती सुनी जा रही हैं कि 'आजकल आपको 3 अकाउंट बनाने चाहिए. एक आप अपने नाम से बनाइये. एक किसी और के नाम से और एक श्रीवत्सन (जिस व्यक्ति ने सवाल पूछा) के नाम से बना लीजिए. 


यह भी पढ़ें : पाकिस्तान की तारीफ करने पर देशद्रोह का केस झेल रही अभिनेत्री रम्या ने कहा, माफी नहीं मांगूंगी

वीडियो में बैकग्राउंड से आवाज आई, हमें भी फेक अकाउंट बना लेना चाहिए क्या? राम्या ने कहा, देखिये इसमें फर्क है. फेक अकाउंट एक रोबोट या फिर मैं ये कहूं कि एक मशीन की तरह है. अगर एक व्यक्ति का 3-4 अकाउंट हो तो उसमें कुछ गलत नहीं है.' ट्वीट किए गए इस वीडियो के सामने आने के बाद राम्या ने अपने ट्वीट में लिखा कि यह एडिट किया हुआ वीडियो है. मैं उस दिन विधानसभा के सोशल मीडिया कोऑर्डिनेटर्स से मुखातिब थी. मैंने कभी भी किसी को फ़र्ज़ी एकाउंट खोलने की सलाह नहीं दी.

टिप्पणियां

VIDEO : क्या रम्या के खिलाफ देशद्रोह का केस सही है?

इस बैठक में मौजूद विधान परिषद के सदस्य रिज़वान अरशद ने कहा कि उस दिन बात बीजेपी के फर्जी एकाउंट्स की चल रही थी. बात यह हो रही थी कि किस तरह वह लोग ये सब करते हैं. बीजेपी को चाहिए कि एक ऑडिट करवाये की उसने कितने मैसेज सोशल मीडिया पर चलाया और कांग्रेस ने कितना और इसका कितना असर समाज पर हुआ. इस विवादास्पद वीडियो के आखिर में राम्या (बीजेपी के आरोपो के मुताबिक) कहते सुनी जा रही है कि अगर हर एसेम्बली के हर बूथ से एक व्यक्ति को आइडेंटीफाई करके व्हाट्सएप ग्रुप बना लें तो दिल्ली से 1 मिनट के अंदर हम मंड्या के किसी बूथ (नं 180) तक रीच हो सकते हैं.' 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement