तमिलनाडु के पंचायत चुनावों में द्रमुक ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक पर बनाई बढ़त

तमिलनाडु के 27 जिलों में पंचायत चुनावों में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन मतपत्रों की गिनती जारी है.

तमिलनाडु के पंचायत चुनावों में द्रमुक ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक पर बनाई बढ़त

प्रतीकात्मक चित्र.

चेन्नई:

तमिलनाडु के 27 जिलों में पंचायत चुनावों में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन मतपत्रों की गिनती जारी है. अभी तक के नतीजों के अनुसार द्रमुक और उसके सहयोगी दलों ने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक पर स्पष्ट बढ़त बना ली है. राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा अब तक आधिकारिक रूप से घोषित किए गए परिणामों के अनुसार ग्राम पंचायत के कुल 5090 वार्ड सदस्य पदों में से सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और उसके सहयोगियों ने 1,528 पर जीत हासिल की है जबकि उसके प्रतिद्वंद्वी द्रमुक और सहयोगी दलों ने 1,895 पदों पर जीत हासिल की हैं. विजयी उम्मीदवारों में अन्नाद्रमुक के 1386, भाजपा के 53 और डीएमडीके के 89 उम्मीदवार हैं, जबकि द्रमुक की जीत में इसके 1715, कांग्रेस के 96, माकपा के 24 और भाकपा के 60 उम्मीदवार शामिल है. शेष सीटों के परिणाम प्रतीक्षित हैं.

कुल 515 जिला पंचायत वार्ड सदस्य पदों में से अन्नाद्रमुक गठबंधन ने 114 सीटों (अन्नाद्रमुक 107, भाजपा 5 और डीएमडीके 2) पर जीत हासिल की है, जबकि द्रमुक गठबंधन 157 सीटों पर (द्रमुक 141, कांग्रेस आठ, भाकपा सात, और माकपा एक) पर जीत हासिल कर आगे चल रहा है. अन्नाद्रमुक के कुछ पदाधिकारियों का मानना है कि संशोधित नागरिकता अधिनियम के पारित होने के बाद हुए विरोध प्रदर्शन उनकी पार्टी के लिए नुकसानदेह साबित हुए हैं क्योंकि पार्टी ने संसद में सीएए का समर्थन किया था. पार्टी का मानना है कि खासकर अल्पसंख्यकों के वर्चस्व वाले क्षेत्रों में उसे मतदाताओं की नाराजगी का सामना करना पड़ा. अन्नाद्रमुक प्रमुख (समन्वयक शीर्ष पद है) और उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने कहा कि उनकी पार्टी जनता के फैसले को मानेगी. तमिलनाडु में हाल ही बने पांच जिलों समेत कुल 37 जिले हैं, और उनमें से 27 जिलों में पंचायत चुनाव हुए हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com