केरल के सबरीमाला मंदिर के कपाट आज बंद कर दिए जाएंगे, पुलिस ने मीडिया को दूर रहने के लिए कहा

पिछले चार दिन के दौरान सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने 10-50 वर्ष आयुवर्ग की नौ महिलाओं को मंदिर में प्रवेश करने से रोका.

केरल के सबरीमाला मंदिर के कपाट आज बंद कर दिए जाएंगे, पुलिस ने मीडिया को दूर रहने के लिए कहा

सबरीमाला मंदिर के कपाट आज बंद कर हो जाएंगे

नई दिल्ली:

केरल का सबरीमाला मंदिर  के कपाट पांच दिन की पूजा के बाद सोमवार रात 10 बजे बंद कर दिए जाएंगे. मंदिर के कपाट 18 अक्टूबर को खोले गए थे, और सुप्रीम कोर्ट द्वारा सभी आयु की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति दिए जाने के बाद मंदिर के कपाट खोले जाने का यह पहला अवसर था. पिछले चार दिन के दौरान सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने 10-50 वर्ष आयुवर्ग की नौ महिलाओं को मंदिर में प्रवेश करने से रोका. रविवार को 47-वर्षीय एक महिला घबराहट का शिकार हो गई थी, जब प्रदर्शनकारियों ने मंदिर के प्रवेश द्वार पर उन्हें घेर लिया. पाम्बा से रिपोर्टिंग कर रहे पत्रकारों को भी पुलिस ने इलाके से दूर चले जाने के लिए कहा है, क्योंकि उनके पास मौजूद सूचनाओं के मुताबिक, मीडिया को हमलों का निशाना बनाया जा सकता है. मंदिर प्रशासन ने सरकार को लिखा है कि यदि कोई परम्परा तोड़ी गई, तो वे मंदिर में ताला लगा देंगे, और सभी रस्मों को रोक देंगे. मंदिर प्रशासन के अनुसार, अब चिंताजनक बात यह है कि मंदिर के भीतर 1,000 से भी ज़्यादा पुरुष कैम्प किए बैठे हैं, जो 50 वर्ष से कम आयु की महिलाओं को प्रवेश से रोकने के लिए कानून को अपने हाथ में ले सकते हैं. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने इन आरोपों का खंडन किया है कि विरोध प्रदर्शनों को तेज़ करने के लिए उसने अपने कार्यकर्ताओं को मंदिर में तैनात किया है.

सबरीमाला मंदिर की चढ़ाई करने वालीं रेहाना के घर पहुंचे प्रदर्शनकारी, की तोड़फोड़

पार्टी ने केंद्र सरकार से दखल देने का आग्रह करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र आहूत करने की मांग की है, जबकि कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश को टालने के लिए केंद्र सरकार से अध्यादेश लाए जाने की मांग की है. दोनों पार्टियों का आरोप है कि राज्य में सत्तासीन CPM-नीत सरकार मंदिर की पवित्रता को नष्ट करने की चेष्टा कर रही है. BJP की प्रदेश इकाई ने रविवार को फैसला किया कि राज्यभर में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरुद्ध प्रदर्शन किए जाएंगे. प्रदेश BJP के महासचिव के. सुरेंद्रन ने बताया, "पूरे माह का सबरीमाला अय्यप्पा संरक्षणाय अभियान चलाया जाएगा... BJP कार्यकर्ता घर-घर जाकर मंदिर की पवित्रता को अक्षुण्ण बनाए रखने की महत्ता के बारे में समझाएंगे..."

सबरीमाला मंदिर पर चढ़ाई करने वाली रेहाना के घर तोड़फोड़​

 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com