33 घंटे के लॉकडाउन पर बेंगलुरु पुलिस प्रमुख ने कहा, ''आसमान नहीं टूट पड़ेगा''

वैसे तो बेंगलुरु में रविवार को पहले भी लॉकडाउन हो चुका है लेकिन इस बार यह अधिक सख्ती से लागू है. 

33 घंटे के लॉकडाउन पर बेंगलुरु पुलिस प्रमुख ने कहा, ''आसमान नहीं टूट पड़ेगा''

कर्नाटक ने शनिवार को COVID-19 के एक दिन में सबसे अधिक 1,839 नए मामले सामने आए (फोटो- ani)

बेंगलुरु:

बेंगलुरु में लगातार बढ़ते कोरोनावायरस के मामलों को देखते हुए प्रशासन ने 33 घंटे के लॉकडाउन का ऐलान किया है. यह लॉकडाउन शनिवार रात 8 बजे शुरू हो चुका है और यह सोमवार सुबह 5 बजे तक चलेगा. इससे पहले कर्नाटक में संडे लॉकडाउन की घोषणी भी की गई है, जो कि आज से शुरू हो गया है. वैसे तो बेंगलुरु में रविवार को पहले भी लॉकडाउन हो चुका है लेकिन इस बार यह अधिक सख्ती से लागू है. बेंगलुरु के पुलिस कमिशनर भास्कर राव ने टवीट किया, 'बेंगलुरु सिटी में लॉकडाउन रात 8 बजे से शुरू हो चुका है यह सोमवार सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा. सम्मानित नागरिकों, बस आप घर पर रहें और छूट के बारे में ना पूछें, क्योंकि यह सब आप सभी के हित के लिए किया गया है. अगर आप किसी काम को एक दिन के लिए स्थगित कर देते हैं तो कोई आसमान नहीं टूट पड़ेगा. कृपया आत्म-अनुशासन का अभ्यास करें और सहयोग करें. हैप्पी संडे.  '

अधिकारियों ने बताया कि सोमवार से रात्रि कर्फ्यू रात 9 बजे की जगह रात 8 बजे से शुरू होगा, जबकि पूरे राज्य में इसके समाप्त होने का समय सुबह 5 बजे का ही होगा. सभी सरकारी दफ्तर सप्ताह में पांच दिन खुलेंगे, शनिवार को छुट्टी रहेगी. 

शनिवार को कर्नाटक में एक दिन में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए. शनिवार को राज्य में 1839 मामले सामने आए वहीं राज्य में 42 कोरोना से संबंधित मौते हुईं. इनमें से बेंगलुरु शहर में ही पिछले 24 घंटे में कुल 1172 मामले सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में कोविड-19 संक्रमण के कुल 21549 मामले सामने आ चुके हैं.

राज्य सरकार ने अधिकारियों से कहा कि COVID-19 रोगियों के अस्पताल में भर्ती होने के लिए एक केंद्रीकृत बिस्तर आवंटन प्रणाली हो. मरीजों को ले जाने के लिए एम्बुलेंस की संख्या बढ़ाकर 250 की जाएगी; कोरोनावायरस पीड़ितों के शवों को ले जाने के लिए अलग से एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाएगी.

आठ क्षेत्रों के संयुक्त आयुक्तों को अतिरिक्त जिम्मेदारियां दी जाएगी और कर्नाटक प्रशासनिक सेवा या केएएस अधिकारी
और कर्नाटक प्रशासनिक सेवा या केएएस अधिकारी कमिशनर और बीबीएमपी केंद्रीय कार्यालय से बोझ उठाने में उनकी मदद करेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: बेंगलुरु में 33 घंटे का लॉकडाउन