NDTV Khabar

सिद्धारमैया ने NDTV से कहा, कर्नाटक में PM मोदी और शाह बिल्कुल भी लोकप्रिय नहीं

सीएम सिद्धारमैया ने कहा, “राज्य में अमित शाह का चुनाव प्रचार एक कॉमेडी शो जैसा है, क्योंकि कोई भी उन्हें गंभीरती से नहीं लेता."

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सिद्धारमैया ने NDTV से कहा, कर्नाटक में PM मोदी और शाह बिल्कुल भी लोकप्रिय नहीं

एनडीटीवी से बात करते हुए सिद्धारमैया

खास बातें

  1. 'कर्नाटक में PM मोदी और शाह बिल्कुल भी लोकप्रिय नहीं हैं'
  2. 'अमित शाह का चुनाव प्रचार एक कॉमेडी शो जैसा है'
  3. सीएम सिद्धारमैया ने एनडीटीवी से यह बातें कही
बेंगलुरु:

कर्नाटक चुनाव को मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पीएम मोदी के बीच एक प्रतियोगिता के रूप में देखा जा रहा है. सिद्धारमैया जहां राज्य में दूसरी बार सत्ता में आने की उम्मीद कर रहे हैं, तो वहीं पीएम मोदी राज्य में बीजेपी के आक्रामक चुनाव प्रचार अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं. एनडीटीवी को दिए एक विशेष साक्षात्कार में सिद्धारमैया ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में लोकप्रिय व्यक्ति नहीं हैं  और उनके असली प्रतिद्वंद्वी बीजेपी उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा हैं. राज्य में पीएम मोदी की लोकप्रियता के बारे में पूछे जाने पर सिद्धारमैया ने एनडीटीवी के प्रणय रॉय से कहा, "नहीं, नहीं, वह बिल्कुल भी लोकप्रिय नहीं हैं. उनकी लोकप्रियता में काफी गिरावट आई है."

यह भी पढ़ें: कर्नाटक चुनाव : सिद्धारमैया ने पीएम मोदी और अमित शाह को मानहानि का नोटिस भेजा


अमित शाह की लोकप्रियता के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह भी उसी नाव में हैं, जिसमें पीएम मोदी हैं. सीएम सिद्धारमैया ने कहा, “राज्य में अमित शाह का चुनाव प्रचार एक कॉमेडी शो जैसा है, क्योंकि कोई भी उन्हें गंभीरती से नहीं लेता. वो मतदाताओं पर कोई प्रभाव नहीं डाल सकते. जब मोदी लोकप्रिय नहीं हैं, तो शाह यहां कैसे लोकप्रिय हो सकते हैं?"
शनिवार के चुनाव के अभियान के आखिरी चरण में, पीएम मोदी ने रैलियों की विस्तृत सूची तैयार की है. लगभग इन रैलियों की संख्या 20 है, जो पूरे राज्य को कवर करेगा. अब तक हर रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि राज्य में बीजेपी के लिए समर्थन एक लहर की तुलना में "सुनामी" की तरह है.

यह भी पढ़ें: कर्नाटक चुनाव : राहुल गांधी ने साइकिल चलाकर तेल की बढ़ती कीमतों का विरोध किया, बैलगाड़ी भी चढ़े

टिप्पणियां

पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने राज्य को बड़े पैमाने पर दौरा किया है. बीजेपी ने उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित अपने वरिष्ठ नेताओं को राज्य में फिर से सत्ता हासिल के लिए प्रचार में शामिल किया है.  दक्षिण में कर्नाटक एकमात्र ऐसा राज्य, जहां बीजेपी सत्ता में रह चुकी है. अगर कर्नाटक में बीजेपी को जीत मिलती है तो यह जीत राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को सकारात्मक ऊर्जा देगी. इसके साथ-साथ अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी को दक्षिण में एक मजबूत आधार प्रदान करेगी.

VIDEO: भ्रष्टाचार को लेकर पूछे गए सवाल पर बीएस येदियुरप्पा ने खोया आपा
बीजेपी ने येदियुरप्पा को चुनाव से बहुत पहले मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में पेश कर दिया था. येदियुरप्पा, जिन्होंने राज्य में सल 2008 में बीजेपी की जीत में अहम भूमिका अदा की थी. येदियुरप्पा और सिद्धारमैया दोनों राज्य के काफी अनुभवी नेता हैं. वहीं, कर्नाटक में कांग्रेस के लिए जीत बहुत मायने रखती है. अगले साल होने वाले लोकसभी चुनावों से पहले कांग्रेस यहां फिर से जीत का परचम लहराती है तो अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों में मजबूती से कदम बढ़ाएगी. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement